बर्लिन में पाँचवाँ चीनी बाल नाटक सप्ताह आयोजित

2018-12-06 11:22:24
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
1/8

स्थानीय समयानुसार 23 से 25 नवंबर तक बर्लिन चीनी संस्कृति केंद्र ने बर्लिन बाल भवन के साथ सहयोग से पांचवें चीनी बाल नाटक सप्ताह और बर्लिन 22वें कठपुतली नाटक दिवस का आयोजन किया।

तीन दिवसीय गतिविधि के दौरान जर्मनी की यात्रा करने वाले पेइचिंग होंगयू छाया नाटक समूह ने क्रमशः बर्लिन के एक प्राइमरी स्कूल व बाल भवन में छह बार छाया नाटक की प्रस्तुति की। हजारों दर्शकों ने उन के चीनी परंपरागत बाल छाया नाटकों को देखा। हर बार की प्रस्तुति में बहुत भीड़ थी। बच्चे व उन के मां-बाप नाटक में दिलचस्प कहानी व छाया अभिनेताओं की श्रेष्ठ तकनीक से गहन रूप से आकर्षित हुए हैं। वे कभी कभी हंसते थे, कभी कभी आश्चर्य में डूबते थे। वातावरण बहुत खुश व गर्म था।

हर बार जब प्रस्तुति समाप्त हुई, तो छाया अभिनेताओं ने दर्शकों को नज़दीक से छाया प्रोप देखने और छाया नाटक खेलने को महसूस करने का आमंत्रण भी दिया। कुछ जर्मन मां-बाप ने कहा कि बहुत खुशी हुई कि बर्लिन कठपुतली नाटक दिवस में वे चीन से आए छाया नाटक देख सकते हैं। हालांकि जर्मन बच्चों को चीनी भाषा नहीं आती, लेकिन छाया नाटक की श्रेष्ठ प्रस्तुति से उन्होंने अविस्मरणीय कलात्मक अनुभव प्राप्त किये।

पेइचिंग में सब से पुराने नाटकों में से एक होने के नाते पेइचिंग छाया नाटक में यथार्थवाद व रूमानीवाद दोनों शामिल हुए हैं। परंपरागत नाटकों के विषय बहुत विशाल व समृद्ध हैं, जिस में मिथक व किंवदंती, ऐतिहासिक कहानी व लोककथा आदि शामिलहैं। हालांकि छाया नाटक प्रस्तुत करने के लिये केवल एक छोटो से पर्दे की जरूरत होती है, लेकिन इस की कलात्मक क्षमता बहुत शक्तिशाली है।

शेयर