चीन ने आर्थिक भूमंडलीकरण को आगे बढ़ाने की बात को दोहराया
2017-03-16 10:56:51 cri

चिली के स्थानीय समय के अनुसार 15 मार्च को एशिया-प्रशांत क्षेत्रीय आर्थिक एकीकरण से जुड़ा एक उच्च स्तरीय वार्तालाप सम्मेलन समुद्र तटीय शहर विना देल मार में संपन्न हुआ। लैटिन अमेरिका मामले पर चीनी विशेष प्रतिनिधि यिन हंगमिन ने सम्मेलन में भाषण देते हुए कहा कि चीन वैश्विक आर्थिक विकास के इंजन का उत्तरदायित्व उठाते हुए क्षेत्रीय आर्थिक एकीकरण को दृढ़ता के साथ आगे बढ़ाने को तैयार है। इसके साथ ही चीन खुले, अंतर्संबिधित और समावेशी के विकास रास्ते पर डटा रहेगा, ताकि सहयोग और समान जीत को यथार्थ रूप प्रदान कर सके।

यिन हंगमिन ने कहा कि वर्तमान समय में विश्व आर्थिक उत्थान कमज़ोर हालत में है। वैश्किव वृद्धि की उर्जित शक्ति का अभाव है। संरक्षणवाद और भूमंडलीकरण विरोधी विचारधारा उभरती जा रही है। वैश्विक व्यापारिक वृद्धि दर लगातार 5 सालों में वैश्विक आर्थिक वृद्धि दर से कम हुई है। लेकिन एशिया और प्रशांत विश्व में सबसे उर्जित शक्ति और वृद्धि की निहित शक्ति भरे हुए क्षेत्रों में से एक है। सारी दुनिया की नज़र इस समय एशिया प्रशांत क्षेत्र पर टिकी हुई है। अपेक्षा है कि एशिया और प्रशांत विश्व में नए चरण की वृद्धि का नेतृत्व करेंगे। नई स्थिति और नई चुनौतियों के मुकाबले में क्षेत्रीय आर्थिक सहयोग को आगे बढ़ाने के लिए चीन ने चार सूत्रीय प्रस्ताव भी पेश किए।

पहला, आर्थिक भूमंडलीकरण प्रक्रिया को दृढ़ समर्थन दिया जाए। दूसरा, किसी भी तरह के संरक्षणवाद का विरोध किया जाए। तीसरा, एशिया-प्रशांत मुक्त व्यापार प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जाए और चौथा, क्षेत्रीय आपसी संपर्क की उन्नति पर जोर दिया जाए।

यिन हंगमिन ने बल देते हुए कहा कि चीन"एक पट्टी एक मार्ग"के निर्माण को आगे बढ़ाने में अपनी सक्रिय भूमिका निभाता रहेगा। क्षेत्रीय साझेदारों के बीच समान सलाह मश्विरे, समान निर्माण और समान उपभोग के माध्यम से आपसी संपर्क की मज़बूती के लिए योगदान करने को तैयार है। आगामी मई माह में पेइचिंग में"एक पट्टी एक मार्ग"अंतरराष्ट्रीय सहयोग शिखर मंच आयोजित होगा, चीन इससे लाभ उठाते हुए विभिन्न पक्षों के साथ नीतिगत संपर्क, मार्गों की सुविधा, व्यापारिक बेरोकटोक, मौद्रिक संचलन और जनता के बीच आपसी समझ को लगातार आगे बढ़ना चाहता है, ताकि आपस में विकास की रणनीति को जोड़कर आपसी लाभ वाले सहयोग को और बढ़ाया जा सके और क्षेत्रीय आर्थिक विकास और जन जीवन में सुधार के लिए जबरदस्त उर्जित शक्ति का संचार किया जाए।

(श्याओ थांग)