दक्षिण अफ्रीका के विद्वानों ने ब्रिक्स देशों की भूमिका की बड़ी पुष्टि की

2017-08-28 12:39:33
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn


 

दक्षिण अफ्रीका के विद्वानों ने ब्रिक्स देशों की भूमिका की बड़ी पुष्टि की

वर्ष 2010 के अंत में दक्षिण अफ्रीका ने औपचारिक रूप से ब्रिक्स देशों के बीच सहयोग की व्यवस्था में भाग लिया था, जो इस व्यवस्था में

   अफ्रीकी महाद्वीप पर एकमात्र प्रतिनिधि बना। दक्षिण अफ्रीका के वैश्विक वार्ता अनुसंधान केंद्र के वरिष्ठ शोधकर्ता

फ्रांसिस कोर्नगेय की नज़र में इस कार्यवाही से अफ्रीका की अर्थव्यवस्था में दक्षिण अफ्रीका के नेतृत्व की भूमिका मजबूत की जा रही है।


उन्होंने कहा कि ब्रिक्स देशों के बीच सहयोग की व्यवस्था में भाग लेने से अफ्रीकी महाद्वीप पर दक्षिण अफ्रीका का प्रभाव बढ़ रहा है, जिससे इस महाद्वीप पर दक्षिण अफ्रीका के नेतृत्व की भूमिका एक बार फिर तय की गई है। नए विकास बैंक को अफ्रीकी मुख्यालय दक्षिण अफ्रीका में स्थापित होने से भी यह पता चलता है।

123MoreTotal 3 pagesNext

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories