सूचना:चाइना मीडिया ग्रुप में भर्ती

भारतीय बाजार का पहला बड़ा मोबाइल फ़ोन ब्रांड बना मी-फ़ोन

2018-01-24 07:00:00
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

भारतीय बाजार का पहला बड़ा मोबाइल फ़ोन ब्रांड बना मी-फ़ोन

भारतीय बाजार का पहला बड़ा मोबाइल फ़ोन ब्रांड बना मी-फ़ोन

पिछले साल विभिन्न क्षेत्रों में चीन और भारत का सहयोग व विकास बेहतर था, खासतौर पर चीनी इक्नॉमिक उत्पादकों से संबंधी व्यापारी गतिविधियां भारत में अच्छा प्रदर्शन हुआ था। चीनी नवाचार कंपनी का प्रतिनिधित्व करने वाली मी-फ़ोन कंपनी ने भारत में उल्लेखनीय उपलब्धियां हासिल की हैं। इस साल की तीसरी तिमाही में मी-फ़ोन भारतीय बाजार का पहला बड़ा मोबाइल फ़ोन ब्रांड बना। 

भारत विश्व का दूसरा बड़ी आबादी वाला बड़ा देश है। कई चीनी उद्यमी इस विशाल बाजार को बड़ा महत्व देते हैं। भारत के 4-जी युग में प्रवेश करने के साथ भारत विश्व में सबसे तेज़ विकास होने वाले स्मार्ट मोबाइल फ़ोन के बाजारों में से एक बन चुका है। इधर के कई सालों में चीन की कई स्मार्ट फ़ोन कंपनियां भारत में तेज़ी से व्यवसाय का विस्तार कर रही हैं। मी फ़ोन, वीवो और ह्वावेई आदि कंपनियों को भारत में उल्लेखनीय प्रगतियां मिली हैं। जबकि इन में मी फ़ोन का विकास सबसे तेज़ है।

इस साल के नवम्बर में अंतर्राष्ट्रीय डेटा कंपनी आईडीसी द्वारा जारी ताज़ा आंकड़े बताते हैं कि इस साल की तिमाही में भारत में कुल 92 लाख मी फ़ोन बिके, जो भारतीय बाजार के 23.5 प्रतिशत थी। यह इस बात का द्योतक है कि मी फ़ोन सैमसंग को पीछे छोड़कर भारतीय बाजार का पहला बड़ा मोबाइल फ़ोन ब्रांड बन गया है। इसकी चर्चा में मी फ़ोन के अंतर्राष्ट्रीय डिप्टी सीईओ एवं भारतीय जिम्मेदार मनु जैन ने कहा, इसके दो मुख्य कारण हैं। पहला, हमने उत्पाद के नवाचार पर ध्यान दिया है। हम सबसे नये उत्पाद हरेक उपभोक्ता को देना चाहते हैं। पिछले कई सालों में हमने करीब 4 हजार पेटेंटों का आवेदन किया, जिनमें करीब 3 सौ पेटेंट पिछले डेढ़ साल में मिले थे। जबकि इन 4 हजार पेटेंटों में करीब आधा भाग अंतर्राष्ट्रीय स्तर हैं। दूसरा, हमने मी फ़ोन की बिक्री फ़ार्मूले का नवाचार किया।

123MoreTotal 3 pagesNext

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories