महामारी का मुकाबला :समान भाग्य का समुदाय

2020-09-05 19:43:26
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

महामारी से लोगों की यात्रा में रुकावट पैदा हो गई। 50 से अधिक देशों और क्षेत्रों से आए 3700 से अधिक यात्री और जहाज कर्मचारियों का भाग्य जुड़ गया।

विशाल ब्रह्मांड में पृथ्वी एक क्रूज जहाज के बराबर है। मानव जाति क्रूज जहाज में सवार समान भाग्य का समुदाय है। इंसान को महामारी का समान रूप से मुकाबला करना चाहिए।

चीन में महामारी के खिलाफ़ लड़ाई में विभिन्न देशों ने सहायता दी। दुनिया भर में महामारी के प्रकोप होने के बाद चीन ने क्रमशः 150 से अधिक देशों और अंतरराष्ट्रीय संगठनों को आपात राहत प्रदान की। चीन ने महामारी-रोधी सहयोग के लिए 2 अरब युआन का ख़ास कोष स्थापित किया। चीन ने 27 देशों को 29 खेपों में चिकित्सा दल भेजे।

यह सन् 1949 में नए चीन की स्थापना के बाद से लेकर अब तक चीन द्वारा की गई सबसे अधिक दायरे वाली आपात अंतरराष्ट्रीय मानवीय कार्रवाई है। चीन विश्व के साथ मिलकर समान रूप से मुश्किलों का मुकाबला कर रहा है।

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories