विश्व के विभिन्न स्थानों में“मध्य शरत् उत्सव”

2020-09-27 10:00:00
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

चीनी चंद्र पंचांग के अनुसार आठवें माह की 15 तारीख को चीन का पारंपरिक मध्य शरत् उत्सव है। विश्व के अन्य अनेक देशों व क्षेत्रों में भी मध्य शरत् उत्सव मनाने की प्रथा है, लेकिन समय, नाम, रीति रिवाज और त्योहार मनाने के तरीकों में भिन्नताएं होती हैं।

जापान का“पूर्णिमा उत्सव”

विश्व के विभिन्न स्थानों में“मध्य शरत् उत्सव”

जापान में दो“पूर्णिमा उत्सव”मनाया जाता है जिन में से एक चंद्र वर्ष की अष्टम माह की 15 तारीख और दूसरा नौवें माह की 13 तारीख को होता है। जापानी लोग चंद्र देवता में विश्वास करते हैं। उत्सव के दिन, जापानी लोग राष्ट्रीय विशेषता वाले प्राचीन योद्धा के वस्त्र जैसे लबादा पहनते हैं और गाना गाते पुकारते हैं। जवान व बूढ़े सभी लोग देवता की आला उठाए मंदिर में धूप चढ़ाते हैं। मंदिर के आसपास विभिन्न खानपान बेचने वाले हाट खुलते हैं, जहां लोग खाते पीते हैं और लोक संगीतकार नृत्य गान के कार्यक्रम प्रस्तुत करते हैं। बच्चे घास मैदान से सौभाग्य सूचक घास पौधे तोड़कर लाते हैं और घर के द्वारों को सजाते हैं। जब अंधेरा उतरा, तो लोग ताजा फल और पके पकाये चावल के गोले चढ़ाकर चांद देवता की पूजा करते हैं, फिर उन्हें खाने के लिए आपस में बांटते हैं, चांद के सौंदर्य का लुत्फ लेते हैं और वृद्ध लोगों से चांद के बारे में पौराणिक कथाएं सुनते हैं।

1234...MoreTotal 7 pagesNext

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories