अंना कोरे कंफ्यूशियस कॉलेज में सून आओ का एक दिन

2019-02-21 15:29:14
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
1/5

दोस्तों, इटली में चीनी भाषा सीखने का जोश कई सालों से चल रहा है। अब तक पूरे इटली में 12 कंफ्यूशियस कॉलेजों की स्थापना की जा चुकी है। वहां स्थानीय लोगों को चीनी भाषा सिखायी जाती है और चीनी संस्कृति का प्रसार-प्रचार किया जाता है। उन में 11 कंफ्यूशियस कॉलेज एपिनेन प्रायद्वीप में स्थित हैं। केवल एक कॉलेज मध्य सिसिली द्वीप के पहाड़ी क्षेत्र में स्थित है। आज हम आपको सिसिली स्थित अंना कोरे कंफ्यूशियस कॉलेज में जाकर कॉलेज की डीन सून आओ के एक दिन का काम व जीवन महसूस करवाएंगे।

सिसिली द्वीप इटली के सब से दक्षिण में स्थित है। जो भूमध्य सागर से घिरा हुआ है। द्वीप के केंद्र में अंना नामक एक छोटा पहाड़ी शहर है। जिस की आबादी केवल 20 हजार है। पर ऊँचाई हजार मीटर वाली है। वर्ष 2016 के अक्तूबर में अंना कोरे कंफ्यूशियस कॉलेज की स्थापना यहां की गयी। डीन के रूप में सून आओ को यहां काम करते हुए दो साल बीत चुके हैं। अभी अभी यहां आने की स्थिति के बारे में सून आओ ने कहा,वास्तव में शुरू में थोड़ा मुश्किल थी। सिसिली के लोग चीन के बारे में कुछ भी नहीं जानते थे। यह कहा जा सकता है कि चीन के प्रति उन की समझ गत् 50 या 60 के दशक में रुक गयी। चीन के बारे में वे बहुत जिज्ञासु थे। जब हम अंना पहुंचे, तो उन्हें अजीब लगता था। वे हमेशा हम से पूछते थे कि क्या आप लोग पूर्व से आए हैं। आप यहां क्यों आए हैं?

स्थानीय लोगों को इस सवाल का जवाब जल्द ही मिल गया। अंना पहुंचने के बाद पहले साल में सून आओ ने उस समय उन के एकमात्र साथी के साथ कंफ्यूशियस कॉलेज की बुनियादी सुविधाओं और संस्थागत निर्माण को पूरा किया। साथ ही उन्होंने चीनी प्रवीणता परीक्षा आयोजित करने जैसी योग्यता की मांग भी की। दूसरे साल से समाज के उन्मुख चीनी शिक्षा देना शुरू किया गया। इसके अलावा चीनी संस्कृति का प्रसार-प्रचार करने के लिये उन्होंने सिसिली के विभिन्न क्षेत्रों में स्थित स्कूलों व सामाजिक स्थलों में जाकर सिलसिलेवार गतिविधियां आयोजित कीं।

सुबह दस बजे सून आओ अंना से 30 किमी दूर एक छोटे कस्बे में आयी। स्थानीय लिंकन भाषा हाई स्कूल में खुले दिन की गतिविधि आयोजित हो रही थी। उन में वसंत त्योहार से जुड़ी चीनी संस्कृति का प्रदर्शन व संवाद भी शामिल हुए। मिडिल स्कूल की छात्रा अरियाना ने पहली बार लेखन ब्रश लेकर अध्यापक के निर्देशन से बड़े शौक के साथ वसंत दोहा लिखा। उन्होंने चीनी परंपरागत सुलेख कला की सुन्दरता को खूब महसूस किया। उन के अनुसार,इस का मतलब नमस्कार है। मैं चीनी भाषा सीखने पर विचार कर रही हूं। क्योंकि वर्तमान में चीनी भाषा बहुत लोकप्रिय है।

वर्ष 2018 में अंना कोरे कंफ्यूशियस कॉलेज ने सिसिली क्षेत्र के शिक्षा ब्यूरो तथा 70 स्थानीय स्कूलों के साथ चीनी शिक्षा संघ की स्थापना की। लिंकन भाषा हाई स्कूल उन में से एक है। क्योंकि इस स्कूल ने चीनी भाषा की शिक्षा को उस के औपचारिक कोर्स में शामिल करने की योजना बनायी है। इसलिये सून आओ की इस यात्रा का और एक कर्तव्य विद्यार्थियों के मां-बाप से मिलना है। और उन्हें चीनी शिक्षा की संबंधित स्थिति का परिचय दिया गया। श्री साल्वाडोर का बेटा इस वर्ष में जूनियर हाई स्कूल से स्नातक होने के बाद हाई स्कूल चुनेगा। इसलिये उन्होंने इस स्कूल की चीनी शिक्षा पर बड़ा शौक जताया। उन्होंने कहा,चीन के बारे में मेरी जानकारी बहुत कम है। लेकिन मुझे पता है कि यह एक बहुत महत्वपूर्ण देश है। मुझे आशा है कि वसंत त्योहार की संस्कृति के अलावा बच्चों को बाद में चीनी भाषा सीखने का मौका मिल सकेगा। ताकि वे चीन के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारियां प्राप्त कर सकें।

इस छोटे कस्बे से रवाना होकर सून आओ इतावली दोस्त के गाड़ी द्वारा अंना में वापस लौटीं। क्योंकि अंना सिसिली क्षेत्र के केंद्र में स्थित है, इसलिये वह पूरे क्षेत्र पर प्रभाव डालता है। लेकिन यहां बहुत पहाड़ हैं, और सार्वजनिक यातायात व्यवस्था भी ठीक नहीं है। इसलिये लोगों के सामान्य जीवन व काम के प्रति सुविधाजनक नहीं है। सर्दी के दिनों में यहां बहुत बारिश होती है, इसलिये पहाड़ी क्षेत्रों में बहुत कोहरा होता है। घुमावदार पहाड़ी सड़क पर गाड़ी चलाते समय भेड़ों के समूह से भी बचना होता है। केवल 30 किलो मीटर की यात्रा में एक घंटे से अधिक समय लगा। पर सून आओ इस से परिचित हो गयीं। उन के अनुसार,जब मैं अंना में पहले साल रहती थी, सर्दी के एक दिन में मैं और मेरे साथी ने डेढ़ घंटे तक बस का इंतजार किया, लेकिन नहीं मिली। फिर फ़ोन करके पता चला कि सार्वजनिक यातायात व्यवस्था बंद हो गयी। कोई उपाय नहीं था, हमें पैदल से पहाड़ों पर चलना पड़ा। क्योंकि उस समय हमारा घर पहाड़ पर स्थित है। घर वापस लौटने के लिये हमें दो घंटे से अधिक समय लगा। उस समय भारी बर्फ़ भी पड़ रही थी। यह मेरे लिये एक अविस्मरणीय अनुभव बन गया।

अंना कोरे कंफ्यूशियस कॉलेज के कार्यालय में वापस लौटकर सून आओ ने साथियों के साथ वसंत त्योहार से जुड़ी गतिविधियों के प्रबंध की चर्चा शुरू की। उन के अनुसार दो साल पहले की अपेक्षा अब साथियों की संख्या चार तक पहुंच गयी। लेकिन हर साल के वसंत त्योहार पर साथियों का अभाव है। इसलिये अतिरिक्त काम ज्यादा हैं। उन्होंने कहा,हाल के कई वर्षों में वसंत त्योहार के दौरान हमें छुट्टी नहीं मिली। आम स्थिति में वसंत त्योहार कंफ्यूशियस कॉलेज में सब से व्यस्त समय होता है। हम इस चीनी परंपरागत दिवस के मौके से लाभ उठाकर विभिन्न स्कूलों में चीनी संस्कृति का प्रसार-प्रचार करते हैं। साथ ही समाज में भी गतिविधियों का आयोजन किया जाता है। इस साल भी पहले की तरह संबंधित गतिविधि होती है। चीनी कॉन्सर्ट के अलावा शेर नृत्य व ड्रैगन नृत्य भी किये जाते हैं।

शाम को चार बजे के बाद विद्यार्थी क्रमशः कंफ्यूशियस कॉलेज में शिक्षा लेने आए। क्योंकि यह कंफ्यूशियस कॉलेज समाज के उन्मुख है। इसलिये कक्षाओं का प्रबंध मुख्य तौर पर शाम को चार बजे के बाद किया गया। वर्ष 2017 से कंफ्यूशियस कॉलेज में विद्यार्थियों की संख्या लगातार बढ़ रही है। आंकड़ों के अनुसार अभी तक कुल मिलाकर पाँच सौ से अधिक लोगों ने अंना में चीनी प्रवीणता परीक्षा में भाग लिया है। अंना कोरे कंफ्यूशियस कॉलेज सिसिली में चीनी भाषा का शिक्षा केंद्र, चीनी शिक्षकों का प्रशिक्षण केंद्र और चीन-इटली सांस्कृतिक आदान-प्रदान केंद्र बन गया। सून आओ ने सच्चे दिल से कहा कि काम करते समय उन्होंने गहन रूप से यह महसूस किया है कि भाषा व सांस्कृतिक आदान-प्रदान गलतफहमियों को दूर करने में बहुत महत्वपूर्ण है।

दो साल से काम करते हुए सून आओ को मुश्किलों के साथ खुशी भी मिलती है। अब वे कंफ्यूशियस कॉलेज की ओर से सिसिली में चीनी भाषा व चीनी संस्कृति का प्रसार-प्रचार करने वाली एक दूत बन चुकी हैं।

शेयर