सूचना:चाइना मीडिया ग्रुप में भर्ती

शी चिनफिंग ने उन महिलाओं की प्रशंसा की

2020-03-19 16:16:03
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

जीवन भर आर्टीमिसिनिन का अध्ययन करने वाली थू योयो, चीनी राष्ट्रीय जन प्रतिनिधि सभा की श्रेष्ठ प्रतिनिधि च्वो छांगली, चीनी महिला वॉलीबॉल टीम की मज़बूत खिलाड़ी, और ग्रामीण क्षेत्रों में कोशिश करने वाली युवा अध्यापिका, उक्त सभी महिलाओं को चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग से प्रशंसा मिली है। पर उन के मन में कौन सा सपना व विश्वास होता है? और सुन्दर जिन्दगी के पीछे उन्होंने क्या बड़ा प्रयास किया है? आज के कार्यक्रम में हम आप लोगों को बताएंगे।

“चीन द्वारा स्वनिर्मित सी919 बड़े विमान का निर्माण पूरा किया गया। चीन की सुपर कंप्यूटर ने छठी बार विश्व रिकॉर्ड तोड़ दिया। चीनी वैज्ञानिकों द्वारा निर्मित डार्क मैटर डिटेक्शन उपग्रह का प्रक्षेपण किया गया। थू योयो चीन में नोबेल पुरस्कार प्राप्त करने वाली पहली वैज्ञानिक बनी। जिन से यह जाहिर हुआ है कि जिद करके सपना पूरा किया जा सकेगा।”वर्ष 2016 के नव वर्ष से पहले चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने नव वर्ष का संदेश देते समय उक्त बातें कहीं। बीते वर्ष 2015 का सिंहावलोकन करते हुए लोग थू योयो को उसी साल की अविस्मरणीय याद मानते हैं।

थू योयो ने एक पेपर में सच्चे दिल से अपना सपना बताया कि वे पुरातन चीनी चिकित्सा व हर्बल दवा से मानव के स्वास्थ्य को मजबूत करना चाहती हैं, ताकि सारी दुनिया के लोगों को इस से लाभ मिल सके। 60 से अधिक वर्षों में थू योयो चीनी चिकित्सा व हर्बल दवा के अध्ययन में व्यस्त हैं। आर्टीमिसिनिन की खोज से विश्व में मलेरिया के लाखों मरीजों की जान बचायी गयी।

जिन्दगी में शायद बहुत मुश्किलें आती हैं, लेकिन अगर तुम जिद करके पूरी कोशिश करोगे, तो तुम्हारा सपना अंत में पूरा होगा। चीनी राष्ट्रीय जन प्रतिनिधि सभा की महिला प्रतिनिधि च्वो छांगली 29 वर्ष की उम्र में बेरोजगार बन गयी। दस वर्षों की कोशिश के बाद उन्हें ज़रा सफलता मिली। पर उन के सामने विकल्प फिर आया। क्या वे ज्यादा लोगों का नेतृत्व करके सुन्दर व आराम जीवन बिताने का सपना पूरा कर सकेंगी?और दस वर्षों के विकास के बाद उन के नेतृत्व में चीनान सूरज की रोशनी नामक सेवा लिमिटेड कंपनी ने 20.9 लाख लोगों को रोजगार दिया, और करोड़ों परिवारों की सेवा दी। उन और सूरज की रोशनी कंपनी में काम करने वाली महिलाओं को शी चिनफिंग से प्रशंसा मिली। शी के अनुसार पारिवारिक सेवा एक नवोदित व्यवसाय ही है। खास तौर पर ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार की मांग होती है, और शहर में यह सेवा चाहिये। यह काम बहुत महत्वपूर्ण है, जो आपसी लाभ व दोनों जीत का एक काम है। आशा है आप लोग निरंतर रूप से यह कार्य अच्छी तरह से कर सकेंगी।

सूरज की रोशनी हमेशा वर्षा के बाद आती है। 80 के दशक के आरंभ में चीनी महिला वालीबॉल टीम सभी चीनी लोगों के प्रति गौरव बन गयी। वह चीन के विकास का द्योतक भी है। हालांकि शानदार उलब्धियां हासिल करने के बाद कुछ समय में यह टीम गतिरोध में फंस गयी। लेकिन वर्ष 2019 में उन्होंने बड़ी कोशिश करके फिर एक बार शानदार इतिहास रचा।

वर्ष 2019 के सितंबर में चीनी महिला वालीबॉल टीम ने 11 बार जीत पाने के अंक से विश्व कप जीता, और नए चीन की स्थापना की 70वीं वर्षगांठ के लिये एक मूल्यवान उपहार भेंट किया। शी चिनफिंग ने कई बार चीनी महिला वालीबॉल टीम की प्रशंसा की। उन के अनुसार इस टीम की भावना एक युग की भावना है। जिस में चीन के विकास के लिये कोशिश करने की शक्तिशाली आवाज़ निकली।

31वें ओलंपिक के चीनी खेल प्रतिनिधि मंडल से भेंट करते समय शी चिनफिंग ने खास तौर पर चीनी महिला वालीबॉल टीम की चर्चा की। उन्होंने कहा, हमारी चीनी महिला वालीबॉल टीम की प्रतिस्पर्द्धा का स्तर और शारीरिक स्थिति शायद विश्व में सब से श्रेष्ठ नहीं है। लेकिन इस टीम ने 12 वर्षों के बाद फिर एक बार ओलंपिक का स्वर्ण पदक जीता। यह जाहिर हुआ है कि इस टीम में कोशिश करने की भावना अभी तक होती है। सारे चीन की जनता इस भावना से प्रभावित हैं। जिन्दगी में बड़ी सफलता मिलने के मौके ज्यादा नहीं हैं, लेकिन बड़ी कोशिश करके इसे प्राप्त हो सकेगा। हमारे युग में बड़ी कोशिश करने की भावना चाहिये। और हमारे दो सौ वर्षीय लक्ष्य और चीनी राष्ट्र के महान पुनरुत्थान को पूरा करने में यह भावना भी चाहिये।

शायद आप का काम बहुत सामान्य है। जिसमें आप को उल्लेखनीय सफलता के गौरव व खुशी नहीं मिल सकती। जैसे ग्रामीण क्षेत्र में काम करने वाली युवा अध्यापिका मा ईंगछ्वेए व फ़ांग रोंग। वे चुपचाप से मेहनत कर रही हैं, और उन की कोशिश से ज्यादा से ज्यादा बच्चों ने पहाड़ से निकलकर अपना सपना पूरा किया। उन का काम भी बहुत महत्वपूर्ण है, जिसे वाहवाही मिलने के योग्य है। इस की चर्चा में शी चिनफिंग ने कहा कि, मुझे आशा है कि ज्यादा से ज्यादा शिक्षक गरीब ग्रामीण क्षेत्रों में काम कर सकेंगे, और वहां वे हमारे देश व अपनी जन्मस्थान के लिये सुयोग्य व्यक्तियों का प्रशिक्षण दे सकेंगे। ऐसा काम बहुत महत्वपूरण है।

राष्ट्रपति शी चिनफिंग से प्रशंसा पाने वाली चीनी महिलाओं की संख्या कम नहीं है। उन में ऐसी महिलाएं शामिल हुई हैं:डुनह्वांग की बेटी फ़ान चिनशी, जिन्होंने 50 से अधिक वर्षों में रेगिस्तानी इलाके में डुनह्वांग का अध्ययन किया। बूढ़ी चाची कुंग छ्वैनचेन, जिन्होंने आरामदेह जीवन छोड़कर दसेक वर्षों में पहाड़ी क्षेत्रों में शिक्षा दी। गरीबी उन्मूलन की प्रथम सचिव ह्वांग वनश्यो, जिन्होंने चीन के गरीबी उन्मूलन कार्य के लिये अपनी युवा जान का बलिदान दिया। और पेइचिंग विश्वविद्यालय की छात्रा सोंग शी, जिन्होंने सेना में भर्ती करके अदन खाड़ी में जहाज़ों की रक्षा मिशन में भाग लिया। ...... हालांकि वे भिन्न-भिन्न व्यवसाय में भिन्न-भिन्न काम करती हैं, लेकिन सभी मेहनती व पसीने से अपनी सुन्दर जिन्दगी बना रही हैं।

नये युग में चीनी महिलाओं के लिये विकास का विशाल मंच तैयार है। वे चीनी सपना को पूरा करने के लिये कोशिश कर रही हैं। जैसे विश्व महिला शिखर सम्मेलन में शी चिनफिंग ने कहा कि, चीनी जनता के सुन्दर जीवन की खोज में हर महिला को शानदार जिन्दगी व सपना को पूरा करने का मौका मिल सकेगा। चीन और सक्रिय रूप से लैंगिक समानता की बुनियादी राष्ट्रीय नीति का पालन करेगा, महिलाओं की भूमिका अदा करेगा, और महिलाओं को सफलता पाने और जिन्दगी की सपना को पूरा करने का समर्थन देगा।

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories