वुहान में स्कूल व किंडरगार्टन फिर खुले

2020-09-03 08:51:24
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

“यांग्त्ज़ी नदी के किनारे हरित पहाड़ खड़े हैं। यहां हम जवानी का गीत गा रहे हैं......”वुहान शहर की नंबर 49 मीडिल स्कूल के खेलकूद मैदान में विद्यार्थियों के स्कूल गीत गाने की आवाज़ फिर एक बार गुंजने लगी। उधर हूपेई प्रांत के वूछांग श्वेइक्वोहू नंबर वान प्राइमरी स्कूल के विद्यार्थियों ने पीठ पर स्कूल बैग लादकर स्कूल के अंदर प्रवेश किया। लाइन में खड़े होकर शारीरिक तापमान की जांच करके और हाथ धोने के बाद वे क्लास रूम में शिक्षा ले सकते हैं। उधर वुहान शहर के छाएड्येन जिले के अधीन नंबर दो किंडरगार्टन के द्वार पर एक भाषा बोलने और शारीरिक तापमान की जांच करने वाला रोबोट “श्याओनो”ने सभी बच्चों का स्वागत किया। बहुत लंबी छुट्टी के बाद 1 सितंबर को वुहान शहर की मीडिल स्कूल, प्राइमरी स्कूल व किंडरगार्टन के 13 लाख 99 हजार बच्चे फिर एक बार स्कूल वापस लौटे। चुपचाप कैंपस में“क्लास शुरू करें”,“खड़े हो जाओ”“नमस्कार शिक्षक”की आवाज़ फिर गुंजने लगी।

सुबह साढ़े सात बजे वुहान शहर के छिंगशान जिले की कांगछेन नंबर 12 मीडिल स्कूल के द्वार पर विद्यार्थियों ने लाल कार्पेट पर चलते हुए शारीरिक तापमान की जांच करवाकर स्कूल में प्रवेश किया। इस विशेष सेमिस्टर का स्वागत करने के लिये स्कूल ने द्वार पर पृष्ठभूमि बोर्ड और हस्ताक्षर की दीवार की तैयारी की। सभी विद्यार्थी व उनके मां-बाप इस पृष्ठभूमि बोर्ड के सामने फोटो खिंचवा सकते हैं। फिर बच्चों ने लाल कार्पेट पर चलकर स्कूल में प्रवेश किया, और हस्ताक्षर की दीवार पर अपना नाम भी लिखा। यह उनके लिये एक बहुत विशेष स्वागत रस्म है।

सुबह आठ बजे हूपेई प्रांत के वुछांग श्वेइक्वोहू नंबर वान प्राइमरी स्कूल के द्वार पर स्कूल के कुलपति मा शिनईन ने कहा कि इस दिन का स्वागत करने के लिये हमने पेशेवर व्यक्तियों को आमंत्रित करके स्कूल का उच्च स्तरीय कीटाणुशोधन कार्य किया। साथ ही हमने विद्यार्थियों के लिये स्कूल में प्रवेश करने से स्कूल से चले जाने तक की पूरी प्रक्रिया और महामारी की आपातकालीन रोकथाम प्रक्रिया का प्रबंध किया। स्कूल के सभी शिक्षकों व कर्मचारियों ने कई बार इसका अभ्यास किया है, ताकि विद्यार्थियों के स्वास्थ्य व सुरक्षा को सुनिश्चित किया जा सके।

सौ वर्षों से पहले उत्कृष्ट सर्वहारा क्रांतिकारी डोंगबीवू द्वारा स्थापित वुहान मीडिल स्कूल ने अपनी सौवीं वर्षगांठ के उत्सव को नये सेमिस्टर के उद्घाटन समारोह से जोड़ा। इसी दिन 1500 से अधिक विद्यार्थियों ने एक विशेष शिक्षा ली। डोंगबीवू के पोते, डोंगबीवू विचार अनुसंधान संघ के अध्यक्ष डोंग शाओरेन ने सभी विद्यार्थियों व शिक्षकों को इस स्कूल की स्थापना करने का आरंभिक लक्ष्य व स्कूल का इतिहास बताया। वुहान मीडिल स्कूल के डीन यांग तिंगछेन ने कहा कि हमने नये सेमिस्टर की उद्घाटन रस्म और स्कूल की स्थापना की सौवीं वर्षगांठ को जोड़कर विद्यार्थियों को एक वैचारिक व राजनीतिक शिक्षा दी, क्योंकि एक व्यक्ति के पास जानकारी होने के साथ अच्छा चरित्र भी होना चाहिये।

नये सेमिस्टर के उद्घाटन समारोह में भाग लेने के बाद वुहान नंबर 49 मीडिल स्कूल के विद्यार्थी इनडेलवेन बहुत उत्साहित हैं। इनडेलवेन समेत इस स्कूल के हर विद्यार्थी को स्कूल से महामारी की पृष्ठभूमि के तले प्रकाशित एक पाठ्यपुस्तक मिली। शिक्षकों ने इस पुस्तक को लिखते समय वुहान में महामारी की रोकथाम करने के दौरान पैदा हुई प्रभावित कहानियां इसमें शामिल की हैं। वुहान नंबर 49 मीडिल स्कूल के प्रिंसिपल ल्वू श्यांगतोंग ने कहा कि शिक्षक महामारी की रोकथाम के दौरान आसपास में पैदा हुई कहानियां शिक्षा में डाल दी, ताकि विद्यार्थी यह समझ सकें कि हर विभाग, हर इकाइ व हर बस्ती ने चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की केंद्रीय कमेटी और राज्य परिषद द्वारा की गयी तैनाती को अच्छी तरह से लागू किया, जिससे हमें महामारी के मुकाबले में सफलता मिल सकी।

इस वर्ष बहुत-से स्कूलों ने विद्यार्थियों के लिये उपहार की तैयारी की। हुपेई प्रांत के वुछांग प्रायोगिक मीडिल स्कूल की शाहू शाखा ने खास तौर पर कर्तव्य कार्ड तैयार किया। जिस पर“परिजनों से नमस्कार बोलना”,“संख्या के अनुसार अपनी क्लास रूम खोजना”, और“शांत से पाँच मिनट बैठना”आदि कर्तव्य लिखे हुए हैं। जब बच्चे ने एक कर्तव्य पूरा किया, तो उन्हें शिक्षक से पुरस्कार के रूप में एक लाल फूल मिल सका।

उधर होंगशान जिले में स्थित वुलोलू प्रायोगिक प्राइमरी स्कूल द्वारा विद्यार्थियों के लिये तैयार उपहार बैग में ब्रश का एक डिब्बा, एक पेंसिल, एक मास्क, एक पत्र, और एक काश कार्ड शामिल हुए हैं। जिनमें विद्यार्थियों के प्रति स्कूल की प्रतीक्षा व स्वागत छिपा हुआ है।

वुहान शहर के शिक्षा ब्यूरो के उप प्रधान वांग छीफ़ू ने कहा कि 1 सितंबर को वुहान शहर के 2842 मीडिल स्कूल, प्राइमरी स्कूल व किंडरगार्टन व्यापक रूप से खुल गये हैं। उनमें प्राइमरी स्कूल व किंडरगार्टन महामारी के बाद पहली बार खुले हैं। महामारी की आम रोकथाम की पृष्ठभूमि में वर्तमान में वुहान शहर के जोखिम स्तर के आधार पर वुहान शहर के शिक्षा ब्यूरो ने यह आग्रह किया कि मीडिल स्कूल व प्राइमरी स्कूल के विद्यार्थियों को बैग में मेडिकल मास्क लेना पड़ता है। हालांकि स्कूल के अंदर विद्यार्थियों को मास्क पहनने की ज़रूरत नहीं है। अगर स्कूल के बाहर विद्यार्थी को बुखार आया या संदिग्ध लक्षण प्राप्त हुआ, तो उन के मां-बाप को ठीक समय पर स्कूल को रिपोर्ट देनी पड़ती है, साथ ही विद्यार्थी को इलाज के लिये अस्पताल भेजना पड़ता है।

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories