सूचना:चाइना मीडिया ग्रुप में भर्ती

031 गुमराह बकरी की तलाश

cri 2017-06-06 19:51:37
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

031 गुमराह बकरी की तलाश

तीन लोगों के कहने पर बन सकता है बाघ 三人成虎

"तीन लोगों के कहने पर बाघ बन सकता है"नाम की कहानी को चीनी भाषा में"सान रन छंग हू"(sān rén chéng hǔ) कहा जाता है। इसमें"सान"संख्या-सूचक शब्द तीन है, चीनी भाषा में कछ और कई जैसे शब्दों के प्रयोग के दौरान कभी कभार"सान"और"च्यु"यानी नौ वाले दो संख्या सूचक शब्दों का प्रयोग किया जाता है। दूसरा शब्द"रन"का अर्थ है लोग। तीसरा शब्द"छंग"का अर्थ है बनना और चौथा शब्द"हू"है जानवर बाघ।

यह चीन के युद्धरत राज्य काल (यानी ईसा पूर्व 475 से ईसा पूर्व 221 तक के समय) की कहानी है। वेई राज्य वंश का युवराज चाओ राज्य की राजधानी हानतान में बंधक के रूप में भेजा गया। चीन के युद्धरत राज्य काल में यह आम नियम था कि अगर कोई राज्य दूसरे राज्य से हार गया, तो उस राज्य के राजा का एक पुत्र विजयी राज्य में बंधक के रूप में भेजा जाता था। वेई राज्य के राजा युवराज के साथ अपने मंत्री फांग छोंग( Pang Cong) को भी चाओ राज्य भेजना चाहता था ।

फांग छोंग को जब पता चला कि राजा उसे भी चाओ राज्य भेजेगा, तो उसे यह डर हुआ कि कहीं उसके चले जाने के बाद कोई राजा के सामने उसकी बुराई तो नहीं करेगा, चाओ राज्य के लिए रवाना होने से पहले उसने विशेष कर राजमहल जाकर राजा से कहा:"महाराज, यदि कोई व्यक्ति आपको बताए कि शहर में बाघ घुस गया है, क्या आपको इस पर यकीन होगा?"

राजा ने तुरंत जवाब में कहा:"नहीं ।"

फांग छोंग ने फिर पूछा:"यदि एक और वव्यक्ति आपको बताने आया हो कि शहर में बाघ आया है, क्या आपको विश्वास होगा?"

राजा ज़रा हिचका, फिर बोला:"मुझे पूरा यकीन नहीं होगा।"

इसके तुरंत बाद फांग छोंग ने फिर सवाल किया:"यदि कोई तीसरा व्यक्ति आपको बताने आ गया कि शहर में बाघ घुस आया है, तो आपको विश्वास होगा या नहीं ?"

राजा ने सोच की मुद्रा में सिर हिलाते हुए कहा:"तब मुझे विश्वास होगा।"

इस बातचीत की व्याख्या करते हुए फांग छोंग ने बताया:"दरअसल शहर में कोई बाघ नहीं है, लेकिन जब तीन लोग कहेंगे कि शहर में बाघ आया है, तो यह अफ़वाह सच बन सकती है। लोग समझेंगे कि शहर में ज़रूर बाघ घुस आया है। कई लोगों के कहने पर झूठ भी सच बन जाता है। मैं युवराज के साथ चाओ राज्य जाऊंगा, वहां का नगर और राज महल हमारे वेई राज्य से आलीशान और भव्य है, वहां रहने के कारण यह बड़ी संभावना है कि कुछ लोग आपके सामने मेरी बुराई करेंगे, मुझे आशा है कि आप उनकी बातें नहीं मानेंगे और मामलों की असलियत की जांच करेंगे।"

फांग छोंग के चले जाने के बाद सच में कुछ लोग उसकी बुराई करने लगे, शुरू-शुरू में वेई राज्य के राजा को उनकी बातों पर विश्वास नहीं हुआ, लेकिन बाद में ज्यादा लोगों के कहने के कारण राजा उनकी बातों में आ गया और फांग छोंग पर से विश्वास उठ गया, नतीजतन फांग छोंग पदच्युत हो गया।

"तीन लोगों के कहने पर बन सकता है बाघ"यानी चीनी भाषा में"三人成虎"(सान रन छंग हू) कहानी का मतलब यह है कि ज्यादा लोग के कहने से अफ़वाह भी सच बन जाती है।

HomePrev12Total 2 pages

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories