राफेल नडाल ने रिकॉर्ड 12वीं बार जीता फ्रेंच ओपन

2019-06-12 08:46:14
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

खेल की दुनिया की हलचल के साथ हाजिर हूं मैं आपका होस्ट अनिल पांडेय। पाँच मिनट के इस प्रोग्राम में आप सुनेंगे दुनिया भर के खेल समाचार व समीक्षा। जिसमें क्रिकेट, हॉकी व फुटबाल से लेकर बैडमिंटन और कबड्डी जैसे खेलों की होगी जानकारी।

स्पेन के राफेल नडाल ने ऑस्ट्रिया के डॉमिनिक थीम को हराते हुए रिकॉर्ड 12वीं बार फ्रेंच ओपन का खिताब जीत लिया है। लाल बजरी पर उन्होंने लगातार तीसरे साल विजेता बनकर जीत की हैट्रिक लगाई है।नडाल ने पिछले साल भी थीम को ही फाइनल में मात दी थी।

राफेल नडाल ने रिकॉर्ड 12वीं बार जीता फ्रेंच ओपन


यह नडाल का 12वां फ्रेंच ओपन खिताब था। इस तरह 33 वर्षीय नडाल ने 18वां ग्रैंड स्लैम सिंगल्स टाइटल अपने नाम किया। हालांकि वह अब भी रोजर फेडरर से 2 खिताब पीछे हैं।
नडाल को यह खिताब जीतने के लिए3 घंटे 01 मिनट तक संघर्ष करना पड़ा।ऑस्ट्रिया के 25 वर्षीय डोमिनिक थीम को इस मैच में 6-3, 5-7, 6-1, 6-1 से हार का सामना करना पड़ा। बता दें कि नडाल ने जहां सेमीफाइनल में रोजर फेडरर को6-3, 6-4, 6-2 से मात दी थी तोथीम ने वर्ल्ड नंबर-1 सर्बियाई स्टार नोवाक जोकोविच को सेमीफाइनल में हराया था।

टेनिस के बाद एथलेटिक्स से जुड़ी खबर। भारतीय पैरा एथलीट संदीप चौधरी और सुमित ने इटली के ग्रोसेटो में विश्व पैरा एथलेटिक्स ग्रां. प्रि में पुरुषों की एफ40-46/61-64 भाला फेंक स्पर्धा में दो विश्व रिकॉर्ड कायम किए हैं।

संदीप ने एफ44 वर्ग में 65.80 मीटर के थ्रो से विश्व रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण पदक जीता। सुमित ने संयुक्त स्पर्धा में 60.45 मीटर के थ्रो से दूसरा स्थान प्राप्त किया और यह भी एफ64 वर्ग में विश्व रिकॉर्ड है।
जबकि सुंदर सिंह गुर्जर एफ46 में 58.99 मीटर के थ्रो से तीसरे स्थान पर रहे। सभी तीनों ने 2020 टोक्यो पैरालंपिक के लिए भी क्वालिफाई करने में सफलता हासिल कर ली।

राफेल नडाल ने रिकॉर्ड 12वीं बार जीता फ्रेंच ओपन


एथलेटिक्स के बाद फुटबाल से जुड़ी ख़बर। क्रिस्टियानो रोनाल्डो की कॅरिअर की 53वीं हैट्रिक की बदौलत पुर्तगाल ने स्विट्जरलैंड को 3-1 से मात देकर नेशंस लीग के फाइनल में जगह बना ली। रोनाल्डो ने पहले हाफ में फ्री किक पर शानदार गोल कर पुर्तगाल का खाता खोला। उसके बाद दूसरे हाफ में आखिरी दो मिनटों में दो और गोल कर उसे जीत दिला दी। रोनाल्डो ने यह गोल 25वें, 88वें और 90वें मिनट में किए। जबकि स्विट्जरलैंड के लिए एकमात्र गोल खेल के 57वें मिनट में रिकार्डो रोड्रिगेज ने किया।

राफेल नडाल ने रिकॉर्ड 12वीं बार जीता फ्रेंच ओपन


उधर भारतीय जूनियर महिला हॉकी टीम को मेजबान बेलारूस के खिलाफ 1-4 से शिकस्त का सामना करना पड़ा है। गगनदीप कौर ने पहले मिनट में गोलकर भारत को बढ़त दिला दी। इसके बाद बेलारूस ने उसे कोई मौका नहीं दिया और लगातार चार गोल कल मुकाबला अपने नाम किया।

हॉकी के बाद क्रिकेट से जुड़ी खबर। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच विश्व कप के लीग मैच में हुए मुकाबले में भारत ने कंगारुओं को हरा दिया। लेकिन इस दौरान दर्शकों ने ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी स्टीव स्मिथ की हूटिंग कर दी। इस पर भारतीय कप्तान विराट कोहली ने प्रशंसकों की तरफ से स्टीव स्मिथ से माफी मांगी क्योंकि इस पूर्व आस्ट्रेलियाई कप्तान को विश्व कप में एक बार फिर से ‘अस्वीकार्य’ हूटिंग से रू ब रू होना पड़ा था। दक्षिण अफ्रीका में गेंद से छेड़छाड़ के विवादास्पद मामले के कारण एक साल का प्रतिबंध झेलने के बाद वापसी करने वाले स्मिथ को प्रभावशाली प्रदर्शन के बावजूद इंग्लैंड के प्रत्येक मैदान पर दर्शकों के कोपभाजन का शिकार बनना पड़ रहा है।

राफेल नडाल ने रिकॉर्ड 12वीं बार जीता फ्रेंच ओपन


क्रिकेट के बाद फुटबाल की खबर। बारबरा बोनान्सा के दो गोल के दम पर इटली ने फीफा महिला विश्व कप के अपने पहले मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया को 2-1 से हराकर जीत के साथ आगाज किया। इटली ने पिछड़ने के बाद वापसी करते हुए दूसरे हाफ में दोनों गोल दागे। ऑस्ट्रेलियाई कप्तान सैम कैर ने 22वें मिनट में ही गोल कर टीम को बढ़त दिला दी थी जो हाफ समय तक कायम रही। दूसरे हाफ शुरू होते ही बारबरा ने 56वें मिनट में इटली को बराबरी और इंजुरी टाइम में (90+5) में गोल कर टीम की जीत तय कर दी।

इसी के साथ बारबरा विश्व कप में एक से अधिक गोल दागने वाली कैरोलिना मौर्स के बाद दूसरे इटालियन खिलाड़ी बनीं। कैरोलिना ने 1991 में चीनी ताइपे के हैट्रिक दागी थी।
अन्य मैच में जेनिफर हेरमोसो के दो गोल से स्पेन ने पहली बार विश्व कप में खेल रहे दक्षिण अफ्रीका को 3-1 से पराजित किया। एक गोल से पिछड़ने के बाद स्पेन ने शानदार खेल दिखाते हुए दूसरे हाफ में 19 मिनट में भीतर तीन गोल दागे। थेंबी कगटलाना ने 25वें मिनट में ही गोल कर दक्षिण अफ्रीका को बढ़त दिला दी थी जो 70 मिनट तक कायम रही। स्पेन के लिए जेनिफर ने 70वें और 83वें मिनट में, जबकि लूसिया गार्सिया ने 89वें मिनट में गोल किया।

इस बीच ब्राजील की फोरमिगा (पीली जर्सी) जमैका के खिलाफ मैदान पर उतरने के साथ ही विश्व कप में खेलने वाली सबसे उम्रदराज खिलाड़ी बन गई। मात्र 17 साल की उम्र में अपना पहला विश्व कप खेलने वाली फोरमिगा (41 साल, 98 दिन) रिकॉर्ड सातवीं बार विश्व कप में खेल रही हैं।

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories