सूचना:चाइना मीडिया ग्रुप में भर्ती

वर्गाकार कक्ष अस्पतालों में मरीजों की स्थिति कैसी है

2020-02-12 10:00:00
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

वर्गाकार कक्ष अस्पतालों में मरीजों की स्थिति कैसी है

वर्गाकार कक्ष अस्पतालों में इस लड़का जैसे अनेक लोग अपने तरीके से समय बिताते हैं। सोशल मीडिया पर हम ने देखा कि कुछ महिलाएं अस्पताल में नाच रही हैं और व्यायाम कर रही हैं। मैडम हो इन में से एक है। पत्रकार के साथ साक्षात्कार में उन्होंने कहा कि अब आपात काल है। खास तौर पर चिकित्सकों के लिए यह बहुत कठिन वक्त है। हम मरीजों को चिकित्सकों का समर्थन करना चाहिए। आरामदेह रवैये से ही उपचार का अच्छा परिणाम मिल सकेगा। मैडम हो वर्गाकार कक्ष अस्पताल में चार दिनों के लिए रह चुकी हैं। रोज़ वे अपने सोशल मीडिया पर अपनी स्थिति के बारे में दिखाती हैं। वे कभी पुस्तक पढ़ती हैं, कभी नाचने जैसा व्यायाम करती हैं।

इन लोगों की कार्यवाइयों से वुहान के नागरिकों की आशावान की भावना प्रतिबिंबित है। मैडम हो ने पत्रकार से बताया कि उन की छह हैसियत हैं, यानी माता, पत्नी, बेटी, बहु, दीदी और भाभी। उन्होंने कहा कि वे संघर्ष करने को तैयार हैं।

गौरतलब है कि 3 फरवरी की रात को तीन वर्गाकार कक्ष अस्पतालों का निर्माण शुरू किया गया, अभी तक कुल 15 ऐसे अस्पतालों का निर्माण हो चुका है, जिन में करीब 10 हजार बैड उपलब्ध हैं। साथ ही चीनी राष्ट्रीय स्वास्थ्य कमेटी ने 3 फरवरी से देश के विभिन्न स्थलों से 1400 नर्सों और नये चिकित्सक उपकरणों व सामग्री को वुहान भेजा। संबंधित कर्मचारियों ने भी अस्पतालों में काम करने लगा है। वर्गाकार कक्ष अस्पतालों में जीवन और चिकित्सक संरचनाओं का स्पष्ट सुधार आया है।

HomePrev12Total 2 pages

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories