तिब्बत में कुरियर सेवा का तेज विकास

2022-10-31 16:24:32

चाहे विश्व की छत की छत नाम से मशहूर तिब्बत का अली क्षेत्र हो ,या राष्ट्रीय रोड नेटवर्क से जुड़ने वाली अंतिम काउंटी मेटोग। आज तिब्बत में हर जगह ऑनलाइन शॉपिंग से खरीदा गया सामान पहुंचाया जा सकता है। हाल के वर्षों में न सिर्फ एक्सप्रेस डिलीवरी(कुरियर सेवा) के दायरे का विस्तार हुआ, बल्कि सेम डे डिलीवरी,नेक्स्ट डे डिलीवरी जैसी सेवा भी तिब्बत में मौजूद हैं।सुविधाजनक ऑनलाइन शॉपिंग तिब्बती लोगों के जीवन का हिस्सा बन चुकी है।

 

ध्यान रहे कि पहले लंबे समय तक विशाल भूमि तथा कम आबादी और विकेंद्रित उत्पादन व उपभोग के कारण तिब्बत के डाक व एक्सप्रेस डिलीवरी उद्योग के विकास में बड़ी बाधाएं मौजूद थीं ।ऑनलाइन वस्तुओं की डिलीवरी में कई दिन लग जाते थे। इसके अलावा तमाम ग्रामीण क्षेत्रों में एक्सप्रेस पैकेज नहीं पहुंच सकता था। अगर   गांव में किसी ने आनलाइन कोई सामान खरीदा तो उसे बहुत दूर काउंटी में जाकर उसे लाना होता था। लेकिन तिब्बत के आर्थिक व सामाजिक विकास के साथ-साथ तिब्बती लोगों के जीवन स्तर की उन्नति के लिए वस्तुओं की डिलीवरी तेज करना बहुत अहम हो चुका है।

पैकेज डिलीवरी तेज करने के लिए यातायात की सुविधा सबसे महत्वपूर्ण होती है ।इधर के दस सालों में तिब्बत की यातायात व्यवस्था में जबरदस्त सुधार हुआ है। लिन ची—ल्हासा रेल मार्ग का संचालन शुरू हो चुका है ।ल्हासा और शान नान ,लिन चीन व ना छु के बीच शानदार सड़कें बन चुकी हैं ।अधिक सघन यातायात जाल ने लॉजिस्टिक्स की सुगमता के लिए मजबूत नींव डाली है ।आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2021 के अंत तक तिब्बत में डाक वाहनों के लिए सड़क मार्गों की संख्या 89 थी, यह लंबाई लगभग 18 हजार किमी. से ज्यादा है। इसके साथ ही रेलवे डाक लाइन भी मौजूद है, और एयर डाक लाइनों की संख्या 14 है ।डाक डिलीवरी वाहनों की संख्या 908 है ।

पिछले दशक में तिब्बत में एक्सप्रेस डिलीवरी का सेवा जाल तेजी से फैला।वर्ष 2012 में तिब्बत में कुल 11 उद्यम इस उद्योग में लगे थे, जबकि वर्ष 2021 तक 36 उद्यम एक्सप्रेस डिलीवरी में कार्यरत हैं ।लॉजिस्टिक्स सेवा ने कृषि व पशुपालन क्षेत्र को भी कवर किया है ।किसान व चरवाहे  न सिर्फ आनलाइन शॉपिंग करते हैं ,बल्कि ई बिजनेस मंच के जरिये अपने कृषि व पशुपालन उत्पाद भी बेचते हैं ।इसके अलावा कई तिब्बती युवा एक्सप्रेस डिलीवरी मैन बन चुके हैं ।एक्सप्रेस डिलीवरी उद्योग ने तिब्बत के आर्थिक विकास में जीवंत शक्ति डाली है ।

वर्ष 2012 में तिब्बत में एक्सप्रेस डिलीवरी का पैमाना 28 लाख 43 हजार था ,जबकि वर्ष 2021 तक यह संख्या 1 करोड़ 48 हजार 51 हजार हो गया है। जबकि इसकी आय वर्ष 2012 में 11 करोड़ 80 लाख युआन से बढ़कर वर्ष 2021 में 49 करोड़ 50 लाख युआन हो गयी। तिब्बत में एक्सप्रेस डिलीवरी तिब्बती लोगों के जीवन का एक अभिन्न हिस्सा बन चुका है ।(वेइतुंग)     

रेडियो प्रोग्राम