यूएन विशेषज्ञः मानवाधिकार की रक्षा करने के साथ स्वास्थ्य संबंधी कदम उठाना प्रमुख ज़िम्मेदारी

2021-06-22 17:43:43

यूएन विशेषज्ञः मानवाधिकार की रक्षा करने के साथ स्वास्थ्य संबंधी कदम उठाना प्रमुख ज़िम्मेदारी_fororder_yang-1

21 जून को संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद की 47वीं बैठक जिनेवा में उद्घाटित हुई। संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार मामले की उच्चायुक्त मिशेल बैचेलेट ने उद्घाटन समारोह में महामारी का निपटारा करने में देश की केंद्रीय भूमिका नामक एक रिपोर्ट पेश की। इस रिपोर्ट ने विश्व में कोविड-19 महामारी के प्रभाव पर प्रकाश डाला।

मिशेल बैचेलेट ने कहा कि रिपोर्ट में जोर दिया गया कि संक्रमित रोगों और अन्य अचानक स्वास्थ्य घटनाओं का निपटारा करते समय देश की केंद्रीय भूमिका मानवाधिकार की रक्षा करने के साथ प्रबल स्वास्थ्य निपटारे संबंधी कदम उठाना है। कोविड-19 के प्रकोप ने विश्व को भारी नुकसान और चुनौती दी है।

मिशेल बैचेलेट ने कहा कि पिछले हफ्ते तक विश्व में कोविड-19 के पुष्ट मामलों की कुल संख्या 17.6 करोड़ से अधिक हो गयी और मृत मामलों की संख्या 38 लाख को भी पार कर चुकी है। इस महामारी ने विश्व के विभिन्न क्षेत्रों के समाज को भारी धमकी दी है। वह एक अचानक सार्वजनिक स्वास्थ्य घटना है, साथ ही गहरा प्रभाव होने वाला सामाजिक आर्थिक संकट भी है।

मिशेल बैचेलेट ने कहा कि महामारी के प्रकोप के पहले कई महीनों में कुछ क्षेत्रों के किसानों को भारी नुकसान पहुंचा और उनकी आमदनी में 81 फीसदी की कमी आयी है। अब वैक्सीन समानता के रास्ते में जाने वाला एक नया क्षेत्र बन चुका है। हाल में विकासशील देशों ने बहुत कम वैक्सीन हासिल की है, जिससे दुनिया के अनवरत विकास के लक्ष्य को साकार करने का काम और मुश्किल हो गया है।

मिशेल बैचेलेट ने चेतावनी दी कि वैक्सीन को वैश्विक सार्वजनिक उत्पाद बनाए जाने की जरूरत है। वैक्सीन की न्यायपूर्ण प्राप्ति और वितरण महामारी पर कब तक नियंत्रित करने का कुंजीभूत तत्व बन गया है। यदि हम कम आय वाले देशों के लोगों के आर्थिक, सामाजिक और सांस्कृतिक अधिकारों की रक्षा नहीं करते, तो विश्व के विकास का भविष्य अंधेरे में होगा।

(श्याओयांग)

लोकप्रिय कार्यक्रम
रेडियो प्रोग्राम
रेडियो_fororder_banner-270x270