वाशिंगटन पोस्टः तुलसा नरसंहार में श्वेत उपद्रवियों की मदद की अमेरिकी पुलिस ने

2021-06-22 19:52:39

वाशिंगटन पोस्टः तुलसा नरसंहार में श्वेत उपद्रवियों की मदद की अमेरिकी पुलिस ने_fororder_xue-meimei.JPG

31 मई से 1 जून 1921 के बीच कुछ श्वेत उपद्रवियों ने अमेरिका के ओक्लाहोमा राज्य के तुलसा शहर के ग्रीनवुड के अफ्रीकी अमेरिकी समुदाय पर हमला किया और आगजनी की। तुलसा नरसंहार में स्थानीय पुसिल ने उपद्रवियों को हथियार प्रदान किये और सहायता दी। हाल ही में वाशिंगटन पोस्ट ने यह जांच रिपोर्ट जारी की।

रिपोर्ट के अनुसार तुलसा नरसंहार में महिलाओं और बच्चों समेत लगभग 300 अफ्रीकी अमेरिकी नागरिक मारे गए, जबकि लगभग 10 हजार अफ्रीकी अमेरिकी बेघर हुए। अब तक तुलसा नरसंहार पीड़ितों में से सिर्फ तीन जीवित बचे हैं।

रिपोर्ट के अनुसार साल 2020 में इन 3 प्रत्यक्षदर्शियों ने अदालत में बयान दिए। इसके अनुसार जब नरसंहार हुआ था, तो स्थानीय पुलिस ने श्वेत उपद्रवियों को हथियार प्रदान किये और उनकी नृशंस कार्यवाहियों में सहायता दी।

इस मई में अमेरिकी कांग्रेस में गवाही देते समय 107 वर्षीय वियोला फ्लेचर ने कहा कि वह उक्त उपद्रवियों के कारनामों को कभी नहीं भूल सकेंगी। काफी संभव है कि हमारा देश इस काले इतिहास को भूल जाएगा। लेकिन मैं और अन्य पीड़ित लोग इसे नहीं भूल पाएंगे।

वाशिंगटन पोस्ट ने अफ्रीकी अमेरिकी इतिहासकार स्कॉट एल्सवर्थ की पुस्तक ग्राउंड ब्रेकिंग : न्याय मांगता एक अमेरिकी शहर की सामग्री प्रकाशित की। इस किताब के अनुसार पूरे अमेरिका में तुलसा नरसंहार कोई विशिष्ट मामला नहीं है। अमेरिकी ईतिहास में जातिगत दंगों के कारण तमाम लोगों विशेषकर अफ्रीकी अमेरिकी लोगों को मारा गया था।  

(हैया)

लोकप्रिय कार्यक्रम
रेडियो प्रोग्राम
रेडियो_fororder_banner-270x270