क्या ई-कॉमर्स द्वारा प्रतिस्थापित किया जाएगा ईवू छोटी वस्तु थोक बाजार?

2020-08-29 10:00:00
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

ईवू छोटी वस्तु थोक बाजार विश्व अर्थतंत्र का अनोखा रूप था, लेकिन विश्व परिस्थिति में गहरा परिवर्तन आने और इंटरनेट के तेज़ विकास की पृष्ठभूमि में कोविड-19 महामारी से लम्बे अरसे से ईवू छोटी वस्तु बाजार की कमियां नजर आयी हैं।

पहले इसी ऋतु में छन आईलिंग के लिए सबसे व्यस्त होने वाला समय था। कभी-कभार एक दिन में छह-सात ऑडर आ जाते थे। लेकिन इस साल के जुलाई माह में कोई विदेशी व्यापारी खरीदारी करने के लिए दुकान नहीं आया, साथ ही विदेशी ऑडर भी नहीं मिला। छन आईलिंग ने पत्रकार से कहा कि पहले उनके पास फुर्सत नहीं होती थी।

ईवू अंतर्राष्ट्रीय व्यापार सिटी में 56 वर्षीय छन आईलिंग रंगीन पट्टी बेचने वाली एक दुकान चलाती है। अभी 22 साल हो चुके हैं। विश्व के विभिन्न स्थलों में क्रिसमस-डे मनाने के लिए रंगीन पट्टियों में हरेक दस पटिट्यों में से आठ पट्टियां ईवू से आयातित हैं। लेकिन पिछले कई महीनों में छन का व्यापार बहुत मंदा पड़ रहा है।

छन आईलिंग की स्थिति ईवू अंतर्राष्ट्रीय व्यापार सिटी की 75 हजार दुकानों के दुकानदारों की प्रतिनिधि है। वास्तव में ईवू छोटी वस्तु थोक बाजार में कई बाजार हैं, जिनमें सबसे बड़ा और सबसे मशहूर बाजार ईवू अंतर्राष्ट्रीय व्यापार सिटी है, जो 5 इमारतों से बना है। इसका क्षेत्रफल 18 बर्ड्जनेस्ट राष्ट्रीय व्यायामशाला जैसा बड़ा है। यहां 20 लाख से अधिक किस्मों की छोटी वस्तु बेची जाती हैं और 210 से अधिक देशों को निर्यात किया जाता है। कोविड-19 के प्रकोप से पहले यहां रोज करीब 2 लाख लोग आते थे, जो विश्व का सबसे बड़ा छोटी वस्तु थोक बाजार है।

कोविड-19 के प्रकोप के बाद इस अंतर्राष्ट्रीय व्यापार सिटी, जहां कुल लेनदेन की मात्रा के 70% के लिए विदेशी व्यापार को भारी नुकसान उठाना पड़ता है। बाजार में अनेक दुकानदारों ने पत्रकार से कहा कि इस साल व्यापार में कम से कम 50 प्रतिशत की कटौती आयी है, कुछ लोगों के लिए 70 प्रतिशत की कटौती आयी है। बीते 20 से अधिक वर्षों में ईवू छोटी वस्तु थोक बाजार ने विदेशी व्यापार के सहारे विश्व सुपर मार्केट बना है। लेकिन विश्व परिस्थिति में गहरा सुधार होने और इंटरनेट के तमाम पुनरुत्थान की पृष्ठभूमि में इस परम्परागत सौदा फार्मूला को झटका लगा है।

ईवू छोटी वस्तु थोक बाजार को उज्ज्वल करने वाला विदेशी व्यापार अब व्यापार की गिरावट आने का प्रमुख कारण बन चुका है। ईवू वाणिज्य ब्यूरो के निर्यात विभाग के प्रमुख छन थ्येइच्वन ने पत्रकार से कहा कि पिछले कई महीनों में ईवू शहर के निर्यात रकम में “W आकार” देखा जा रहा है। यानी कि फरवरी माह में देश में कोविड-19 के प्रकोप से निर्यात रकम मंजिल तक नीचा आया, इसके बाद धीरे-धीरे ऊपर आने लगा। लेकिन मार्च माह में अंतर्राष्ट्रीय समुदाय में महामारी के प्रकोप से निर्यात रकम में फिर एक बार गिरावट आयी। जबकि मई माह से ऑडरों की संख्या में धीमी बहाली होने लगी है।

ईवू अंतर्राष्ट्रीय व्यापार सिटी की प्रबंध संस्था चच्यांग चीनी छोटी वस्तु सिटी शेयर कंपनी लिमिटेड के बाजार विकास महानिदेशक चांग यूहू ने कहा कि पहले ईवू स्थित विदेशी व्यापारियों की संख्या करीब 15 हजार थी, जबकि रोज ईवू बाजार में खरीदने वाले विदेशी व्यापारियों की संख्या 5 लाख थी। इस मार्च में ईवू शहर ने 10 हजार विदेशी व्यापारियों को वापस आने का न्यौता भेजा, लेकिन सिर्फ 4000 से अधिक लोग ईवू वापस आये हैं। ईवू शहर के सार्वजनिक सुरक्षा ब्यूरो के आंकड़े बताते हैं कि जनवरी से अप्रैल माह तक ईवू में कुल 36066 विदेशी लोग आए थे, जो पिछले साल की तुलना में 79.3 प्रतिशत की कटौती आयी थी। और तो और ईवू स्थित स्थायी विदेशी व्यापारियों की संख्या भी 7200 तक कम हो गयी है, जो पिछले साल की तुलना में करीब 50 प्रतिशत की कमी हुआ है।

बीते कई महीनों में छन आईलिंग ने वीचेट और फोन आदि तरीकों से विदेशी व्यापारियों से संपर्क करने की कोशिश की। फिर भी उन के व्यापार में भारी कटौती आयी है। इस अप्रैल माह में छन ने सिर्फ 11 ऑडरों को मिला था, जबकि गत वर्ष के अप्रैल माह में उन्हें 40 से अधिक और को मिला था।

विदेशों में महामारी की स्थिति स्थिर नहीं है, इसलिए छन आईलिंग बहुत चिंतित हैं। अगर सभी सामानों की तैयारी होती है, लेकिन पैसे नहीं आते, तो वे क्या करेंगी?अगर अब उत्पादन नहीं करती, तो समय पर सामान नहीं दे सकेंगी। इस मार्च माह में छन आईलिंग ने 70 लाख चीनी युआन मूल्य वाले सामानों के तीन ऑडर प्राप्त किये, लेकिन बाद में विदेशी व्यापारी ने कहा कि वे देर से सामान लेंगे। अभी तक ये सामान गोदाम में रखा हुआ है।

महामारी के प्रकोप के दौरान सभी उपभोक्ता वस्तुओं की मांग में गिरावट नहीं हुई है। महामारी रोकथाम सामग्रियों के निर्यात में भारी उन्नति आयी है। ईवू वाणिज्य ब्यूरो के निर्यात विभाग के प्रमुख छन थ्येइच्वन ने कहा कि मार्च से जून माह तक ईवू से कुल 6.8 अरब चीनी युआन मूल्य वाली महामारी रोकथाम सामग्रियों का निर्यात हो चुका है। हालांकि यह संख्या पहले छिमाही में ईवू के कुल 1.3 खरब चीनी युआन के निर्यात रकम में बड़ी संख्या नहीं है, फिर भी इसने अनेक स्थानीय उद्यमों के सुधार में मदद दी है।

ईवू अंतर्राष्ट्रीय व्यापार सिटी की एक दुकान में लान लोंगयिन ने पत्रकार को एक मिनट में 650 मास्क बनाने वाले मशीन का वीडियो दिखाया। लान लोंगयिन एक घरेलू उत्पाद कंपनी लिमिटेड के जनरल मैनेजर हैं। उनकी कंपनी पहले यू के आकार का तकिया बनाती थी। महामारी से उनकी कंपनी को भारी झटका लगा है और विदेशी व्यापार में भी 50 प्रतिशत की गिरावट आयी है। इस साल के मार्च से उन्होंने कई मित्रों के साथ लाखों चीनी युआन का खर्चा देकर मशीनों को खरीदा और मास्क बनाना शुरू किया। दो महीनों में उनकी कंपनी ने कुल 2 करोड़ चीनी युआन के मास्क बनाये और दक्षिण कोरिया और मलेशिया आदि दक्षिण पूर्वी एशियाई देशों तक निर्यात किया। फिर उन्होंने कमाये पैसों को एन95 मास्क के उत्पादन में लगाया। लान ने कहा कि ईवू में उन जैसे कई सौ उद्यम हैं। लेकिन 90 प्रतिशत उद्यम पैसे नहीं कमाते हैं, सिर्फ बहुत कम उद्यम इस व्यापार का अच्छी तरह अंजाम दे सकते हैं।

चच्यांग चीनी छोटी वस्तु सिटी शेयर कंपनी लिमिटेड के बाजार विकास महानिदेशक चांग यूहू ने कहा कि बाजार में दुकानदारों को विदेशी व्यापार के तरीकों की आदत है। वे घरेलू व्यापार नहीं करना चाहते, चूंकि घरेलू व्यापार करने के लिए समय से पहले सामानों की तैयारी करनी पड़ती है। साथ ही कुछ समय सामानों को बदलने या वापस देने की समस्याएं भी होती हैं। सामान बनाने के लिए पहले ही पैसे लगाने की आवश्यकता है। और तो और सुपरमार्केट और ई-कॉमर्स जैसे चैनल का विकास करने की भी जरूरत है। दैनिक उपभोक्ताएं घरेलू बाजार में अति तीव्र प्रतिस्पर्द्धा है।

घरेलू बाजार का विकास करने के लिए इस मार्च से ईवू शहर की सरकार और व्यापार सिटी ग्रुप ने देश के अनेक प्रमुख शहरों और बाजारों में प्रसार की गतिविधियों का आयोजन किया। चच्यांग शिंगपाओ छाता कंपनी लिमिटेड अंतर्राष्ट्रीय व्यापार सिटी में छाता का उत्पादन और बेचने वाला कारोबार है। पहले उस के उत्पादक मुख्य तौर पर पुर्तगाल, स्पेन और फ्रांस आदि देशों को निर्यातित किये गये थे। इस साल महामारी की वजह से कंपनी ने घरेलू बाजार का विकास करने लगा। कंपनी की डायरेक्टर चांग चियिंग ने पत्रकार से कहा, विदेशी व्यापार और घरेलू व्यापार बिलकुल अलग है। इटली और स्पेन आदि देशों के लोग चटक रंग और उज्ज्वल फूल पैटर्न वाला छाता पसंद करते हैं, जबकि घरेलू उपभोक्ताओं को सरल डिजाइन और हल्का रंग वाला छाता पसंद है।

चीनी व्यापार संवर्द्धन संघ के अंतर्राष्ट्रीय व्यापार अनुसंधान संस्था की प्रभारी चाओ फिंग की नजर में महामारी से आगामी कुछ समय में विदेशी व्यापार की कटौती आएगी। इसलिए ईवू बाजार को घरेलू बाजार के विकास में ज्यादा ध्यान देना चाहिए, ताकि अंतर्राष्ट्रीय और घरेलू बाजार की मांग पूरा कर सके।

2014 में छन आईलिंग को पता लगा कि दुकान का व्यापार पहले की तरह अच्छा नहीं रहा और सालाना व्यापार रकम 1 करोड़ चीनी युआन से 80 लाख चीनी युआन तक कम किया गया था। उन्होंने इसका दोष ई-कॉर्मस पर लगाया। उम्र के बड़ी होने की वजह से उन्होंने ऑनलाइन दुकान नहीं खोली। लेकिन इंटरनेट युग से बाजार और पारदर्शक बन चुका है। युवक सीमापार ई-कॉर्मस प्लेटफार्म पर सीधे रूप से विदेशी व्यापारियों से संपर्क कर सकते हैं, फिर उत्पादन कर सकते हैं। ऑफ़लाइन मूल्य लाभ स्पष्ट न होने की वजह से कुछ विदेशी व्यापारी सीधे ऑनलाइन खरीदारी करते हैं।

ईवू बाजार विकास कमेटी के उपप्रधान फेन वनवू ने पत्रकार से कहा कि हालांकि ईवू शहर में ई-कॉर्मस व्यापार पहले ही शुरू हुआ था, फिर भी ईवू में ई-कॉर्मस व्यापार करने वाले लोगों की संख्या ज्यादा नहीं है। 2009 में ई-कॉर्मस के तेज विकास को देखकर अंतर्राष्ट्रीय व्यापार सिटी के दुकानदारों ने चिंता जतायी। 2013 से कुछ दुकानदार ऑनलाइन और ऑफ़लाइन व्यापार करने लगे। 2014 में व्यापार सिटी में एक दुकानदार ली श्याओली सबसे पहले सीमापार ई-कॉर्मस का व्यापार करने लगा। अब उनका विदेशी व्यापार करीब 40 प्रतिशत ऑनलाइन ही होता है। 15 साल पहले व्यापार सिटी में उनके एक बूथ का सालाना किराया 9 लाख युआन था। लेकिन प्रचलन के खर्चे में वृद्धि होने और ऑफ़लाइन व्यापार की गिरावट होने से अब एक बूथ का सालाना किराया 4.5 लाख चीनी युआन है।

2012 में ईवू व्यापारी सिटी ग्रुप ने ईवूगो वेबसाइट खोली, लेकिन यह बड़े हद तक केवल एक प्रदर्शन का प्लेटफार्म था। यदि विदेशी व्यापारी खरीददारी करते थे, तो भी वे ऑफलाइन दुकान में सौदा पूरा करने का विकल्प करते थे। साथ ही अलीबाबा अंतर्राष्ट्रीय वेबसाइट में ईवू के बहुत कम दुकानदार प्रवेश करते हैं, जिसकी संख्या केवल 1400 से 2000 के बीच होती है।

ईवू सांख्यिकी ब्यूरो के आंकड़े बताते हैं कि 2011 से 2016 के बीच अंतर्राष्ट्रीय व्यापार सिटी में व्यापारी रकम 45.6 अरब चीनी युआन से 1.1 करोड़ चीनी युआन तक उन्नत किया गया था, लेकिन ईवू शहर के कुल व्यापारी रकम में उसका अनुपात 43 प्रतिशत से 35 प्रतिशत तक कम किया गया था। 2014 से 2018 तक हालांकि अंतर्राष्ट्रीय व्यापार सिटी में सौदा रकम साल दर साल बढ़ता है, फिर भी वृद्धि दर 2014 की 25.5 प्रतिशत से 2018 की 10.8 प्रतिशत तक कम की गयी थी।

इस साल की महामारी की वजह से व्यापारी सिटी को सुधार करना पड़ा है। इस मार्च से ग्रुप ने चाइनागुद्ज़ नामक एक नये डिजिटल प्लेटफार्म का निर्माण शुरू किया। ग्रुप आशा करता है कि चाइनागुद्ज़ के जरिए सभी दुकानदार ऑनलाइन व्यापार कर सकेंगे। 2019 के 19 जून को ईवू शहर की सरकार ने अलीबाबा ग्रुप ने eWTP (ई-वल्ड ट्रेड प्लेटफार्म) सामरिक सहयोग समझौते पर हस्ताक्षर किया। यह इस बात का द्योतक है कि विश्व में सबसे बड़ी ऑनलाइन बाजार आर्थिक इकाई विश्व के सबसे बड़ी ऑफलाइन बाजार आर्थिक इकाई का जोड़ है। इस साल की दूसरी तिमाही में अलीबाबा अंतर्राष्ट्रीय स्टेशन में शामिल करने वाले ईवू के उपभोक्ताओं के सौदागरों की संख्या करीब 1000 तक जा पहुंची है, जिनमें करीब 30 प्रतिशत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार सिटी के दुकानदार हैं।

तो क्या ई-कॉमर्स बिलकुल ईवू छोटी वस्तु थोक बाजार की जगह ले सकता है?चच्यांग चीनी छोटी वस्तु सिटी शेयर कंपनी लिमिटेड के बाजार विकास महा निदेशक चांग यूहू इससे इत्तेफाक नहीं रखते हैं। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में ऑफलाइन दुकानों के अस्तित्व की आवश्यकता है। चूंकि विदेशी व्यापारी अपनी आंखों से सामान देख सकते हैं। हर साल विदेशी व्यापारी दो तीन बार ईवू आते हैं। अंतर्राष्ट्रीय व्यापार सिटी विदेशी व्यापारियों और दुकानदारों के बीच भावना का पुल बन सकेगा।

ईवू शहर के बाजार विकास आयोग के उपप्रभारी फेन वनवू ने कहा कि स्थानीय सरकार यह देखना चाहती है कि भविष्य में ऑनलाइन और ऑफलाइन का मेल-मिलाप हो सकेगा। लेकिन ऑनलाइन व्यापार के विकास से ऑफलाइन के सौदा रकम में कटौती जरूर आएगी। अलीबाबा अंतर्राष्ट्रीय केंद्र के जनरल मैनेजर चांग ख्वो ने पत्रकार से कहा कि भविष्य में ऑफलाइन दुकान की सौदा करने की क्षमता नहीं रहेगी, जबकि प्रदर्शन करने की क्षमता होगी। वास्तव में मौजूदा तकनीक के साथ हम एक वर्चुअल प्रदर्शनी बूथ का निर्माण भी कर सकते हैं। यह इस बात का द्योतक है कि प्रदर्शन हॉल का अस्तित्व करने की आवश्यकता भी नहीं है। ऑनलाइन बेचने वाले और खरीदने वाले लोगों के पहले के सौदा करने की जानकारी का पता भी चलाया जा सकता है।

आज ईवू अंतर्राष्ट्रीय व्यापार सिटी से करीब 3 किलोमीटर पर "साइबर स्टार लाइव शो का नंबर 1 टाउन" के नाम से मशहूर च्यांगपेई श्याजू सोशल ई-कॉर्मस कस्बा स्थित है। ईवू बाजार विकास कमेटी के उपप्रधान फेन वनवू ने कहा कि हाल में ईवू शहर विश्व लाइव शो केंद्र के रूप में निर्मित किया जा रहा है। 2019 के अंत तक शहर में कुल 3000 से अधिक विविधतापूर्ण साइबर स्टार उभरे हैं। 2019 में ईवू में लाइव शो से 20 अरब चीनी युआन के सामानों की बिक्री हुई है, जो शहर के कुल ई-कॉमर्स लेनदेन की मात्रा के करीब 10 प्रतिशत पहुंची है।

दुकानदारों के लाइव शो का प्रोत्साहन करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय व्यापार सिटी ने बाजार में 200 से अधिक मुफ्त लाइव शो हॉलों की स्थापना की और दुकानदारों को प्रशिक्षण भी दिया। लेकिन लाइव शो सभी सामानों के लिए उचित नहीं है। बड़े मशीनरी उपकरण, ज़िपर आदि सामान लाइव शो में अच्छी तरह प्रदर्शित नहीं किये जा सकते हैं। लाइव शो में सामान अपेक्षाकृत सस्ता हैं, इसलिए दुकानदारों को कम लाभांश मिल सकता है। लाइव शो सिर्फ तकनीक के जरिए बेचने का एक तरीका है, लेकिन ईवू के लिए उत्पाद की गुणवत्ता सबसे अहम है।

ईवू शहर की कुरियर सर्विस चीन में अपेक्षाकृत विकसित है, जहां सामानों के उत्पाद वितरण, सीमा शुल्क घोषणा और संगरोध पूरा किया जा सकता है। चीन के अन्य शहरों की तुलना में यहां कुरियर सर्विस के दाम भी बहुत सस्ते हैं। लेकिन ईवू में मध्यम व छोटे ई-कॉर्मस के उद्यम होते हैं। शनचन और हांगचो की तुलना में सीमापार ई-कॉर्मस के क्षेत्र में ईवू में सुयोग्य व्यक्तियों का अभाव है। जबकि शनचन और हांगचो में अनेक विदेशों से वापस लौटे डॉक्टर होते हैं। उच्च शिक्षालय उच्च स्तरीय सुयोग्य व्यक्तियों का भंडार है। ईवू में विश्वविद्यालय नहीं हैं। केवल इधर के दो वर्षों में चीन के फूतान विश्वविद्यालय जैसे मशहूर विश्वविद्यालयों ने ईवू में अकादमियों की स्थापना की है, जिनसे ईवू के विकास में मदद दी जाती है।

2000 में जब अलीबाबा वेबसाइट की स्थापना हुई, वह एक छोटी कंपनी थी। उस समय ईवू छोटी वस्तु बाजार विश्व में मशहूर हो गयी थी। लेकिन इस साल के जुलाई माह तक शांगहाई स्टॉक बाजार में ईवू व्यापारी सिटी का मूल्य 5.17 अरब अमेरिकी डॉलर था, जबकि अलीबाबा अमेरिकी शेयर बाजार मूल्य 6.7 खरब अमेरिकी डॉलर पार था। इसलिए ई-कॉर्मस के विकास के लिए ईवू छोटी वस्तु थोक बाजार को लम्बा रास्ता तय करना है।

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories