सूचना:चाइना मीडिया ग्रुप में भर्ती

तिब्बती लोगों ने पारंपरिक नववर्ष की खुशियां मनायीं

2020-02-27 18:32:06
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

इस वर्ष की 24 फरवरी को तिब्बती पंचांग के मुताबिक तिब्बती नववर्ष है और वह तिब्बती लोगों के लिए सबसे महत्वपूर्ण त्योहार माना जाता है। इस वर्ष नये कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए तिब्बती लोगों ने घर में रहकर नये साल की खुशियां मनायी।

ल्हासा शहर के छंगक्वान जिले में स्थित एक पारंपरिक तिब्बती शैली आंगन में 28 तिब्बती परिवार रहते हैं। तिब्बती निवासी छील्ये ने मोबाइल फोन के जरिये अपने सभी पड़ोसियों को नये साल की शुभकामनाएं दीं।

छील्ये ने कहा, “पहले जब नववर्ष की खुशियां मनाते थे तब हम सभी लोग आंगन में बैठकर स्वादिष्ट खाने का स्वाद लेते थे। इस साल महामारी की रोकथाम से हम घर पर बैठकर ही नये साल की खुशियां मना रहे हैं। सेहत सबसे महत्वपूर्ण है। महामारी खत्म होने के बाद हम फिर से एक साथ मिलेंगे।”

महामारी की रोकथाम के लिए ल्हासा शहर के सभी समुदायों में आने-जाने वाले लोगों का पंजीकरण और प्रबंधन मजबूत किया गया है। साथ ही निवासियों की रोजाना सेवाओं पर भी जोर दिया गया है। सभी समुदायों में सब्जी और खाद्य पदार्थ स्टोर में उपलब्ध हैं। जहां लोग नववर्ष के लिए उपयोगी पारंपरिक चीज़ों को खरीद सकते हैं।

स्टोर के विक्रेता थाशी ने कहा, “हमारे यहां सबकुछ उपलब्ध है। जो चाहिये होता है हम कंपनी को फोन कर देते हैं और कंपनी तुरंत भिजवा देती है। मैं भी लोगों के घर सब्जी भेजने जाता हूं।”

उधर ल्हासा शहर के छंगक्वान जिले की चींगथू कंपनी के मेनेजर सोलाम ने कहा कि कंपनी ने शानतोंग और सछ्वान आदि प्रांतों से सैकड़ों टन चावल, आटा, अनाज, तेल और मांस इत्यादि का क्रय किया है। हमारे माल को सभी लोगों के घर तक पहुंचाया जाता है।

23 फरवरी तक तिब्बत स्वायत्त प्रदेश में नये कोरोना वायरस संक्रमण की मात्रा शून्य रही। तिब्बती लोगों का कहना है कि शांत रहना सबसे महत्वपूर्ण बात है।

( हूमिन )

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories