आरसीईपी कार्यान्वयन की पहली वर्षगांठ, क्षेत्रीय आर्थिक के नए विकास को मिला बढ़ावा

2023-01-01 17:17:07

पहली जनवरी को क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक साझेदारी समझौता यानी आरसीईपी के कार्यान्वयन की पहली वर्षगांठ है।

चीन आरसीईपी के महत्वपूर्ण सदस्य है। 2022 की जनवरी से नवंबर तक, चीन और आरसीईपी सदस्य देशों के बीच कुल आयात और निर्यात की मात्रा 118 खरब युआन थी, जिसमें साल 2021 की जनवरी से नवंबर तक की तुलना में 7.9 प्रतिशत की वृद्धि हुई, जो चीन के कुल विदेशी व्यापार का लगभग एक-तिहाई है। इसमें आरसीईपी सदस्य देशों को चीन का निर्यात 60 खरब युआन था, जिसमें 17.7 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज हुई, यह चीन के निर्यात की समग्र विकास दर से 5.8 प्रतिशत अधिक था।

व्यापारिक भागीदारों के दृष्टिकोण से देखा जाए, तो 2022 के पहले 11 महीनों में, आसियान को चीन का निर्यात 34 खरब युआन था, जिसमें 22.2 प्रतिशत की वृद्धि हुई। दक्षिण कोरिया, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड को निर्यात क्रमशः 9.914 खरब युआन, 4.749 खरब युआन, और 57.1 अरब युआन था, जो क्रमशः 14.7 प्रतिशत, 23.4 प्रतिशत और 13.9 प्रतिशत की वृद्धि हुई। आरसीईपी ने चीन के विदेश व्यापार के विकास में एक "स्थिरक" भूमिका निभाई है।

2022 की जनवरी से नवंबर तक, आरसीईपी के सदस्य देशों में चीन का गैर-वित्तीय प्रत्यक्ष निवेश 16.43 अरब अमेरिकी डॉलर था, जिसमें साल 2021 की समान अवधि की तुलना में 20.7 प्रतिशत की वृद्धि हुई, अन्य आरसीईपी सदस्यों में चीन का वास्तविक निवेश लगभग 21.9 अरब अमेरिकी डॉलर था, जिसमें साल 2021 की जनवरी से नवंबर तक की तुलना में 40.2 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई।

चीनी वाणिज्य मंत्रालय के मुताबिक, आरसीईपी ने चीन, जापान और दक्षिण कोरिया को पहली बार मुक्त व्यापार संबंध स्थापित किया, चीन के साथ निवेश और सहयोग के विस्तार के लिए जापानी और दक्षिण कोरियाई कंपनियों के लिए अच्छी उम्मीदें प्रदान किया। साथ ही, आरसीईपी ने चीन और आसियान सदस्यों के बीच व्यापार वृद्धि की जीवन शक्ति को भी और अधिक प्रेरित किया है।

(श्याओ थांग)

रेडियो प्रोग्राम