अंतरिक्ष स्टेशन का स्वतंत्र प्रचलन करेगा रूस

2018-04-18 13:00:00
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

अंतरिक्ष स्टेशन का स्वतंत्र प्रचलन करेगा रूस

अंतरिक्ष स्टेशन का स्वतंत्र प्रचलन करेगा रूस

रूसी अंतरिक्ष ग्रुप के जनरल मैनेजर कोमारोव ने हाल में मीडिया से कहा कि रूस 2021 में अंतरिक्ष में तीन अंतरिक्ष कैप्सूल प्रक्षेपित करेगा। मौके पर रूस को अंतरिक्ष स्टेशन के कार्य का स्वतंत्र प्रचलन करने के लिए समर्थ है।

कोमारोव ने बताया कि यदि 2025 के बाद अन्य अंतर्राष्ट्रीय सहयोग साझेदार सहयोग जारी रखने से इंकार कर देते हैं, तो रूस खुद की शक्ति से अंतरिक्ष स्टेशन का प्रचलन भी कर सकेगा। उन्होंने कहा कि नया अंतरिक्ष कैप्सूल अंतरिक्ष स्टेशन को ऊर्जा, प्रेरणा शक्ति, संचार और जान आदि क्षेत्रों की गारंटी दे सकेगा। लेकिन रूस को पक्का विश्वास है कि अंतर्राष्ट्रीय साझेदारों के साथ सहयोग करने से प्रचलन और कारगर हो सकेगा।

उधर, अमेरिकी नासा ने 12 फरवरी को 2019 वित्तीय वर्ष की बजट रिपोर्ट जारी की और घोषणा की कि अमेरिका सरकार अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन के वाणिज्यकरण को लागू करने की योजना बनाएगी और 2025 में अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन के प्रत्यक्ष समर्थन को खत्म करेगी।
गौरतलब है कि अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन की स्थापना 1998 में हुई,जो सूक्ष्म गुरुत्वाकर्षण के वातावरण में अनुसंधान प्रयोगशाला की भूमिका अदा करता है। अंतरिक्ष स्टेशन में कुल 1 खरब अमेरिकी डॉलर की पूंजी लगायी गयी है। इसके प्रचलन के लिए अमेरिका और रूस ने प्रमुख भूमिका अदा की, जबकि जापान, कनाडा और यूरोपीय अंतरिक्ष ब्यूरो के सदस्य देशों ने सहयोग किया है। शुरू में अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन का डिजाइन जीवन सिर्फ़ 15 साल था, लेकिन बाद में बार बार बढ़ाया जाता रहा है। अब 2024 तक बढ़ाया गया है।

हाल में रूस का सोयुज़ अंतरिक्ष यान अंतरिक्ष यात्रियों द्वारा पृथ्वी से अंतरिक्ष स्टेशन तक जाने वाला एकमात्र वाहन बना। रूस ने जनवरी 2018 में कहा कि अंतरिक्ष स्टेशन के रिटायर होने के बाद रूस अपने कैप्सूल भाग के आधार पर नये अंतरिक्ष स्टेशन का निर्माण करेगा।

 

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories