शिनच्यांग में पर्यटन उद्योग का विकास

2018-07-18 10:00:00
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
1/6

उत्तर पश्चिमी चीन के शिनच्यांग वेवुर स्वायत प्रदेश के विशाल और खास पर्यावरण ने वहां के प्रचुर श्रेष्ठ पर्यटन संसाधन पैदा हुए। इधर के सालों में शिनच्यांग ने रेशम मार्ग की आर्थिक पट्टी के निर्माण को आगे बढ़ाकर पर्यटन उद्योग को सामरिक स्तंभ उद्योग और उच्च गुणवत्ता वाले आर्थिक विकास का अहम इंजन माना। स्थानीय पर्यटन उद्योग विकास के नये युग में प्रवेश हो चुका है।

चीन के शिनच्यांग की राजधानी उरुमछी के अंतर्राष्ट्रीय बाजार में व्यापार करने वाली वेवुर लड़की जुहेरे एरेकिन ने 8 साल तक व्यापार किया। उन्होंने पत्रकार से कहा कि इधर के दो सालों में मेहमान ज्यादा हो गये हैं और उनका व्यवसाय बेहतर होने लगा है। उरुमछी अंतर्राष्ट्रीय बाजार में एरेकिन की तरह 3000 से ज्यादा व्यापारी हैं, जिनमें कई लोग पड़ोसी देशों से भी आए थे। यह बाजार विविधतापूर्ण विशेष उत्पादों, पर्यटन उत्पादों का प्रदर्शन केंद्र बन चुका है। शिनच्यांग अंतर्राष्ट्रीय बाजार की संस्कृति व पर्यटन उद्योग की कंपनी के उप निदेशक निंग छी ने कहा, अंतर्राष्ट्रीय बाजार की कुल 7 इमारतों की 3 इमारतों में ईरान, इस्तांबुल, पाकिस्तान, भारत, रूस और कजाकस्तान आदि पड़ोसी देशों के उत्पाद हैं।

विश्व में सबसे बड़ा किला स्टाइल बाजार होने के नाते उरुमछी अंतर्राष्ट्रीय बाजार ने पुराने रेशम मार्ग के व्यापार की समृद्धि प्रतिबिंबत की। गहरे स्थानीय रीति-रिवाज और लोक विशेषता होने से यह बाजार शिनच्यांग का दौरा करने वाले पर्यटकों के शॉपिंग करने का सबसे अच्छा स्थल माना जाता है। निंग छी के मुताबिक, मध्य एशिया में एक पट्टी एक मार्ग से जुड़े देशों की समानताएं हैं। लोग शिनच्यांग का दौरा करते समय अवश्य ही बाजार देखने आते हैं। यह विश्व में सबसे बड़े पैमाने वाला किला स्टाइल बाजार है। रेशम मार्ग की संस्कृति का टीम होने वाला यह अंतर्राष्ट्रीय बाजार हमारे यहां का नामकार्ड बन चुका है।

संस्कृति पर्यटन की आत्मा है, पर्यटन संस्कृति का माध्यम है। संस्कृति ने पर्यटन को प्रचुर उत्पाद प्रदान दिया, जबकि पर्यटन ने सांस्कृतिक उत्पादों के लिए बड़ा बाजार दिया। संस्कृति और पर्यटन के मेल से पर्यटन और जीवित शक्ति से ओतप्रोत हो गया है। इधर के सालों में शिनच्यांग ने प्रचुर ग्रामीण पर्यटन संसाधन और विशेष संस्कृति के सहारे पर्यटन उद्योग के निरंतर आगे विकसित करता रहता है। शिनच्यांग वेवुर स्वायत प्रदेश की पर्यटन विकास कमेटी की उप प्रधान गुली अबलिमू ने परिचय देते हुए बताया, शिनच्यांग में पर्यटन संसाधन बहुत प्रचुर हैं। यहां 5 विश्व स्तरीय प्राकृतिक संसाधन, 6 सांस्कृतिक धरोहर, 3 विश्व स्तरीय गैर सांस्कृतिक विरासतें और 113 राष्ट्रीय स्तरीय विरासतों की संरक्षण इकाइयां हैं। शिनच्यांग वेवुर स्वायत प्रदेश बहुजातीय इकट्ठा करने का स्थल है। हरेक जाति की अपनी जातीय विशेषता और जातीय रीरित रिवाज है। शिनच्यांग के नृत्य गान, वेशभूषा और रंग बिरंगे स्वादिष्ट व्यंजन देश विदेश के पर्यटक पसंद करते हैं।

इधर के सालों में शिनच्यांग ने खुद को रेशम मार्ग की आर्थिक पट्टी का पर्यटन केंद्र बनाने की कोशिश की। 2017 में शिनच्यांग ने देश विदेश के कुल 10 करोड़ से ज्यादा पर्यटकों का सत्कार किया और पर्यटन से मिली कुल आमदनी 1 खरब 82 अरब 20 करोड़ चीनी युआन तक पहुंची। शिनच्यांग के जीडीपी में पर्यटन का योगदान 16 प्रतिशत से अधिक रहा। शिनच्यांग स्वायत प्रदेश की पर्यटन विकास कमेटी की उप प्रधान गुली अबलिमू ने परिचय देते समय बताया कि आर्थिक विकास में पर्यटन उद्योग का अनुपात निरंतर उन्नत होता रहा। यह संबंधित बुनियादी संरचनाओं के निरंतर परिपूर्ण होने से लाभ मिलता है। उनके मुताबिक, बुनियादी संरचनाओं के निर्माण और पर्यटन सेवा आदि क्षेत्रों में शिनच्यांग निरंतर परिपूर्ण करने की कोशिश कर रहा है। अब शिनच्यांग में 5 ए वाले दर्शनीय स्थलों की संख्या 12 तक पहुंची है, जो चीन के उत्तर पश्चिम पाँच प्रांतों में पहले स्थान पर रहा है। साथ ही स्टार के ऊपर होटलों की संख्या भी 300 से अधिक और ट्रैवल एजेंसियों की संख्या करीब 400 हो चुकी है।

इधर के सालों में शिनच्यांग में पर्यटन उत्पाद निरंतर प्रचुर होने लगे हैं। शिनच्यांग ट्रैवल एजेंसी की एक जिम्मेदारी चाओ शोहोंग ने कहा, शिनच्यांग में सर्दियों में पर्यटन भी गर्म होने लगा है। उरुमछी के दक्षिणी रेशम मार्ग का एक स्की रिज़ॉर्ट बहुत लोकप्रिय है। अब हम मुख्यतः सर्दियों व वसंतकाल के पर्यटन का प्रसार करते हैं। कारण यह है कि शिनच्यांग में गर्मियों व शरत के मौसम में मेहमान ज्यादा आते हैं। अब हम चार ऋतुओं में शिनच्यांग की मनोहरता को पर्यटकों को दिखाने की कोशिश कर रहे हैं। यदि शिनच्यांग में पर्यटन साल की चार ऋतुओं का संतुलित विकास हो सका, तो पर्यटन उद्योग सचमुच शिनच्यांग का स्तंभ उद्योग बन सकेगा।

 

शेयर