अच्छी कहानी एक साथ सुनाएं

2018-06-07 15:45:44
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
1/4

दोस्तों, वर्ष 2018 के इटली बोलोग्ना बाल पुस्तक मेले में पुस्तकों की प्रदर्शनी और कॉपीराइट के व्यापार के अलावा चीनी प्रतिनिधि मंडल, जिसने पहली बार मुख्य अतिथि देश के रूप में इस पुस्तक मेले में भाग लिया था, ने कई अंतर्राष्ट्रीय प्रकाशन सहयोग कार्यक्रम का प्रसार-प्रचार गतिविधियों का आयोजन किया। यह जाहिर हुआ है कि चीनी बाल प्रकाशन के अंतर्राष्ट्रीय सहयोग लगातार विकसित हो रहे हैं। सहयोग के तरीके भी रंगारंग बन गये हैं। बाल पुस्तक देसी-विदेशी सांस्कृतिक मेलजोल में एक सकारात्मक क्षेत्र बन गया।

क्योंकि इस वर्ष के बोलोग्ना बाल पुस्तक मेले में चीन मुख्य अतिथि देश है, इसलिये चीनी प्रतिनिधि मंडल का पैमाना पिछले समय की अपेक्षा बहुत बड़ा है। प्रदर्शनी का क्षेत्रफल, प्रकाशन गृहों की संख्या और प्रदर्शनी में आयोजित गतिविधियों की संख्या और तरीका भी इतिहास में सबसे बड़ा है। मेले में प्रदर्शित चीनी पुस्तकों की किस्में चार हज़ार से अधिक पहुंच गयी हैं। उनमें 40 प्रतिशत पुस्तकें हाल के कई वर्षों में आउटपुट कॉपीराइट वाली पुस्तकें हैं। चीनी युवा और बाल अखिल प्रकाशन गृह के प्रधान ली श्वेएछेन वर्ष 2013 से चीनी प्रतिनिधि मंडल के पहली बार बोलोग्ना बाल पुस्तक मेले में भाग लेने के बाद हर साल इस मेले में उपस्थित रहते हैं। उन्होंने अपनी आंखों से हाल के कई वर्षों में चीनी बाल पुस्तकों की आउटपुट कॉपीराइट की तेज़ वृद्धि देखी है। मूल कार्य को मज़बूत करने और किताबों के विषय को समृद्ध बनाने के अलावा देसी-विदेशी लेखकों का सहयोग भी चीनी बाल पुस्तकों के जल्द ही अंतर्राष्ट्रीयकरण बनाने और विदेशी प्रकाशकों का आकर्षण का एक महत्वपूर्ण कारण ही है। उनके अनुसार,उदाहरण के लिये चीनी युवा और बाल अखिल प्रकाशन गृह द्वारा प्रकाशित पंख नाम की पुस्तक तो इसी तरह से विदेश में पहुंची है। इस पुस्तक के लेखक चीन के प्रसिद्ध बाल कथा लेखक छाओ वनश्वेन हैं। और पुस्तक में शामिल सभी चित्र ब्राज़ील के चित्रकार रोगेर मेल्लो द्वारा बनायी गई हैं। छाओ वनश्वेन को वर्ष 2016 में अंतर्राष्ट्रीय एंडरसन पुरस्कार मिला है। रोगेर मेल्लो को वर्ष 2014 में अंतर्राष्ट्रीय एंडरसन का चित्रकार पुरस्कार मिला।

गिउनटी एडिटोरे ग्रुप इटली के पाँच बड़े प्रकाशन समूहों में से एक है। इसके अधीन तीन स्वतंत्र प्रकाशन गृह हैं। वह भी इटली में सबसे बड़ा बाल प्रकाशन उद्यम ही है। वर्ष 2010 से वह चीनी युवा और बाल अखिल प्रकाशन गृह के साथ सहयोग करता है। इस बार के पुस्तक मेले में दोनों पक्षों ने फिर सहयोग करके तीन बाल पुस्तकों को प्रकाशित किया, जिनके लेखक चीनी हैं, और चित्रकार इतालवी हैं। उनमें चीनी बाल लेखक शू लू द्वारा रची गयी 《जादुई घास》पुस्तक में यह कहानी बतायी गयी है कि चीन में पहली नोबेल चिकित्सा पुरस्कार की विजेता थू योयो पारंपरिक चीनी चिकित्सा और दवा का अध्ययन करके विश्वभर की जनता के स्वास्थ्य के लिये लाभ देती हैं। इटली के चित्रकार ने ध्यान से कहानी पढ़कर रंगारंग कल्पना और ताजा शैली से अच्छी तरह से लेखक की इच्छा प्रकट की। गिउनटी एडिटोरे ग्रुप के महानिदेशक सेरगिओ गिउनटी ने सहयोग के इस तरीके की खूब प्रशंसा की। इसे कहा जा सकता है कि अच्छी कहानी एक साथ सुनाएं। उनके अनुसार,हमारे बीच सहयोग का सबसे अच्छा उदाहरण तो इस बार संयुक्त रूप से प्रकाशित तीन किताबें हैं। मेरे विचार में चीनी लेखक की कहानियां बहुत दिलचस्प होती हैं, और हमारे चित्रकारों ने भी अच्छी तरह से कहानियों को प्रदर्शित किया है। बाल पुस्तक बहुत महत्वपूर्ण है, जो विभिन्न देशों की जनता के बीच की दूरी को कम करने और समझ को बढ़ाने का एक अच्छा तरीका है।

हाल ही में चीन विश्व में सबसे बड़ा और परिपक्व बाल प्रकाशन बाज़ार ही है। वर्ष 2016 में चीन में कुल 77 करोड़ 90 लाख बाल पुस्तकों का प्रकाशन किया गया। वर्ष 2017 में बाल पुस्तकों के खुदरा बाज़ार में 14.55 प्रतिशत की वृद्धि हुई और लगातार 15 वर्षों में 10 प्रतिशत का इज़ाफ़ा बना रहा। कई विश्व स्तरीय बाल पुस्तक प्रकाशक चीनी पाठकों को महत्वपूर्ण बाज़ार का लक्ष्य मानते हैं। पर सरल कॉपीराइट व्यापार से वे संतुष्ट नहीं हैं। इसलिये वे सक्रिय रूप से सहयोग के लिये चीनी साझेदार ढूंढ रहे हैं, प्रकाशन पर उनके विचार को साझा कर रहे हैं, और ऑपरेशन मोड को जोड़ने की कोशिश कर रहे हैं, ताकि चीन में उन्हें दीर्घकालीन विकास प्राप्त हो सके। वर्ष 2017 में चीन के चेली प्रकाशन गृह ने ब्रिटन के यूसबोर्ने प्रकाशन कंपनी के साथ रणनीतिक सहयोग साझेदार संबंधों की स्थापना की। इसकी चर्चा में चेली प्रकाशन गृह के प्रधान ह्वांग चेन ने परिचय देते हुए कहा कि,प्रकाशन के विचार पर यूसबोर्ने और चेली प्रकाशन गृह की बहुत सहमतियां हैं। यूसबोर्ने विश्व में सभी बच्चों की पसंदीदा बाल पुस्तकें बनाना चाहती है। वह बच्चों को सबसे श्रेष्ठ पुस्तकें देना चाहती है। उधर चेली प्रकाशन गृह भी विश्व में पहली स्तरीय बाल पुस्तकों को प्रकाशित करना चाहता है। उसका लक्ष्य यह है कि दुनिया के बच्चे चीन की रंगारंग, आश्चर्यजनक और श्रेष्ठ कहानियां पढ़ सकेंगे, और चीनी बच्चे भी विश्व की एक ही गति से किताब पढ़ सकते हैं। इस पक्ष में यूसबोर्ने और चेली प्रकाशन गृह की विचारधारा मुख्य तौर पर बराबर हैं। दोनों कंपनियां उत्पाद के नवाचार, तकनीक के नवाचार, मार्केटिंग के नवाचार, और सेवा के नवाचार पर बड़ा ध्यान दे रही हैं।

बोलोग्ना बाल पुस्तक मेले से हमने यह देखा है कि बाल पुस्तकों का प्रकाशन कॉपीराइट के सरल आयात-निर्यात से आज के देसी-विदेशी सहयोग तक पहुंच गया है। अच्छी कहानी एक साथ सुनाएं इस विचारधारा के तले चीनी बाल पुस्तकों के प्रकाशन से जुड़े अंतर्राष्ट्रीय सहयोग दिन-प्रति-दिन विविध बन रहे हैं। वह देसी-विदेशी बाल पाठकों के बीच मेलजोल और समझ के विचार का प्रसार-प्रचार कर रहा है और मानव के भविष्य को ज्यादा आशा भी प्रदान करेगा।

शेयर