शांति व न्याय से चीन में वर्ष 2020 की राष्ट्रीय कॉलेज प्रवेश परीक्षा आयोजित

2020-07-16 20:11:27
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
1/3

दोस्तों, 7 जुलाई को वर्ष 2020 चीन की राष्ट्रीय कॉलेज प्रवेश परीक्षा (एनसीईई) शुरू हुई। इसी दिन में हजारों विर्दायर्थियों ने परीक्षा स्थल में प्रवेश करके जिंदगी में एक बहुत महत्वपूर्ण परीक्षा शुरू की। चीन में शिक्षा को बड़ा महत्व दिया जाता है। इसलिये इस परीक्षा के दिन हमेशा ध्यान केंद्रित होता है। खास तौर पर इस वर्ष की स्थिति बहुत असाधारण है। कोविड-19 महामारी के प्रकोप के बाद एनसीईई पूरे चीन के दायरे में सब से बड़ी सामूहिक गतिविधि है। इसे सुचारू रूप से आयोजित करने और विद्यार्थियों की स्वास्थ्य सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिये चीन ने ऊपर से नीचे तक गंभीरता से तैनाती व प्रबंध किया है।

देश के स्तर पर चीनी राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग की वेबसाइट पर हाल ही में विद्यार्थियों के मां-बाप के लिये एनसीईई में महामारी की रोकथाम से जुड़े दस महत्वपूर्ण नोटिस जारी किए गए थे। मां-बाप को अपने बच्चों के लिये मास्क, दस्ताने, हाथ कीटाणुनाशक समेत व्यक्तिगत रक्षात्मक वस्तुएं व कीटाणुशोधन वस्तुएं तैयार करने की जरूरत थी। बच्चों को गंभीरता से परीक्षा के संबंधित नीति-नियम का पालन करके प्रवेश कार्ड, आईडी कार्ड, और परीक्षा से जुड़ी वस्तुएं व रक्षात्मक वस्तुएं लेनी थी। उन के अलावा मां-बाप को भी अपने आप महामारी की रोकथाम करने के लिए कहा गया था। उदाहरण के लिये परीक्षा से पहले और परीक्षा के दौरान अपने स्वास्थ्य की निगरानी करने को कहा गया था। अगर कोई समस्या हो, तो विद्यार्थियों से प्रत्यक्ष संपर्क नहीं रखने की हिदायत दी गयी थी। विद्यार्थियों के लिये भोजन तैयार करने में खाद्य-पदार्थों को अच्छी तरह पकाने के लिए कहा गया था।

चीन के विभिन्न क्षेत्रों में परीक्षा स्थलों में महामारी की रोकथाम करने के लिये तरह तरह कदम भी उठाये गये हैं, ताकि विद्यार्थियों की रक्षा की जी सके। पेइचिंग में परीक्षा स्थलों में कार्मिक घनत्व को कम करने के लिये हर क्लास रूम में छात्रों की संख्या पहले के 30 से कम होकर 20 तक पहुंच गयी। थ्येनचिन शहर में संभावित पुष्ट व संदिग्ध मामलों, अलगाव व बुखार होने वाले छात्रों के लिये 22 अलगाव परीक्षा स्थलों और 300 से अधिक अतिरिक्त अलगाव परीक्षा स्थलों की स्थापना की गयी। शानतुंङ प्रांत के चीनान शहर में महामारी की रोकथाम व नियंत्रण के विशेष दल के अलावा हर परीक्षा स्थल में तीन पेशेवर चिकित्सक भी तैनात किये गये हैं। शानशी प्रांत में हर परीक्षा स्थल में विशेष अलगाव क्लास रूम तैयार हैं। सारे प्रांत में कुल 117 अलगाव परीक्षा स्थलों की स्थापना की गयी। हर स्थल में कम से कम तीन अलगाव क्लास रूम तैयार किए गए है।

इस वर्ष की एनसीईई में सुरक्षा के साथ न्याय भी एक महत्वपूर्ण शब्द बन गया। वर्ष 1978 में चीन ने एनसीईई की बहाली की। बहुत किसानों व मज़दूरों के परिवारों से आए बच्चों ने इस परीक्षा द्वारा अपनी जिंदगी बदल दी। वे भिन्न व्यवसायों में सुयोग्य व्यक्ति बन गये। एनसीईई व्यवस्था से देश के विकास और समाज की प्रगति के लिये आरक्षित प्रतिभाएं तैयार की गयी। शिक्षा की निष्पक्षता की रक्षा करने के लिये हाल ही में चीनी शिक्षा मंत्रालय ने वर्ष 2020 की एनसीईई के प्रति शिक्षा मंत्रालय, पूरे चीन के 31 प्रांतों (स्वायत्त प्रदशों, केंद्र प्रशासित शहरों) के शिक्षा विभागों और प्रवेश परीक्षा संस्थानों के रिपोर्ट फ़ोन नंबर जारी किये। अगर कोई रिपोर्ट मिली, तो संबंधित विभाग ठीक समय पर इस बात की जांच करेंगे, और एनसीईई की समानता व निष्पक्षता को सुनिश्चित करेंगे।

बहुत सालों में अनगिनत चीनी लोगों के ख्याल से एनसीईई जिंदगी को बदलने का एक महत्वपूर्ण मौका है। लेकिन हाल के कई वर्षों में चीन के आर्थिक विकास और सामाजिक विविधता के कारण सफलता पाने का रास्ता ज्यादा से ज्यादा चौड़ा बन गया। इसलिये एनसीईई के प्रति लोगों की समझ भी धीरे धीरे बदल रही है। वर्ष 2003 में जब शी चिनफिंग चच्यांग प्रांत में चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की कमेटी के सचिव थे, तो उन्होंने यह कहा था कि हालांकि विश्वविद्यालय में प्रवेश करना एक बहुत खुशी की बात है, लेकिन अगर प्रवेश नहीं मिल सका, तो निराश भी नहीं होना चाहिये। क्योंकि रास्ता पैरों के नीचे है। एक व्यक्ति सफल होगा या नहीं?यह विश्वविद्यालय में प्रवेश करने पर निर्भर नहीं है, जो इस व्यक्ति की वास्तविक प्रतिभा पर निर्भर है।

बेशक, वर्तमान के चीनी समाज में सुयोग्य व्यक्ति बनने के तरीके रंगारंग हैं। चू श्वेएछिन उत्तर च्यांगसू प्रांत के स्वेईनिंग में पैदा हुई एक ग्रामीण लड़की हैं। उन्हें विश्वविद्यालय में कभी शिक्षा नहीं मिली। 17 वर्ष की उम्र में उन्होंने शांगहाई के कपड़ा उद्यम में काम शुरू किया, और अपनी कोशिश व मेहनत से वे इस व्यवसाय में एक विशेषज्ञ बन गयीं। उन्हें चीनी राष्ट्रीय श्रमिक मॉडल की उपाधि मिली। एनपीसी के एक सदस्य के रूप में वे हर साल पेइचिंग के जन वृहत भवन में सभी प्रतिनिधियों और चीन के नेताओं के साथ देश के महत्वपूर्ण मामलों की चर्चा करती हैं।

हाल ही में हांगचो में रहने वाले 25 वर्षीय कुरियर भाई ली छिंगहेन को हांगचो शहर में उच्च स्तरीय सुयोग्य व्यक्ति की उपाधि मिली। संबंधित नीति नियम के अनुसार उन्हें न सिर्फ़ हांगचो में पहला मकान खरीदने में दस लाख युआन की सब्सिडी के अलावा चिकित्सा बीमा, बच्चों की शिक्षा और गाड़ी लाइसेंस पाने में उदार नीति भी मिल सकती है।

शेयर