सूचना:चाइना मीडिया ग्रुप में भर्ती

कोरोना वायरस के अचानक प्रकोप से महामारी से बच्चों की देखरेख की जरूरत

2020-03-12 10:00:00
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

कोरोना वायरस के अचानक प्रकोप से महामारी से बच्चों की देखरेख की जरूरत

17 फरवरी को डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक टेड्रोस अधनोम घेब्रेयसस ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो जारी किया और स्वेच्छा से अस्थायी मां बनाने वाली नर्सों की सराहना की। इस वीडियो में आनहुई प्रांत के आनछिंग शहर के यिंगच्यांग डिस्ट्रिक्ट के एक परिवार में सभी बड़े आदमी कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। उन्हें अस्पताल में भेजे जाने के बाद उन के दो बच्चों की देखभाल नहीं की जा सकती। चूंकि उन के दोनों बच्चे बहुत छोटे हैं एक दो महीनों का है, जबकि दूसरा चार साल का। इसलिए स्थानीय चिकित्सक संस्था की छह नर्सों ने स्वेच्छा से अस्थायी मां बनीं। वे बच्चों को दूध पिलाती हैं, नहलाती हैं और उनकी देखभाल करती हैं।

टेड्रोस अधनोम घेब्रेयसस ने सोशल मीडिया पर इस वीडियो को साझा करते समय यह भी लिखा, “महामारी के मुकाबले में चिकित्सक सब से बड़ा दबाव सहते हैं। चीनी नर्सों की कार्यवाई सराहनीय है। इस वीडियो से जाहिर है कि नर्स अपनी मेहनत और प्यार से लोगों की जान को बचाने की हरसंभव कोशिश कर रही हैं।”

इस वीडियो से कई विदेशी नेटीजन भी प्रभावित हुए। नेटीजन थेहेई ने लिखा कि नर्स ही चिकित्सक स्वास्थ्य की बहाली की प्रक्रिया में अहम भूमिका अदा कर सकती हैं। अन्य एक नेटीजन जेद्स ने कहा कि चीनी नर्स एंजल की तरह हैं। रोज उन्हें सुरक्षात्मक कपड़े पहनकर अनेक घंटों के लिए काम करना पड़ता है। हम कल्पना कर सकते हैं कि यह बहुत कठिन बात है।

12MoreTotal 2 pagesNext

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories