सूचना:चाइना मीडिया ग्रुप में भर्ती

2018 में चीनी विशेषता वाला विदेशी राजनीति में अहम कार्य क्या हैं?

2018-02-07 06:00:00
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

आंकड़े बताते हैं कि अभी तक चीन 80 देशों व संगठनों के साथ एक पट्टी एक मार्ग के सहयोग समझौते पर हस्ताक्षर कर चुका है, 30 से ज्यादा देशों के साथ उत्पादन ऊर्जा सहयोग कर चुका है और 24 देशों में 75 विदेशी आर्थिक व व्यापिरक सहयोग क्षेत्रों का निर्माण कर चुका है। एक पट्टी एक मार्ग से संबंधित देशों में चीनी कारोबारों का पूंजी निवेश 50 अरब अमेरिकी डॉलर को पारा है। वांग ई ने कहा कि चीन एक पट्टी एक मार्ग के निर्माण को आगे बढ़ाएगा और आपसी लाभ वाले सहयोग के जरिए विश्व के विभिन्न देशों को लाभ देगा। वांग ई के मुताबिक,"हम नीति, संरचनाओं, व्यापार, पूंजी निवेश और जनता के आपसी संपर्क को अच्छी तरह अंजाम देंगे और और ज्यादा देशों के साथ एक पट्टी एक मार्ग के निर्माण की सहमति पर मंजूरी देंगे। चीन-पाक आर्थिक कॉरिडोर से चीन-लाओस और चीन-म्यांमार आर्थिक कॉरिडोर तक, ग्रीस के पिराईस बंदरगाह (Port of Piraeus) से म्यांमार के क्याओकप्यू(Kyaukpyu) बंदरगाह तक, एशिया के चीन-लाओस रेलवे और चीन-थाईलैंड रेलवे से अफ्रीका, यूरोप यहां तक लातिन अमेरिका की रेलवे परियोजनाओं तक, हम एक पट्टी एक मार्ग के निर्माण को अच्छी तरह अमल में लाऐंगे और यथार्थ रूप से व्यापक विचार-विमर्श, साझा सहयोग और सहभागी लाभ के विचारधारा का साझा उपभोग करेंगे।"

वांग ई के मुताबिक 2018 में चीन की विदेशी नीति वैश्विक साझेदारी संबंधों के नेटवर्क का विस्तार करेगी और नये ढंग वाले अंतर्राष्ट्रीय संबंधों की रचना को आगे बढ़ाएगी। पड़ोसी विकासशील देशों से प्रस्थान होकर चीन विश्व में मानव साझे भाग्य वाले समुदाय के निर्माण को आगे बढ़ाएगा। चीन चीनी विशेषता वाले गर्म सवालों का हल करने के उपायों की खोज करेगा और विश्व की स्थिरता के लिए और बड़ी रचनात्मक भूमिका अदा करेगा। चीन अपनी परिस्थिति और जनता की मांग के मुताबिक घरेलू विकास की सेवा को प्रगाढ़ करेगा और विदेशों में चीन के हितों की रक्षा करेगा।

HomePrev12Total 2 pages

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories