सुधार और खुलेपन से चीन पूर्वोत्तर इलाके का पुनरुत्थान बढ़ाता है

2022-08-18 16:55:50

चीन का पूर्वोत्तर क्षेत्र देश का महत्वपूर्ण औद्योगिक और कृषि आधार है। राष्ट्रीय सुरक्षा, अनाज सुरक्षा, पारिस्थितिक सुरक्षा, ऊर्जा सुरक्षा और औद्योगिक सुरक्षा में इसका रणनीतिक स्थान बहुत अहम है, जो देश के विकास से संबंधित है। यह चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग द्वारा किया गया सारांश है।

चीन के पूर्वोत्तर इलाके का क्षेत्रफल 10 लाख से अधिक वर्ग किलोमीटर है, जहां 10 करोड़ से अधिक लोग रहते हैं। इस इलाके में राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था और सुरक्षा से संबंधित बहुत रणनीतिक उद्योग मौजूद हैं। पूर्वोत्तर क्षेत्र जैसा पुराना औद्योगिक आधार नए चीन के उद्योग का आश्रय स्थल था, जिसने देश के विकास के इतिहास में शानदार अध्याय लिखा। लेकिन अर्थव्यवस्था के समग्र परिवर्तन और उन्नयन की स्थिति में पूर्वोत्तर क्षेत्र में कम आर्थिक वृद्धि और व्यवसायों व उद्यमों के उत्पादन व संचालन में कठिनाई जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

पुराने औद्योगिक आधार का पुनरुत्थान बढ़ाने के लिए पूर्वी चीनी प्रधानमंत्री वन च्यापाओ ने वर्ष 2004 में पूर्वोत्तर पुनरुत्थान रणनीति पेश की। यह खुशहाल समाज का निर्माण बढ़ाने के लिए चीन सरकार का बड़ा कदम है। चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की 18वीं कांग्रेस से राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने कई बार पूर्वोत्तर इलाके का दौरा किया और कई बार विशेष संगोष्ठियों का आयोजन किया, जिसने पूर्वोत्तर क्षेत्र का चतुर्मुखी पुनरुत्थान करने के लिए निर्देश दिया।

पूर्वोत्तर क्षेत्र के आर्थिक वृद्धि में बड़ी बाधा संस्थागत व्यवस्था में मौजूद गहरा अंतरविरोध है। जैसे कि बाजारीकरण का स्तर उन्नत नहीं है, राजकीय उद्यमों में जीवन शक्ति कमजोर है और निजी अर्थव्यवस्था का विकास पर्याप्त नहीं है। मूलतः इसका निपटारा करने के लिए सुधार कार्य को गहराई से चलाना है। सितंबर 2018 में पूर्वोत्तर पुनरुत्थान संगोष्ठी में शी चिनफिंग ने कहा कि व्यापारिक वातावरण बेहतर बनाने के आधार पर चतुर्मुखी तौर पर सुधार बढ़ाना चाहिए। फिर जुलाई 2020 में शी चिनफिंग ने पूर्वोत्तर क्षेत्र के दौरे के मौके पर कहा कि सरकारी कार्य में बदलाव तेज करने के जरिए बाजार-उन्मुख, कानूनी और अंतर्राष्ट्रीय कारोबारी वातावरण तैयार करना होगा।

बता दें कि चीन का पूर्वोत्तर क्षेत्र कई देशों से जुड़ा है, जो पूर्वोत्तर एशिया के मध्य में स्थित है। हाल के वर्षों में श्रेष्ठ भौगोलिक स्थान पर निर्भर रहते हुए पूर्वोत्तर क्षेत्र ने सक्रियता से बेल्ट एंड रोड के निर्माण में भाग लिया। उदाहरण के लिए वर्ष 2021 में ल्याओनिंग प्रांत स्थित तटीय आर्थिक बेल्ट की आर्थिक मात्रा 13 खरब 50 अरब युआन रही। आयात-निर्यात राशि में 10.9 प्रतिशत का इजाफा हुआ, जो पूरे प्रांत का 70.2 फीसदी रही। वहीं विदेशी पूंजी के वास्तविक उपयोग में 79.4 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई, जो प्रांत का 69.3 फीसदी रहा।

इस साल 16 और 17 अगस्त को चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने ल्याओनिंग प्रांत का दौरा किया। स्थानीय लोगों के साथ बातचीत में उन्होंने कहा कि पूर्वोत्तर पुनरुत्थान रणनीति को अच्छे से लागू करना चाहिए। हम पूर्वोत्तर इलाके में पुनरुत्थान के प्रति आश्वस्त हैं।

(ललिता)

रेडियो प्रोग्राम