जर्मन विद्यार्थियों ने चीन के परंपरागत वसंत त्योहार की खुशी मनाई

2020-02-06 15:02:02
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
1/4

हाल के कई दिनों में चीन का परंपरागत वसंत त्योहार है। चीन के इधर-उधर लोग धूमधाम से इस त्योहार की खुशी मनाते हैं। पर आप शायद यह नहीं जानते कि चीन के अलावा अन्य देशों में भी लोग इस त्योहार के खुशहाल वातावरण में डूब गये।

दोस्तों, जर्मनी के नॉर्थ राइन-वेस्टफेलिया के एसेन शहर में स्थित बर्गिमनसियम मीडिल स्कूल जर्मनी में सबसे पुरातन 12 पब्लिक मीडिल स्कूलों में से एक है। वर्ष 1994 से इस स्कूल में चीनी भाषा की शिक्षा देने की व्यवस्था की गयी। हाल के कई वर्षों में बर्गिमनसियम मीडिल स्कूल हर साल विद्यार्थियों को संगठित करके चीन की यात्रा करने और आदान-प्रदान करने का आयोजन करता है। और छै वर्ष पहले इस स्कूल में एक चीनी भाषा कोरस की स्थापना भी की गयी थी। दोनों देशों के बीच कई महत्वपूर्ण कूटनीतिक अवसर पर इस कोरस को प्रस्तुति करने का आमंत्रण किया गया है। आज हम जर्मनी स्थित चाइना मीडिया ग्रुप के संवाददाता के साथ इस कोरस में प्रवेश करके यह देखें कि यहां के विद्यार्थी चीन के वसंत त्योहार का स्वागत कैसे करते हैं?

हर शनिवार की सुबह दस बजे से दोपहर के बाद दो बजे तक बर्गिमनसियम मीडिल स्कूल का चीनी भाषा कोरस अभ्यास करता है। स्थानीय समयानुसार 18 जनवरी को चीनी पंचांग के अनुसार नव वर्ष का स्वागत करने के लिये विद्यार्थियों ने अभ्यास के दौरान खास तौर पर《खुशहाल चीनी नया साल》को गाया। इस स्कूल के शिक्षक च्यांग यूनकांग के अनुसार चीन के हर परंपरागत दिवस पर कोरस तो संबंधित गतिविधि का आयोजन करता है। वसंत त्योहार, जो चीन का सब से महत्वपूर्ण दिवस है, के मौके पर गतिविधि ज़रूर होती है। उन्होंने कहा,हर वर्ष के वसंत त्योहार के अवसर पर कोरस के विद्यार्थी चीनी भाषा सीखने वाले विद्यार्थियों और चीनी संस्कृति में रुचि रखने वाले विद्यार्थियों के साथ इसकी खुशी मनाते हैं। इस वर्ष हमने पहले की तरह कुछ गतिविधियों का आयोजन किया, जिससे विद्यार्थी नजदीक से चीनी संस्कृति के साथ संपर्क रख सकते हैं। बेशक वसंत त्योहार की खुशी मनाने के लिये हमने कोरस के अभ्यास में चीन से जुड़े कुछ गीतों को शामिल किया है। उदाहरण के लिये 《खुशहाल चीनी नया साल》तो विद्यार्थियों में एक बहुत लोकप्रिय गीत है। वास्तव में हम हर साल इस गीत को ज़रूर गाते हैं। इसलिये विद्यार्थी शायद आम जीवन में भी कभी कभी यह गीत गुनगुनाते हैं।

19 वर्षीय हाई यांग पाँच सालों से चीनी भाषा सीख रहे हैं। उन्होंने चीन में एक साल भी पढ़ाई की। उन्होंने संवाददाता से कहा कि उन्हें बहुत खुशी हुई कि कोरस के एक सदस्य के रूप में वर्ष 2019 में उन्होंने चीन के कई शहरों में आयोजित प्रस्तुति में भाग लिया। जिससे ज्यादा से ज्यादा चीनी लोगों ने उनके कोरस के मधुर गीत सुन लिये। नव वर्ष में वे लगातार गीत गाने से चीन व जर्मनी के बीच मित्रता व आदान-प्रदान का पुल बनाने की कोशिश करेंगे। उन्होंने कहा,आज हम यहां इकट्ठे होकर वसंत त्योहार की खुशी मनाते हैं। हम एक साथ गीत गाते हैं, एक साथ खेलते हैं, और एक साथ सुलेख लिखते हैं। हमें बहुत खुशी हुई। मुझे आशा है कि नव वर्ष में हमारा कोरस ज्यादा से ज्यादा चीनी गीत सीख सकेगा, और अच्छी तरह से प्रस्तुति कर सकेगा। मूषक वर्ष का मतलब है एक अच्छी शुरूआत। चीनी पंचांग के अनुसार मूषक वर्ष आने के मौके पर मैं सभी लोगों को शुभकामनाएं देना चाहता हूं।

16 वर्षीय फू श्याओयाओ ने एक साल तक चीनी भाषा सीखी है। उन्होंने कहा कि वे भविष्य में चीन में वसंत त्योहार की खुशी मनाने की प्रतीक्षा में हैं। उनके अनुसार,चीनी भाषा कोरस मेरे लिये एक छोटे चीनी परिवार जैसा है। इसलिये मुझे बहुत खुशी हुई कि मैंने परिजनों के साथ चीनी वसंत त्योहार की खुशी मनाई। इस दौरान चीनी दिवस समेत चीन की परंपरागत संस्कृति के प्रति मेरी समझ और मजबूत हो गयी। मुझे आशा है कि नव वर्ष में मेरी चीनी भाषा और बेहतर होगी। मैं इस लक्ष्य को पूरा करने के लिये पूरी कोशिश करूंगा। उनके अलावा मुझे आशा है कि नये साल में मुझे चीन की यात्रा करने का मौका फिर मिलेगा।

च्यांग यूनकांग ने संवाददाता से कहा कि वर्तमान में बर्गिमनसियम मीडिल स्कूल सक्रिय रूप से मार्च में आयोजित विशेष कॉन्सर्ट की तैयारी कर रही है। गत वर्ष की कॉन्सर्ट की अपेक्षा इस वर्ष में इस का बड़ा विकास होगा। उन्होंने कहा,हमने कई नये गीत तैयार किये। उदाहरण के लिये गत वर्ष में चीनी राष्ट्रीय दिवस पर आयोजित सैन्य परेड में शामिल एक बहुत मधुर गीत“पेइचिंग, मेरा प्यार”। सैन्य परेड को देखकर कोरस के विद्यार्थियों ने तीव्र इच्छा से यह गीत सीखने का आग्रह किया। क्योंकि यह एक नया गीत है, इसलिये इसका पत्रक संगीत ढूंढ़ने में बहुत मुश्किल है। अंत में कोरस के संगीत शिक्षक ने अपने आप से इस का पत्रक संगीत लिखा। इसलिये वर्ष 2020 में हमारे सामने बड़ी चुनौती भी है। क्योंकि हमें कई नये गीतों का अभ्यास करना होगा। कॉन्सर्ट में सबसे अच्छी प्रस्तुति करने के अलावा हमारे पास और एक इच्छा है कि हम अपने कोरस को और बड़ा बनाना चाहते हैं। अब कोरस के सदस्यों की संख्या 30 से अधिक है। आशा है ज्यादा से ज्यादा जर्मन विद्यार्थी इस में भाग ले सकेंगे, और चीनी गीत गाने से चीनी संस्कृति व चीन को प्यार कर सकेंगे।

शेयर