सीपीपीसीसी की महिला सदस्य सक्रिय रूप से अपना कर्तव्य निभाती हैं

2019-03-13 17:12:18
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
1/3

पेइचिंग में आयोजित एनपीसी व सीपीपीसीसी में तमाम महिला प्रतिनिधि व महिला सदस्य सक्रिय रूप से अपने कर्तव्य का पालन कर समाज के विकास व प्रगति के लिये अपना योगदान दे रही हैं। वे चीन के महत्वपूर्ण दो सम्मेलनों में एक सुन्दर दृश्य बन गयी। आंकड़ों के अनुसार 13वीं एनपीसी के 2900 से अधिक प्रतिनिधियों में महिला प्रतिनिधियों की संख्या सात सौ से अधिक पहुंची, जो प्रतिनिधियों की कुल संख्या की एक चौथाई है। 13वीं सीपीपीसीसी के 2100 से अधिक सदस्यों में महिला सदस्यों की संख्या 440 तक पहुंची, जो पहली बार सदस्यों की कुल संख्या की एक पांचवीं बन गयी।

सीपीपीसीसी की सदस्य मो छांगईंग चीन के क्वांगशी ज्वांग स्वायत्त प्रदेश से आई हैं। अपनी जिम्मेदारी उठाने की चर्चा में उन्होंने कहा, सीपीपीसीसी ने पिछले साल में कई सदस्यों के सुझाव लिये। चीनी जन राजनीतिक सलाहकार सम्मेलन की राष्ट्रीय समिति और विशेष समिति ने बुनियादी सदस्यों को आमंत्रित किया। खास तौर पर पेइचिंग को छोड़कर अन्य क्षेत्रों के सदस्यों को भी आमंत्रित किया गया। बहुत सदस्यों की राय जनता से इकट्ठे हुए सुझाव व राय हैं। जनता हमारा विश्वास करती है। क्योंकि हम उन की राय देश के संबंधित विभागों तक पहुंचाते हैं।

आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2018 के अंत तक चीन में 60 वर्ष से अधिक बुजुर्गों की संख्या 25 करोड़ तक पहुंच चुकी है, जो चीन की कुल जनसंख्या के 17.9 प्रतिशत तक पहुंची। जनसंख्या का बुजुर्गीकरण मामला दिन-ब-दिन गंभीर हो रहा है। इस बार मो छांगईंग ने असक्षम बुजुर्गों की देखभाल से जुड़े प्रस्ताव लेकर 13वीं सीपीपीसीसी के दूसरे सम्मेलन में भाग लिया। उन के अनुसार, बुजुर्गीकरण वाला समाज हमारे सामने आ रहा है। खास तौर पर असक्षम बुजुर्गों का जीवन खर्च एक गंभीर समस्या बन चुका है। उन बुजुर्गों की देखभाल का खर्च बहुत महंगा है। और ऐसा खर्च चिकित्सा बीमा में शामिल नहीं किया गया। पेइचिंग में असक्षम बुजुर्गों को एक हजार से अधिक युआन मिल सकते हैं। लेकिन अन्य प्रांतों व शहरों में यह पैसा नहीं मिलता। वर्तमान में असक्षम बुजुर्गों की देखभाल का खर्च हर महीने में लगभग 6 हजार तक पहुंच गया। अगर एक परिवार में दोनों बुजुर्ग असक्षम हैं तो यह खर्च बहुत महंगा होगा। आशा है इस समस्या पर ध्यान दिया जा सकेगा।

हाल के कई वर्षों में चीन में ज्यादा से ज्यादा महिलाओं ने आर्थिक व सामाजिक विकास में भाग लिया। महिला से जुड़े कार्यों में उल्लेखनीय प्रगति हासिल हुई है। संवाददाता को इन्टरव्यू देते समय सीपीपीसीसी की सदस्य चांग खाईली ने सभी बहनों को अंतर्राष्ट्रीय वर्किंग महिला दिवस की बधाई दी। उन्होंने कहा, मुझे इस बार का सीपीपीसीसी सम्मेलन बहुत अच्छा लगा। क्योंकि 8 मार्च को अंतर्राष्ट्रीय वर्किंग महिला दिवस पर हमें एक दिन की छुट्टी भी मिल सकती है। यह दिवस महिलाओं का दिवस है। महिलाएं बहुत मेहनत करती हैं। परिवार में उन का स्थान भी बहुत महत्वपूर्ण है। यहां मैं सच्चे दिल से चीन की सभी बहनों को इस दिवस की बधाई देती हूं।

शेयर