चीनी शेरिंग बाइक मोबाइक का नैरोबी में प्रवेश

2017-12-10 21:21:11
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
1/8
नैरोबी के शीर्ष नेता माइक सोनको (बायं, पहले) मोबाइक साइकिलिंग यात्रा गतिविधि के लिए झंडा फैहराने को तैयार हुए

 तीसरे संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण सम्मेलन 4 दिसम्बर को केन्या की राजधानी नैरोबी स्थित संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (यूएनईपी) के मूख्यालय में उद्घाटित हुआ। इस तीन दिवसीय सम्मेलन की थीम है “शून्य प्रदूषण पृथ्वी की ओर बढ़ें”, जिसमें मुख्य तौर पर पर्यावरण प्रदूषण मुद्दे पर चर्चा हुई। उल्लेखनीय बात यह है कि सम्मेलन के औपचारिक उद्घाटन से पहले इससे जुड़े कुछ कार्यक्रमों पर लोगों की नज़र टिकी हुई थी। 3 दिसम्बर को संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम के निमंत्रण पर चीन में लोकप्रिय रही शेरिंग बाइक यानी मोबाइक अफ्रिकी महाद्वीप में प्रवेश कर पहली बार नैरोबी की सड़कों पर नज़र आई।

संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम के तहत मोबाइक साइकिल चलाने वाली गतिविधि नैरोबी शहर के केंद्र में आयोजित हुई। “प्रदूषण को दूर करने वाली साइकिलिंग” शीर्षक गतिविधि का मुख्य उद्देश्य शहर के अनवरत आधारभूत संस्थापन के प्रति नागरिकों की समझ और जानकारी बढ़ाना और साइकिल का इस्तेमाल करने का प्रोत्साहन देना है। इस गतिविधि में कुल 200 से अधिक लोगों ने भाग लिया। संयुक्त राष्ट्र उप महासचिव और यूएनईपी के कार्यकारी निदेशक एरिक सोल्हीम, केन्या स्थित चीनी राजदूत और यूएनईपी स्थित चीनी प्रतिनिधि ल्यू श्यानफ़ा, मोबाइक की संस्थापक हू वेइवेइ ने इसमें भाग लिया। नैरोबी के शीर्ष नेता माइक सोनको ने साइकिलिंग गतिविधि शुरु करने का झंडा फैहराया।     

मित्रों, मोबाइक अब चीन में बहुत लोकप्रिय हो रहा है, जो देश के विभिन्न शहरों की सड़कों पर देखी जा सकती हैं। चीन में मोबाइक साइकिल को केवल 19 महीने हुए हैं। चीनी नागरिकों के साइकिल के प्रयोग का अनुपात दो गुना हो चुका है, जिससे 44 लाख टन कार्बन उत्सर्जन कम हुआ। इस प्रकार के हरित यात्रा तरीके को अंतरराष्ट्रीय समुदाय में व्यापक मान्यता भी हासिल हुईं। संयुक्त राष्ट्र उप महासचिव, यूएनईपी के कार्यकारी निदेशक एरिक सोल्हीम ने कहा:

 “शेरिंग बाइक चलाना ऊर्जा किफ़ायती वाली यात्रा तरीका है, हम इसका विस्तार करना चाहते हैं, ताकि शहरों में प्रदूषण को कम किया जा सके। अधिक स्वस्थ, सुन्दर और मित्रवत निवास पर्यावरण का निर्माण किया जा सके।”

साइकिल यात्रा गतिविधि में भाग लेने वाले चीनी राजदूत ल्यू श्यानफ़ा ने कहा कि मोबाइक चलाना यूएनईपी के कार्य विकास के समर्थन करने वाला चीन का ठोस कदम है। उनका कहना है:

 “इस गतिविधि के माध्यम से अधिकाधिक चीनी उद्योग और नागरिक विश्व पर्यावरण कार्य में भागीदारी को प्रोत्साहित किया जाएगा। इसके जरिए हमारा जीवन और सुन्दर एवं स्वच्छ बनेगा।”

नैरोबी सूर्य की किरणों में फूल के शहर के नाम से मशहूर है। यह शहर बहुत सुन्दर है और चार ऋतुओं में मौसम सुहावना होता है। संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम और संयुक्त राष्ट्र मानव बस्ती कार्यक्रम जैसी संस्थों के मुख्यालय यहां स्थित हैं। मोबाइक साइकिलिंग यात्रा करने वाली गतिविधि में भागीदारों ने कहा कि उन्होंने अच्छा अनुभव किया है। वे प्रदूषण को कम करने के लिए खुद का योगदान देने को तैयार है। मारिया मोगुएर केन्यावासी है। उन्होंने हमारे संवाददाता को बताया:

 “मुझे यह गतिविधि बहुत अच्छी लगी। इससे प्रदूषण के बारे में लोगों की सोच बढ़ेगी और साथ ही साइकिल चलाने से प्रदूषण कम करने वाली विचारधारा भी फैलेगी। आज मैं बेहद खुश हूँ। मोबाइक चलाना सुविधापूर्ण है, इन साइकिलों का रंग बहुत सुन्दर है।”  

 वहीं नैरोबी स्थित संयुक्त राष्ट्र के कर्मचारी ओसानी मूसा के पास सामान विचार है। उनका कहना है:

 “शेरिंग बाइक के प्रयोग से प्रदूषण कम होगा। अगर सब लोग इस प्रकार की यात्रा करते हैं, तो वायु प्रदूषण जरूर कम होगा।”

प्रदूषण को कम करने, हरित यात्रा करने और सार्वजनिक यातायात पर पड़े दबाव को कम करने जैसे क्षेत्रों में शैरिंग बाइक बहुत उल्लेखनीय है। लेकिन कई लोगों को यह भी शंका है कि कुछ देशों या शहरों में सड़क स्थिति शेरिंग बाइक के प्रसार के लिए अनुकूल है कि नहीं। चीनी मोबाइक की संस्थापक हू वेइवेइ के विचार में भिन्न-भिन्न देशों की ठोस स्थिति अलग-अलग होने के बावजूद साइकिल बिना सीमा की है। हरित यात्रा वाला तरीका भी सीमा-हीन है। पर्यावरण की रक्षा करने के लिए उद्योगों, सरकारों और नागरिकों की समान कोशिश होनी चाहिए। हू वेइवेइ ने कहा:

“शुरु में लोगों को यह शंका हुई कि यहां का पर्यावरण साइकिल चलाने के लिए अनुकूल नहीं है। लेकिन अगर हमने अपनी विचारधारा के अनुसार प्रयास किया, तो पर्यावरण साइकिल चलाने के लिए अधिक उचित होगा। मुझे आशा है कि मौजूदा पर्यावरण सम्मेलन के माध्यम से दुनिया भर में विभिन्न देशों की सरकारों को यह मालूम हुआ कि इस प्रकार के तरीके से हमारे पर्यावरण को ओर बेहतर बनाया जाएगा। ताकि लोगों का जीवन और स्वस्थ और खुशहाल बदलेगा।”

बताया जाता है कि पेइचिंग मोबाइक कंपनी ने नैरोबी में आयोजित इस साइकिलिंग गतिविधि के लिए कुल सौ से अधिक साइकिलें तैयार कीं। तीसरे विश्व पर्यावरण सम्मेलन के दौरान इन साइकिलों का प्रयोग यूएनईपी कार्यलय में सम्मेलन में भाग लेने वाले कर्मचारियों ने किया। सम्मेलन के बाद इन्हें यूएनईपी समेत नैरोबी में संयुक्त राष्ट्र संस्थाओं के कार्यालयों में रखा जाएगा। ताकि इन संस्थाओं में कार्यरत कर्मचारी इनका प्रयोग कर सकें। साइकिल के प्रोत्साहन के अलावा मौजूदा पर्यावरण सम्मेलन के दौरान भागीदारों को अपने-अपने कप और रिकोर्डिंग के लिए खुद के इलेक्ट्रेनिक उपकरणों के इस्तेमाल करने को भी प्रेरित किया गया। इसका उद्देश्य काग़ज़ अपशिष्ट और पर्यावरण प्रदूषण को कम करना है। ताकि यूएन पर्यावरण सम्मेलन में “शून्य प्रदूषण वाले पृथ्वी की ओर बढ़े” वाली थीम का ठोस रूप से कार्यान्वयन किया जा सके।  

 

शेयर