चोंग साम और पारंपरिक चीनी वेश-भूषण

2017-10-12 10:22:22
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

चोंग साम और पारंपरिक चीनी वेश-भूषण

चोंग साम और पारंपरिक चीनी वेश-भूषण

चोंग साम की उत्पत्ति छिंग राजवंश में मानचू जाति के महिला वस्त्रों से हुई और चीनी पारंपरिक परिधान संस्कृति का आदर्श मॉडल माना जाता रहा है। वह समग्र स्टाइल में चीनी संस्कृति की मेल एकता की विशेषता के अनुरूप ही नहीं, साथ ही उस की आभूषण तकनीक में भी पूर्व की खास विशिष्टता की झलक मिलती है। इस के अलावा चोंग साम नारी को सुडौल व छरहरा दिखाने में सहायक भी होता है, ऊंची एड़ी वाले जूते के साथ नारी के दैहिक भार का केन्द्र ऊंचा उठा सकता है जिस से पूर्व की स्त्रियों की सुशीलता, भद्रता और शिष्टता की छवि दृष्टिगोचर होती है। अतएव चोंग साम चीनी परिधान में अतूल्य पहचान बनाकर लम्बे अरसे से लोकप्रिय रहा है।

1234...MoreTotal 5 pagesNext

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories