वांग यी: अमेरिका के विश्व दृष्टिकोण, चीनी दृष्टिकोण और चीन-अमेरिका संबंधों पर दृष्टिकोण में पैदा हुआ गंभीर विचलन

2022-05-29 16:55:37


यह पूछे जाने पर कि अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने हाल ही में नीतियों पर भाषण देते हुए कहा कि चीन अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था के लिए "सबसे गंभीर दीर्घकालिक चुनौती" है और अमेरिका खुद में निवेश करेगा, दोस्तों को एकीकृत करते हुए चीन के साथ प्रतिस्पर्धा करेगा, जिसका अंतरराष्ट्रीय स्थिति और चीन-अमेरिका संबंधों पर क्या प्रभाव पड़ेगा?  वांग यी ने 28 मई को इस बारे में कहा कि चीन के प्रति नीतियों पर इस भाषण से जाहिर है कि अमेरिका के विश्व दृष्टिकोण, चीनी दृष्टिकोण और चीन-अमेरिका संबंधों पर दृष्टिकोण में गंभीर विचलन पैदा हुआ।

वांग यी ने कहा कि हम अमेरिका को बताना चाहते हैं कि यह दुनिया अमेरिका द्वारा चित्रित की गई दुनिया नहीं है। अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के सामने मौजूद सबसे जरूरी कार्य संयुक्त रूप से मानव जीवन और स्वास्थ्य की रक्षा करना, विश्व आर्थिक बहाली को बढ़ाना और विश्व शांति व स्थिरता बनाए रखना है। इसके लिए साझा भाग्य समुदाय की विचारधारा स्थापित करने और संयुक्त राष्ट्र चार्टर के उद्देश्यों और सिद्धांतों का अभ्यास करने की आवश्यकता है। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग द्वारा क्रमशः प्रस्तुत "बेल्ट एंड रोड", वैश्विक विकास पहल और वैश्विक सुरक्षा पहल सभी को अंतर्राष्ट्रीय समुदाय का व्यापक स्वागत और समर्थन प्राप्त हुआ। जबकि अमेरिका "केंद्रवाद" और "अपवादवाद" पर कायम रहता है, शीत युद्ध की मानसिकता रखता है, आधिपत्य के तर्क का पालन करता है, और गुट राजनीति को बढ़ाता है, जो इतिहास की प्रवृत्ति के खिलाफ है और केवल संघर्ष और टकराव को जन्म देगा और अंतरराष्ट्रीय समुदाय को विभाजित करेगा। वास्तव में अमेरिका वर्तमान अंतर्राष्ट्रीय व्यवस्था को हिलाने वाला एक स्रोत और अंतर्राष्ट्रीय संबंधों के लोकतंत्रीकरण में एक बाधा बन गया।

हम अमेरिका को बताना चाहते हैं कि चीन अमेरिका की कल्पना वाला चीन नहीं है। चीन के विकास और पुनरुद्धार का स्पष्ट ऐतिहासिक तर्क और मजबूत अंतर्जात प्रेरक शक्ति है। 1.4 अरब लोगों का सामान्य आधुनिकीकरण मानव जाति के लिए एक बहुत बड़ी प्रगति है, न कि दुनिया के लिए खतरा या चुनौती। हम चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के मजबूत नेतृत्व, चीनी लोगों की एकता, कड़ी मेहनत और संघर्ष, चीनी विशेषता वाले समाजवाद के पथ पर निर्भर करते हैं। हमारा लक्ष्य स्पष्ट और सीधा है, जो लोगों को बेहतर जीवन जीने देना है और दुनिया में अधिक योगदान देना है, न कि किसी को चुनौती देना या जगह लेना। हम उच्च स्तरीय सुधार व खुलेपन को बढ़ा रहे हैं, और उच्च स्तरीय सहयोग व उभय जीत को प्राप्त कर रहे हैं। हम निश्चित रूप से खुद को बेहतर बनाएंगे और चीन के कारण दुनिया को बेहतर बनाएंगे।

वांग यी ने इस बात पर जोर दिया कि चीन-अमेरिका संबंध एक महत्वपूर्ण चौराहे पर हैं, और अमेरिका को सही चुनाव कर आपसी सम्मान, शांतिपूर्ण सह-अस्तित्व और सहयोग व उभय जीत पर ध्यान केंद्रत करना चाहिए। ताकि चीन और अमेरिका के लिए नए युग में साथ आने का सही तरीका मिल सके।

(मीनू)

रेडियो प्रोग्राम