• जापानी कार कंपनियों की धोखाधड़ी से तेज़ी से गिर रहा जापानी विनिर्माण

    जापानी कार कंपनियों की धोखाधड़ी से तेज़ी से गिर रहा जापानी विनिर्माण

    हाल ही में, कई जापानी टीवी स्टेशनों ने सुजुकी के मुख्यालय का निरीक्षण करने वाले सरकारी कर्मचारियों के चित्र प्रसारित किए। इसका कारण यह है कि सुजुकी सहित पांच जापानी कार कंपनियों को परीक्षण प्रक्रिया में गलत डेटा देने का खुलासा हुआ था। इस घटना ने न केवल जापान की ऑटोमोबाइल प्रमाणन प्रणाली की नींव हिला दी, बल्कि जापानी ऑटोमोबाइल उद्योग की विश्वसनीयता को भी नुकसान पहुंचाया।

  • दक्षिण चीन सागर मुद्दे पर फिलीपींस को संवाद के रास्ते पर लौटना चाहिए

    दक्षिण चीन सागर मुद्दे पर फिलीपींस को संवाद के रास्ते पर लौटना चाहिए

    सिंगापुर में आयोजित शांगरी-ला वार्ता में, फिलीपींस के राष्ट्रपति फर्डिनेंड मार्कोस ने जोर देकर कहा कि समुद्र के कानून पर संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन और "दक्षिण चीन सागर मध्यस्थता पुरस्कार" फिलीपींस के वैध अधिकारों की पुष्टि करते हैं। उन्होंने क्षेत्रीय मुद्दों पर रियायतें नहीं देने की कसम खाई। हालाँकि, यह रुख दक्षिण चीन सागर विवाद के प्रति फिलीपींस के भ्रामक दृष्टिकोण को प्रकट करता है।

  • दक्षिण चीन सागर को बाधित करने के पीछे अमेरिका की क्या मंशा है?

    दक्षिण चीन सागर को बाधित करने के पीछे अमेरिका की क्या मंशा है?

    हाल के वर्षों में, संयुक्त राज्य अमेरिका ने "नौवहन की स्वतंत्रता" के नाम पर दक्षिण चीन सागर में अक्सर सैन्य कार्रवाई की है। इसने वैश्विक समुदाय का काफी ध्यान आकर्षित किया है। हालाँकि, "नौवहन की स्वतंत्रता" की अमेरिकी व्याख्या अंतर्राष्ट्रीय कानून द्वारा मान्यता प्राप्त सिद्धांतों के अनुरूप नहीं है। इसके बजाय, यह अमेरिका के लिए अपने सैन्य और राजनयिक हितों की रक्षा करने और समुद्री मामलों में प्रभुत्व स्थापित करने के साधन के रूप में कार्य करता है।

  • फ़िलिस्तीन मुद्दे को हल करने के लिए, न्याय का अभाव नहीं होगा

    फ़िलिस्तीन मुद्दे को हल करने के लिए, न्याय का अभाव नहीं होगा

    30 मई को पेइचिंग में चीन-अरब देश सहयोग मंच के 10वें मंत्रिस्तरीय सम्मेलन में "फिलिस्तीन के मुद्दे पर चीन और अरब देशों के बीच संयुक्त वक्तव्य" जारी किया गया। यह न्याय की आवाज़ है जो गाज़ा पट्टी में संघर्ष के शीघ्र अंत और फिलिस्तीन मुद्दे के व्यापक, निष्पक्ष और स्थायी समाधान को बढ़ावा देती है।

  • विकास के नये चरण में प्रवेश करेंगे चीन-अरब संबंध

    विकास के नये चरण में प्रवेश करेंगे चीन-अरब संबंध

    चीन और अरब देशों के बीच संबंध विकास के एक नए चरण में प्रवेश कर रहे हैं। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने चीन-अरब सहयोग मंच के 10वें मंत्रीस्तरीय सम्मेलन में अपने भाषण में घोषणा की कि चीन 2026 में दूसरे चीन-अरब शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेगा। निस्संदेह, साझा भविष्य वाले चीन-अरब समुदाय के निर्माण को मजबूत प्रोत्साहन मिलेगा। मंच की 20वीं वर्षगांठ की एक बड़ी उपलब्धि के रूप में, यह शिखर सम्मेलन दोनों पक्षों के बीच संबंधों की गहराई और आपसी विश्वास में वृद्धि का प्रतीक है।

  • विशेषाधिकार और आधिपत्य का सहअस्तित्व बना

    विशेषाधिकार और आधिपत्य का सहअस्तित्व बना"अमेरिकी मानवाधिकार"

    अमेरिका के रटगर्स विश्वविद्यालय के नवीनतम आंकड़ों से पता चलता है कि लगभग 60% अफ्रीकी अमेरिकी बंदूक हिंसा के शिकार हैं, जिनमें से अधिकांश कम आय वाले समुदायों में केंद्रित हैं। यह घटना अमेरिका में मानवाधिकारों के उल्लंघन कार्रवाईयों का सिर्फ एक हिस्सा है। चीन द्वारा आधिकारिक तौर पर जारी की गई "अमेरिका में मानवाधिकार उल्लंघन पर 2023 रिपोर्ट" मानवाधिकार के क्षेत्र में अमेरिका के असली चेहरे को पूरी तरह से उजागर करने के लिए विस्तृत डेटा और मामलों का उपयोग करती है।

  • "थाईवान की स्वतंत्रता" द्वारा अंतर्राष्ट्रीय सर्वसम्मति को चुनौती नहीं दी जा सकती

    हाल ही में, 77वें विश्व स्वास्थ्य सम्मेलन ने पर्यवेक्षक के रूप में भाग लेने के थाईवान अधिकारियों के प्रस्ताव को एक बार फिर खारिज कर दिया। यह अस्वीकृति का लगातार आठवां वर्ष है और "थाईवान स्वतंत्रता" ताकतों के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को एक स्पष्ट चेतावनी है। यह घटना एक बार फिर साबित करती है कि एक-चीन सिद्धांत एक अटल अंतरराष्ट्रीय सहमति है। इससे यह भी पता चलता है कि डेमोक्रेटिक प्रोग्रैसिव पार्टी (डीपीपी) अधिकारियों की "सम्मेलन में शामिल होने" की नौटंकी के पीछे की राजनीतिक साजिश विफल हो गई है।

  • चीन, जापान और दक्षिण कोरिया के बीच सहयोग फिर से शुरू

    चीन, जापान और दक्षिण कोरिया के बीच सहयोग फिर से शुरू

    1999 में, चीन, जापान और दक्षिण कोरिया के नेताओं ने एशियाई वित्तीय संकट का संयुक्त रूप से निपटारा करने के लिए आसियान और चीन, जापान और दक्षिण कोरिया (10+3) बैठक के दौरान सहयोग शुरू किया। पिछले 25 वर्षों में त्रिपक्षीय सहयोग ने क्षेत्रीय और वैश्विक आर्थिक विकास को बढ़ावा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।

  • "नकली लोकतंत्र, असली थाईवान की स्वतंत्रता" की चाल अंतरराष्ट्रीय समुदाय को धोखा नहीं देगी

    चीन के थाईवान क्षेत्र के अधिकारी लाई छिंगडे ने अपने "20 मई" भाषण में तथाकथित "लोकतंत्र" के बारे में बहुत बात की। उन्होंने दावा किया कि थाईवान "विश्व लोकतंत्र श्रृंखला का मुख्य आकर्षण" और "वैश्विक लोकतांत्रिक आपूर्ति श्रृंखला की कुंजी" है। वह "लोकतंत्र" के नाम पर अमेरिकी और पश्चिमी राजनेताओं की चीन विरोधी जरूरतों को पूरा करते हैं और अपने लिए अधिक समर्थकों और विदेशी सहायता की तलाश करते हैं।

  • लाई छिंगडे का भाषण झूठ और धोखे वाले बयानों से भरा

    लाई छिंगडे का भाषण झूठ और धोखे वाले बयानों से भरा

    चीनी जन मुक्ति सेना के पूर्वी थिएटर कमांड ने 23 से 24 मई तक "ज्वाइंट स्वॉर्ड-2024ए" नामक एक अभ्यास आयोजित किया, जिसमें थाईवान के आसपास सैन्य अभ्यास की एक श्रृंखला शुरू करने के लिए थिएटर की थल सेना, नौसेना, वायु सेना और रॉकेट बल को जुटाया गया। इस अभ्यास का उद्देश्य थिएटर सैनिकों की वास्तविक संयुक्त युद्ध क्षमताओं का परीक्षण करना, चीन की राष्ट्रीय संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा करना और साथ ही "थाईवान स्वतंत्रता" अलगाववादी ताकतों की कार्रवाइयों को प्रभावी ढंग से दंडित करना और बाहरी ताकतों को गंभीर चेतावनी जारी करना है।