आज के तिब्बत का सामना करते हुए कोई भी बाहरी अलगाववादी ताकतें परेशान नहीं कर सकती

2021-08-19 20:25:55

इस वर्ष तिब्बत की शांतिपूर्ण मुक्ति की 70वीं वर्षगांठ है। 19 अगस्त को तिब्बत स्वायत्त प्रदेश की राजधानी ल्हासा में आयोजित समारोह में तिब्बती लोगों के चेहरे पर मुस्कुराहट से पिछले 70 सालों में तिब्बत में आए जमीन-आसमान का परिवर्तन साफ झलक रहा था। 

70 साल पहले तिब्बत की शांतिपूर्ण मुक्ति, न केवल तिब्बत के इतिहास में एक युगांतकारी मोड़ है, बल्कि तिब्बती लोगों के लिए एक बेहतर जीवन प्राप्त करने का प्रारंभिक बिंदु भी है।

तिब्बत की शांतिपूर्ण मुक्ति ने साम्राज्यवादी ताकतों को पूरी तरह से निष्कासित कर दिया और राष्ट्रीय संप्रभुता और प्रदेशिक अखंडता की रक्षा की। तिब्बत में सभी जातियों के लोग चीन में अन्य जातीय समूहों के साथ राष्ट्रीय संप्रभुता और गरिमा का आनंद लेने लगे हैं। चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के नेतृत्व में तिब्बत ने लोकतांत्रिक सुधार किए, लाखों भूदासों को सामंती भूदास प्रणाली से मुक्त करवाया। तिब्बत स्वायत्त प्रदेश की स्थापना के बाद से लेकर अब तक विभिन्न जातियों के नागरिक अपने क्षेत्रीय मामलों का प्रबंधन करते हैं, उनके इस अधिकार को पूरी तरह से सुनिश्चतता दी जा रही है।

चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की 18वीं राष्ट्रीय कांग्रेस (नवम्बर 2012) के बाद से लेकर अब तक, तिब्बत ने विकास की सबसे अच्छी अवधि में प्रवेश किया है: औसत वार्षिक आर्थिक विकास दर देश में शीर्ष तीन में है। 2015 से 2020 तक तिब्बत में सभी निवासियों की आय वृद्धि दर लगातार 6 वर्षों तक देश में पहले स्थान पर है। 2020 में तिब्बत ने ऐतिहासिक रूप से पूर्ण गरीबी को समाप्त कर दिया है। अपने उच्च गुणवत्ता वाले पारिस्थितिक वातावरण से लाभ उठाकर तिब्बत एक विश्व पर्यटन स्थल बन गया है।

वर्तमान में तिब्बत विभिन्न जातियों के लोग सामंजस्यपूर्ण रूप से सह-अस्तित्व में रहते हैं। तिब्बत की संस्कृति संरक्षित और विकसित है। तिब्बती भाषाओं का व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है। थांगखा चित्र, तिब्बती ओपेरा और तिब्बती चिकित्सा जैसी लगभग 800 परियोजनाएं गैर-भौतिक सांस्कृतिक विरासत की सूची में शामिल हैं। साथ ही, तिब्बत में सभी जातियों के लोगों के धार्मिक विश्वास का सम्मान किया जाता है। तिब्बत में 1700 से अधिक मठों ने जल विद्युत, नेटवर्क और अन्य सुविधाओं का पूर्ण कवरेज हासिल किया है, जिससे तिब्बती बौद्ध धर्म के श्रद्धालुओं को बहुत सुविधा होती है।

अंतर्राष्ट्रीय समुदाय तिब्बत की विकास उपलब्धियों की निगाहों में है। अमेरिकी लेखक लारेंस जे. ब्राह्म के विचार में छिंगहाई-तिब्बत पठार पर विभिन्न जातियों की संस्कृतियां पूरी तरह से संरक्षित हैं और आपस में काफी सहिष्णु भी हैं। वहीं, पाकिस्तान के वकील मुहम्मद इकबाल ने तिब्बत की यात्रा की, उन्होंने कहा कि तिब्बत अब पहले जैसा नहीं रहा। सामाजिक अर्थव्यवस्था के स्थिर विकास ने तिब्बत के गरीबी उन्मूलन कार्य को और अधिक प्रभावी बना दिया है।

इस वर्ष चीन की 14वीं पंचवर्षीय योजना का प्रथम वर्ष है। तिब्बत भी विकास के एक नए शुरुआती बिंदु पर खड़ा है। यह उच्च गुणवत्ता वाले आर्थिक और सामाजिक विकास को गति दे रहा है और लोगों के लिए बेहतर जीवन का निर्माण कर रहा है। तिब्बत में दीर्घकालीन स्थिरता के सामने कोई भी बाहरी ताकत परेशानी खड़ी नहीं कर सकती। तिब्बत को विभाजित करने के लिए कुछ शत्रुतापूर्ण ताकतों का प्रयास जरूर विफल होगा।

(श्याओ थांग)

लोकप्रिय कार्यक्रम
रेडियो प्रोग्राम
रेडियो_fororder_banner-270x270