सांस्कृतिक अवशेष की रक्षा इतिहास और संस्कृति की रक्षा है

2022-07-03 15:49:15

20 साल पहले शी चिनफिंग दक्षिण चीन के फूच्येन प्रांत के प्रमुख थे। उन्होंने निमंत्रण पर फूच्येन प्रांत की राजधानी फूचो के पुराने मकान के बारे में एक किताब की प्रस्तावना लिखी। उन्होंने लिखा था कि पुराने मकान और सांस्कृतिक अवशेष की रक्षा इतिहास, शहरी संस्कृति और श्रेष्ठ परंपरा की रक्षा है। चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की 18वीं कांग्रेस से शी चिनफिंग हमेशा पुराने शहरों की रक्षा और चीनी राष्ट्र के सांस्कृतिक जड़ के संरक्षण पर ध्यान देते हैं।

फूचो शहर का इतिहास 2,200 साल से भी पुराना है। थ्री लेन और सेवन एलेज़ इस प्राचीन शहर के मध्य में स्थित है, जिसका क्षेत्रफल करीब 40 हैक्टेयर है। यह क्षेत्र चिन राजवंश में पैदा हुआ, फिर थांग राजवंश में इसे रूप दिया गया और मिंग व छिंग राजवंश में समृद्ध होने लगा। अब तक प्राचीन सड़कों और गलियों को मूल रूप से संरक्षित किया गया है, जो चीन में सबसे अच्छे से संरक्षित ऐतिहासिक और सांस्कृतिक जिला है। लेकिन गत 80 के दशक में शहरी विकास के प्रभाव में यहां नष्ट होने के खतरे में था। शी चिनफिंग की रक्षा में ही यह प्राचीन सांस्कृतिक क्षेत्र अब तक मौजूद है।

गत 80 के दशक में फूचो शहर के संबंधित विभागों ने थ्री लेन और सेवन एलेज़ के कुछ पुराने भवनों को गिराकर व्यावसायिक आवास बनाने की योजना बनाई थी। यह सुनकर फूचो के तत्कालीन पार्टी सचिव शी चिनफिंग ने शीघ्र ही वहां जाकर संरक्षण पर चर्चा के लिए बैठक बुलाई। स्थिति जानने के बाद शी चिनफिंग ने तोड़ने की योजना स्थगित कर पुराने भवन की मरम्मत करने की मांग की। इससे थ्री लेन और सेवन एलेज़ में स्थित ऐतिहासिक इमारतों की मरम्मत और रक्षा मिली। सांस्कृतिक अवशेष के संरक्षण की दीर्घकालिक व्यवस्था स्थापित करने के लिए शी चिनफिंग ने फूच्येन प्रांत में संबंधित नियम बनाने को बढ़ावा दिया, जिसके अनुसार सांस्कृतिक अवशेष विभाग की अनुमति मिलने के बाद ही शहरी निर्माण की योजना लागू की जा सकती थी। सांस्कृतिक विरासत की रक्षा का शी चिनफिंग का उद्देश्य ऐतिहासिक अवशेष के संरक्षण ही नहीं, राष्ट्रीय संस्कृति को जारी रखना भी है।

30 साल से अधिक समय बीत चुका है। थ्री लेन और सेवन एलेज़ में नई जीवन शक्ति का संचार हुआ है। वर्ष 2021 में शी चिनफिंग ने फिर एक बार वहां का निरीक्षण दौरा किया। उन्होंने कहा कि पारंपरिक सड़क, पुराने भवन और सांस्कृतिक अवशेष की रक्षा शहर के इतिहास और सांस्कृतिक जड़ की रक्षा है। पुरानी इमारत, पुराने मकान और पुरानी सड़क को हमें मूल्यवान समझना चाहिए।

मरम्मत और रक्षा से सांस्कृतिक अवशेषों और प्राचीन इमारतों का जीवन बढ़ा, सांस्कृतिक परंपरा राष्ट्र की आत्मा का पोषण करती है। विदेशों में रहने वाले फूचो मूल के लोग जब भी गृहनगर वापस आते हैं, अवश्य ही थ्री लेन और सेवन एलेज़ में घूमने जाते हैं। इन प्राचीन गलियों में शी चिनफिंग का प्यार फूचो वासियों में लोकप्रिय कहानी बन गया है।

(ललिता)

रेडियो प्रोग्राम