चिज़ाला:खुला, एकजुट और अच्छी तरह संरक्षित तिब्बत

2018-10-29 16:10:57
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

चिज़ाला:खुला, एकजुट और अच्छी तरह संरक्षित तिब्बत

 खुला, एकजुट और अच्छी तरह संरक्षित तिब्बत

हाल ही में तिब्बत स्वायत्त प्रदेश के अध्यक्ष चिज़ाला ने चीन के मशहूर पत्रिका ल्याओवांग के संवाददाता से इंटरव्यू दिया और तिब्बत में आर्थिक व सामाजिक विकास के बारे में स्थितियों का परिचय दिया।

 चिज़ाला ने कहा कि तिब्बत की शांतिपूर्ण मुक्ति की 60वीं वर्षगांठ होने के बाद तिब्बती पठार पर एक समाजवादी आधुनिक तिब्बत नजर आ रहा है। और देश में रुपांतर व खुलेपन की 40वीं वर्षगांठ पर तिब्बत में भी नये दौर का रुपांतर और खुलेपन का काम किया जा रहा है। खुला, एकजुट और अच्छी तरह संरक्षित तिब्बत अपनी बांह विश्व को खोलता रहा है। पार्टी की 18वीं राष्ट्रीय कांग्रेस के आयोजन से शी चिनफिंग के नये युग चीनी विशेषता वाली समाजवादी विचारधारा के मार्गनिर्देश में तिब्बत ने देश के दूसरे प्रांतों की सहायता से आर्थिक विकास और प्राकृतिक वातावरण के संरक्षण में उल्लेखनीय उपलब्धियां हासिल की हैं।

चिज़ाला ने कहा कि तिब्बत प्राचीन काल से ही चीन से पश्चिम तक जाने वाले मार्ग पर महत्वपूर्ण पड़ाव था। मशहूर चाय हॉर्स रोड भी तिब्बत से चलता रहा था। शांतिपूर्ण मुक्ति से और खासकर रूपांतरण और खुलेपन से अभी तक तिब्बत सामंती भूदास समाज से समाजवादी समाज में प्रविष्ट हुआ। रूपांतरण और खुलेपन चीन की दूसरी क्रांति है। इससे गहराई से तिब्बत का विकास और बदलाव किया गया है। आज तिब्बत चीन से दक्षिण एशिया की ओर द्वार खुलने का रणनीतिक द्वार तथा एक पट्टी एक मार्ग का महत्वपूर्ण पड़ाव माना जा रहा है। नागरिक व्यापार तिब्बत के जरिये चीन के भीतरी इलाकों से दक्षिण एशिया, मध्य एशिया और पश्चिम एशिया आदि क्षेत्रों तक चलता जा रहा है। इसलिए रूपांतरण और खुलेपन की 40वीं वर्षगांठ पर हम तिब्बत के खुलेपन को और अधिक तौर पर जोर देंगे और सीमांत बंदरगाहों के निर्माण तथा सीमांत व्यापार को बढ़ावा देंगे। इसी विश्वास में हम ने तिब्बत में "हिमालय अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक सहयोग मंच" और "दक्षिण एशिया मानकीकरण फोरम" का सफलतापूर्ण आयोजन किया है।

 चिज़ाला ने कहा कि एकता तिब्बत में आर्थिक व सामाजिक विकास की नींव है। तिब्बत देश का एक ऐसा बहुजातीय क्षेत्र है जिस का निर्माण इस क्षेत्र में रहने वाले विभिन्न जातियों के द्वारा संयुक्त रूप से किया गया है। तिब्बत में विभिन्न जातीय लोगों के एकता का लम्बा इतिहास प्राप्त है। इतिहास में तिब्बत में विभिन्न जातियों की जनता ने एक दूसरे का समर्थन कर संयुक्त रूप से शानदार सभ्यता का सृजन किया था। सन 2015 के सितंबर यानी तिब्बत स्वायत्त प्रदेश की स्थापना की 50वीं वर्षगांठ पर महासचिव शी चिनफिंग ने तिब्बत को "राष्ट्रीय एकता को सुदृढ़ बनाए और सुंदर तिब्बत का निर्माण करे" के शब्द लिखे और तिब्बती जनता को सौहार्दपूर्ण आशा और अभिवादन प्रकट किया। तिब्बत स्वायत्त प्रदेश की पार्टी कमेटी और सरकार ने हमेशा से जातीय एकता को अपने कार्यों में प्राथमिकता दी है। जातीय एकता की भावना विभिन्न जातीयों के दिल में सुदृढ़ रही हुई है। युवाओं को रोजगार की गारंटी के लिए स्वायत्त प्रदेश ने 11 नीतियां बनायीं और वर्ष 2017 में ही 59 करोड़ युआन की रोजगार विशेष पूंजी डाली। साथ ही प्रदेश और भीतरी इलाकों के लोगों को एक दूसरे के यहां रोजगार करने के लिए प्रोत्सहित किया गया है। इधर के वर्षों में तिब्बत ने भीतरी इलाकों से हजारों उद्यमियों और तकनीशियनों को आमंत्रित किया जिन्हों ने तिब्बत में अनेक रोपण और पशुपालन आदि कारोबार स्थापित किये और तिब्बती लोगों के गरीबी उन्मूलन कार्यों को बड़ी मदद दी है। वर्तमान में तिब्बत स्वायत्त प्रदेश का वैज्ञानिक, बुद्धिमान और कानूनी शासन करने का स्तर उन्नत रहा है। तिब्बती समाज में लगातार सामंजस्य और स्थिरता रहने की स्थितियां बनी रही हैं। तिब्बत स्वायत्त प्रदेश में सभी पदाधिकारियों और आम लोगों की एक ही उम्मीद है यानी कि तिब्बत में एकता, अमीर और खुशहाल का समाज निर्मित किया जाए। चीनी राष्ट्रीय समुदाय की जागरूकता तथा तिब्बती संस्कृति चीनी संस्कृति का एक अविभाज्य हिस्सा होने का विचार सभी लोगों का समान विचार बना है।

चिज़ाला ने कहा कि महासचिव शी चिनफिंग ने भी कहा है कि तिब्बत "एशिया का वाटर टॉवर" और "पृथ्वी का तीसरा ध्रुवीय" है, यहां दुर्लभ जंगली पशुओं का निवास स्थान और पठार प्रजातियों का जीन भंडारण भी कहलाता है। तिब्बत में प्राकृतिक वातवारण को नष्ट करने से पूरे देश और यहां तक सारी दुनिया पर प्रभावित होगा। स्वायत्त प्रदेश की पार्टी कमेटी और सरकार ने पर्यावरण के संरक्षण को प्राथमिकता देकर वनीकरण और हरियाली परियोजना, तथा प्रदूषण की रोकथाम पर जोरदार कदम उठाये हैं। वर्तमान में, तिब्बत में जल, मिट्टी और वायु की गुणवत्ता उत्कृष्ट रही है। और यहां दुनिया में सबसे अच्छा प्राकृतिक वातावरण में से एक कहलाता है। भविष्य में हम महासचिव शी चिनफिंग के विचार के मुताबिक तिब्बत में राष्ट्रीय पार्क के निर्माण को बढ़ाएंगे। तिब्बत में सबसे ज्यादा मूल्य, सबसे बड़ी जिम्मेदारी और सबसे अधिक क्षमता पारिस्थितिकी ही होती है। और साथ ही उन लोगों, जो 4,800 मीटर से अधिक ऊंचाई पर के अल्पाइन क्षेत्रों, प्रकृति संरक्षण क्षेत्रों और पारिस्थितिक रूप से नाजुक क्षेत्रों में रहते हैं, को कम ऊंचाई और बेहतर स्थितियों के क्षेत्रों में स्थानांतरित किया जाएगा। ताकि इन क्षेत्रों को मूल पारिस्थितिकी और जंगली जानवरों का स्वर्ग बनाया जा सके।

चिज़ाला ने कहा कि पार्टी की 18वीं राष्ट्रीय कांग्रेस से महासचिव शी चिनफिंग ने तिब्बत के विकास को बहुत ध्यान दिया है। और पार्टी व राज्य कार्यों में तिब्बत की सामरिक स्थिति को एक अभूतपूर्व स्तर पर पहुंचाया गया है। महासचिव शी चिनफिंग ने खुद भी तिब्बती जनता के लिए सिलसिलेवार नीतियां बनायी हैं। 13वीं पंचवर्षीय योजना के दौरान केंद्र ने तिब्बत में अनेक महत्वपूर्ण परियोजनाओं का निर्माण किया। केंद्र ने अभी तक छह तिब्बती कार्य सभा बुलायी है। अब तिब्बत की सहायता पूरे देश की शक्ति से की जा रही है, जो देश भर में एक मात्र ही होता है। केंद्र की छठवीं तिब्बती कार्य सभा में महासचिव शी चिनफिंग के नेतृत्व में तिब्बत के वित्त, कराधान, औद्योगिक विकास, पारिस्थितिक संरक्षण, रोजगार और जन जीवन के बारे में सिलसिलेवार नीतियां बनायी गयी हैं। प्रधानमंत्री ली खछ्यांग आदि केंद्र के नेताओं ने भी खुद "बिग गिफ्ट पैक" लेकर तिब्बत का दौरा किया। पार्टी की 18वीं राष्ट्रीय कांग्रेस के आयोजन से अभी तक के वर्षों में तिब्बत में सबसे तेज विकास हो पाया है। तिब्बत स्वायत्त प्रदेश में जीडीपी की औसत वार्षिक वृद्धि दर 10.8 प्रतिशत रही है, जो देश के औसत स्तर से 4 प्रतिशत अंक अधिक है। लेकिन तिब्बत के सामने फिर भी बहुत सी कठिनाइयां मौजूद हैं। तिब्बत सामंती भूदास समाज से समाजवादी समाज में विकसित हो गया है। तिब्बती पठार पर प्राकृतिक वातावरण नाजुक रहता है। सूखा, बाढ़, गारा, भूकंप और भूस्खलन आदि प्राकृतिक आपदा कभी कभी पैदा होता है। स्वायत्त प्रदेश में 77 काउंटियां गरीबी की स्थिति मौजूद है। प्रदेश में बुनियादी सार्वजनिक सेवा बहुत कमजोर है।  शिक्षा, विज्ञान, संस्कृति और स्वास्थ्य जैसे पेशेवर और तकनीकी कर्मियों की गंभीर कमी होती है। लेकिन पार्टी के नेतृत्व में हम राजनीतिक श्रेष्ठता और व्यवस्थागत श्रेष्ठता के सहारे इन सभी समस्याओं को दूर करने में संकल्पबद्ध हैं। हम रूपांतर और खुलेपन के जरिये तिब्बत का आगे विकास करेंगे। तिब्बत का विकास उद्यमों पर निर्भर है। तिब्बत में राष्ट्रीय स्वामित्व वाले उद्यमों और सभी निजी उद्यमों के लिए द्वार खुलेगा। इसी आधार पर तिब्बत में बाजार व्यवस्था का विकास किया जाएगा। हम जी-जान से अपने व्यापारिक वातावरण में निरंतर सुधार करेंगे। और तिब्बत में पूंजीनिवेश लगाने वाले उद्यमियों को अधिकाधिक मौका तैयार करने के लिए अथक प्रयास करेंगे। इसी उद्देश्य में हमारी निवेश अनुमोदन प्रणाली को भी सरल बनायी जाएगी। साथ ही तिब्बत स्वायत्त प्रदेश में कराधान, वित्त, भूमि, रोजगार और उद्यमिता की उत्तम नीतियां बनाई जाएंगी।

 

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories