"एक पट्टी एक मार्ग" और मुक्त व्यापार क्षेत्र का निर्माण लगातार आगे बढ़ रहा है

2018-06-11 14:57:44
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

"एक पट्टी एक मार्ग" और मुक्त व्यापार क्षेत्र का निर्माण लगातार आगे बढ़ रहा है

विदेशों के लिए आगे खोलने की नीति लागू होने के दौरान मुक्त व्यापार परीक्षण क्षेत्र का निर्माण एक नई और साहसिक कोशिश है। अब तक चीन ने शांगहाई, क्वांग तुंग और थिएनचिन जैसे क्षेत्रों में 11 मुक्त व्यापार परीक्षण क्षेत्रों की स्थापना की है।

अर्नेस्ट एंड यंग कर सेवा साथी टाइटस वॉन डेम बोंगार्ट ने इससे पहले संवाददाता के साथ इंटरव्यू में कहा कि सबसे पहले चीन के बाज़ार में प्रवेश करने वाली अंतर्राष्ट्रीय व्यावसायिक सेवा कंपनियों में से एक है। इस तरह हम और अच्छी तरह संबंधित सेवा प्रदान कर सकते हैं। इसके साथ हमने देखा है कि और अधिक विदेशी कंपनियां चीन में प्रवेश कर रही हैं।

विदेशों के लिए आगे खोलने की नीति के अनुसार शांगहाई, क्वांग तुंग जैसे क्षेत्र अधिक खुले, मुक्त व्यापार बंदरगाह के निर्माण की कोशिश कर रहे हैं। चीनी वाणिज्य मंत्रालय के अनुसंधान संस्थान की अकादमिक समिति के उपाध्यक्ष च्यांग चिए फिंग का विचार है कि खुलापन और सुविधा के क्षेत्रों में मुक्त व्यापार बंदरगाह में नई प्रगति मिलने की संभावना है।

च्यांग चिए फिंग ने कहा कि वर्तमान मुक्त व्यापार परीक्षण क्षेत्र में टैक्स व्यवस्था नहीं है। भविष्य में अगर पोर्ट ऑफ दुबई और पोर्ट ऑफ सिंगापुर के तरीके से चीन के मुक्त व्यापार बंदरगाह का संचालन किया जाए, तो टैक्स, कर्मियों के कारोबार और अंतरिक्ष के विस्तार जैसे पहलुओं में नई प्रगति मिलेगी।

इसके अलावा चीन में पूरी तरह विदेशों के लिए खुलेपन की नीति लागू होने के दौरान आगे वित्तीय बाज़ार पहुंचने की व्यवस्था में बहुत सुविधा मिलेगी। पिछले वर्ष चीन ने विदेशी पूंजी को बैंक, प्रतिभूति, बीमा के वित्तीय बाज़ार खोलने की घोषणा की। बैंक ऑफ चाइना के मुख्य शोधकर्ता ज्योंग लिआंग का विश्लेषण है कि वित्तीय बाज़ार के खुलने से न केवल आरएमबी अंतर्राष्ट्रीयकरण की प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जा सकेगा, बल्कि चीन का वैश्विक निवेश अपने महत्वपूर्ण स्थान पर बना रहेगा।

चीनी वाणिज्य मंत्रालय के अनुसंधान संस्थान के अंतर्राष्ट्रीय बाज़ार अनुसंधान केंद्र के उपाध्यक्ष पाई मिंग की नज़र में चीन के खुलेपन की नई स्थिति दो तरफा और चौतरफा खुलेपन को दिखाती है। पूरी तरह खुलेपन के दौरान आयात और निर्यात का समान महत्व है।

(वनिता)

HomePrev12Total 2 pages

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories