अधिकांश प्रवासी चीनी प्रतिभाएं स्वदेश लौट रहे हैं

2021-01-18 15:02:42

इधर के कुछ सालों में, चतुर्मुखी राष्ट्रीय शक्ति की उन्नति के साथ प्रतिभाओं के प्रति चीन का आकर्षण दिन ब दिन बढ़ रहा है। चीनी शिक्षा मंत्रालय के ताजा आंकड़ो के अनुसार पिछले कुछ सालों में स्वदेश लौटने वाले प्रवासी चीनी छात्रों की संख्या में बड़ी बढोत्तरी हुई है। अधिकांश प्रवासी चीनी प्रतिभाएं अपने बेहतर विकास के लिए स्वदेश लौट रहे हैं।

अधिकांश प्रवासी चीनी प्रतिभाएं स्वदेश लौट रहे हैं_fororder_11

हुआंग युएंहो अमेरिका और कनाडा में अध्ययन करते थे और काम भी करते थे। वे ऑप्टिकल 3डी माप के अध्ययन में संलग्न थे। विदेश में दर्जन भर साल बिताने के बाद उन्होंने अंततः स्वदेश लौटकर स्टार्टअप शुरू किया। उनकी कंपनी में मेसाचुसेट्स प्रौद्योगिक संस्थान, माइक्रोसाफ्ट जैसे मशहूर स्कूल व कंपनी से लौटे अनेक प्रतिभाएं हैं।

उन्होंने सीएमजी के संवाददाता को कहाः

हमें इस क्षेत्र के अध्ययन में दस से ज्यादा साल हो गये हैं। हमें उम्मीद है कि इस तकनीक का वास्तविक उत्पाद में प्रयोग किया जाएगा ताकि अधिकाधिक चीनी उद्यमों के पास केंद्रीय प्रतिस्पर्द्धात्मक शक्ति संपन्न हो सके।

स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2016 से वर्ष 2019 तक चीन में विदेश जाकर पढ़ाई करने वाले छात्रों की संख्या 25 लाख 18 हजार थी, जिनमें से 20 लाख 13 हजार लोग पढ़ने के बाद स्वदेश लौटे। स्वदेश लौटने वाले छात्रो का अनुपात 79.9 प्रतिशत था। वर्ष 2020 में अधिकतर प्रवासी प्रतिभाएं स्वदेश लौटे हैं।

शिक्षा मंत्रालय के ऑवरसीज स्टडी सेवा केंद्र के निदेशक छंग च्याछैइ ने परिचय करते हुए कहाः

वर्ष 2020 में हमारे केंद्र से मिले स्वदेश लौटने के आवेदन पत्रों की संख्या लगभग 3 लाख थी, जो गतवर्ष से 30 हजार से ज्यादा हो गयी।

अधिकांश प्रवासी चीनी प्रतिभाएं स्वदेश लौट रहे हैं_fororder_22

हाल ही में शांगहाई मे प्रवासी प्रतिभाओं के लिए एक विशेष भर्ती मेला आयोजित हुआ। इसमें भाग लेने वाले स्वदेश लौटे कई व्यक्तियों ने बताया कि विदेशों की तुलना में चाहे कोविड-19 की रोकथाम स्थिति हो या आर्थिक विकास का रूझान हो, चीन का स्पष्ट लाभ है। वे घरेलू विकास के बड़े अवसर और बड़े मंच में अपना स्थान ढूंढने की आशा करते हैं।

उन्होंने कहाः

मैं ब्रिटेन से स्वदेश लौटा हूं। यहां का मंच बड़ा है। मैं बड़े मंच में प्रवेश करना चाहता हूं। खुद के विकास की दृष्टि से यहां स्थिति विदेश से बेहतर है।

चीनी शिक्षा अकादमी के अध्ययनकर्ता छु चोहुइ ने कहा कि विदेशी रोजगार की स्थिति और घरेलू आर्थिक स्थिति के संयुक्त प्रभाव से प्रवासी चीनी प्रतिभाएं तेजी से स्वदेश लौट रहे हैं। उन्होंने कहाः

सबसे पहले समग्र अंतरराष्ट्रीय रोजगार वातावरण में कुछ बदलाव हुआ है। प्रवासी छात्रों के लिए विदेश में काम ढूंढना कठिन हो गया है। इसके अलावा विदेश में सफल हुए कुछ प्रतिभाओं को अधिक स्वतंत्रता की चाहत है यानी वे स्टार्ट अप करना चाहते हैं। हमारे देश में कुछ संबंधित नीतियां भी प्रस्तुत की गयी हैं, इसलिए वे देश वापसी का चुनाव करते हैं।

अधिकांश प्रवासी चीनी प्रतिभाएं स्वदेश लौट रहे हैं_fororder_33

छु चोहुइ ने यह भी कहा कि प्रवासी प्रतिभाएं चीन के स्वावबंदी सृजन की एक अहम शक्ति है। विभिन्न क्षेत्रों को प्रतिभाएं आकर्षित करने के लिए उदार नीति प्रस्तुत करने के साथ-साथ समान प्रतिस्पर्द्धा का वातावरण और मौका तैयार करना चाहिए। प्रतिभाओं के विकास और सामाजिक विकास को एक दूसरे को बढ़ाना चाहिए। (वेइतुंग)     

लोकप्रिय कार्यक्रम
रेडियो प्रोग्राम
रेडियो_fororder_banner-270x270