शांगचंग में कृषि और पर्यटन का मेल

2018-05-16 15:50:18
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

शांगचंग में कृषि और पर्यटन का मेल

शांगचंग में कृषि और पर्यटन का मेल

22 अप्रैल की सुबह मध्य चीन के हनान प्रांत के सबसे दक्षिण में स्थित शांगचंग काउंटी के ली लो चंग प्राकृतिक दृश्य क्षेत्र में भीड़ भाड़ नजर आ रही थी ।प्रथम शांगचंग धान रोपने के उत्सव का उद्घाटन समारोह आयोजित होने वाला था ।

ली लो चंग प्राकृतिक दृश्य क्षेत्र ऊंचे ऊंचे पहाड़ों के बीच स्थित है ।एक छोटी नदी घाटी में बहती है ।नदी के किनारे सीढीनुमा खेत हैं ।धान का पैधा लगाने का सब से अच्छा मौसम बदली या छोटी वर्षा है ।उस दिन मौसम ऐसा ही थी ।

संगीत घाटी में गूंज रहा था ।विभिन्न टोपियों को पहने हुए पर्यटक सभा स्थल पर भरे हुए हैं ।

मंच के पीछे सांस्कृतिक कार्यक्रम अंतिम तैयारी में थे ।तीसेक प्राइमरी स्कूल के छात्र रिहर्सल कर रहे थे ।कार्यक्रम पर जिम्मेदार अध्यापक ल्यू पिन ने बताया कि ये छात्र एक स्थानीय कला स्कूल के थे ।उन्होंने इस उत्सव के लिए विशेष तौर पर कार्यक्रम तैयार किया है ।उन्होंने बताया ,इस कार्यक्रम की हमारी शांगचंग काउंटी की विशेष शैली है ।पहले इस पर एक नृत्य था ।हम ने इसमें सुधार किया और बच्चे नाचेंगे ।

शांगचंग में कृषि और पर्यटन का मेल

शांगचंग में कृषि और पर्यटन का मेल

समारोह स्थल पर अब खाली सीट नहीं थी ।आसपास कई लोग खड़े हुए थे ।सांस्कृतिक कार्यक्रम शुरू हुआ है ।एक वरिष्ठ पुरुष के नेतृत्व में बच्चे 24 सौरावधि की गीत सुना रहे थे ।

24 सौरावधि प्राचीन समय में मध्य चीन के लोगों ने मौसम और कृषि उत्पादन की स्थिति के अनुसार निर्धारित किये थे ।रोपना या फसल काटना किसी सौरावधि से जुड़ा है ।एक चंद्रवर्ष कुल 24 सौरावधियों में विभाजित है ।हर सौरावधि अधिक से अधिक 15 दिनों की होती है ।प्रत्येक सौरावधि जिस दिन आरंभ होती है ,उसी दिन सूर्य बारह राशियों में से किसी एक की प्रथम या पंद्रहवीं डिग्री में प्रवेश करता है ।प्रत्येक सौरावधि का अपना नाम होता है ,जो उस अवधि में प्रकृति में होने वाला उल्लेखनीय परिवर्तन का द्योतक होता है ।शांगचंग उत्तर और दक्षिण चीन के मौसम की विभाजन रेखा पर स्थित है ।यहां उत्तर और दक्षिण दोनों की विशेषता वाली कृषि संस्कृति पीढ़ी दर पीढ़ी संभलती है ।24 सौरावधि उन के जीवन से घनिष्ठ रूप से जुड़ती है ।

गीत-नृत्य कार्यक्रम के बाद एक 70 वर्ष की आयु के वृद्ध ने पूजा पाठ का वाचन करना शुरू किया ।

वे नामी चित्रकार ख छी हैं ।शांगचंग उन का गृहस्थल है ।पचास साल पहले वे गृहनगर से चले गये ,लेकि गृहनगर के पहाड़ ,नदी और जनता अकसर उन के सपने में निकलते हैं ।होमटाउन के प्रति उन की गहरी भावना है ।

धान रोपने का वक्त आ गया ।लोग अच्छे मौसम या अच्छी फसल की शुभकामना करते हुए बुआई की खुशी मना रहे थे ।

शांगचंग में कृषि और पर्यटन का मेल

शांगचंग में कृषि और पर्यटन का मेल

धान का पौधा लगाने की प्रतियोगिता शुरू हुई ।अधिकांश पर्यटकों के लिए यह पहली बार है कि उन्होंने धान लगाना देखा ।कुछ पर्यटक भी इस प्रतियोगिता में उतरे ।धान लगाने की प्रतियोगिता के साथ साथ उधर मछली पकड़ने की प्रतियोगिता भी चल रही थी ,जो हंसी मजाक से भरी हुई थी ।स्थल पर हनान के अन्य क्षेत्रों और आसपास के अनहुई प्रांत व हुपेइ प्रांत के 1 हजार से अधिक पर्यटक थे और विभिन्न देशों से आये दसियों विदेशी दोस्त भी थे ।उन विदेशी दोस्तों के लिए एक छोटे गांव आकर विशिष्ट खेती महसूस करना और गतिविधि में भाग लेना चीन जानने का अच्छा मौका है ।

पहली पंक्ति में बैठी हना चीनी भूतत्व विश्वविद्यालय में पढ़ती है ,जो चेक गणराज्य से आयी ।उन्होंने सीआरआई के संवाददाता को बताया,

मुझे बड़ी रुचि लगती है ।चीन आने का एक उद्देश्य चीनी संस्कृति की महसूसी करन है । मुझे पर्यटन और निर्माण भवन पसंद है ।इस लिए धान लगाने का उत्सव मेरे लिए बहुत दिलचस्प है ।मुझे परंपरागत खेती का काम देखना पसंद है ।न सिर्फ धान लगाना और अन्य गतिविधि ।

शांगचंग में कृषि और पर्यटन का मेल

शांगचंग में कृषि और पर्यटन का मेल

मध्य चीन नॉमल विश्वविद्यालय में पढ़ रहे मैटिआह अफगानिस्तान से आये है ।उन्होंने खुशी से बताया,यह गतिविधि बहुत अच्छी है ।मेरे होमटाउन में धान खेत भी हैं ।इस गतिविधि से मुझे होमटाउन की याद आई ।अफगानिस्तान एक कृषि प्रधान देश है ।ऐसी गतिविधि में भाग लेना रूचिकर है ।

 साल दर साल खेती करने का काम अब उत्सव बन गया है और इतने ज्यादा लोग इसे देखने के लिए आये ।स्थानीय किसानों के लिए यह एक नयी बात और अच्छी बात भी है ।वास्तव में कई किसानों को वर्तमान युग के इस परिवर्तन से लाभ मिला है ।किसान ल्यांग दवेन ने बताया ,पर्यटन के विकास से बस आती जाती है ।सबको सुविधा है ।गतिविधि करने से वृद्ध भी कुछ बिक्री कर सकते  हैं ।धान लगाने के उत्सव के आयोजन से आर्थिक विकास को बढ़ावा मिलेगा ।

धान लगाने के उत्सव के पहले दिन में 4000 से अधिक लोग आये। इस गतिविधि के आयोजक फूशान कस्बे के लिए यह एक बड़ी उपलब्धि है ,क्योंकि फूशान कस्बे की आबादी सिर्फ 30 हजार से ज्यादा है ।फूशान कस्बे के प्रमुख ली श्येनलिन ने बताया कि इधर कुछ साल कस्बे सरकार ने पर्यटन को प्राथमिकता देकर स्थानीय पर्यटन संसाधन और परंपरागत कृषि संस्कृति जोड़ने की नीति बनाया ।धान लगाने का उत्सव उन की एक पहल है ।उन्होंने बताया ,कृषि को पर्यटन से जोड़ना हमारी नयी कोशिश है ।हमारा लक्ष्य पूरा हुआ है ।सकारात्मक प्रतिक्रिया मिली है । इससे हमारे ग्रामीण पर्यटन विकास का विश्वास मज़बूत हुआ है ।

ली श्येन लिन के अनुसार इधर कुछ साल काउंटी सरकार के नियोजन के तहत फूशान कस्बे ने ग्रामीण पर्यटन पर जोर लगाया और पारिस्थितिकी, व्यवसाय और पर्यटन से गांव समृद्ध बनाने का नारा पेश किया। बहुत किसान होटल और रेस्टरां चलाने से अमीर बन गये ।बाहर काम कर रहे कई लोगों ने भी होमटाउन वापस लौटकर अपना धंधा शुरू किया ।चीनी पर्यटन वाणिज्यिक संघ के उपाध्यक्ष वांग श्यो मेन शांगचंग मूल के हैं ।उन्होंने होमटाउन के पर्यटन विकास में असाधारण योगदान दिया ।उन्होंने बताया ,अगर इस परियोजना में गरीबी उन्मूलन और अन्य व्यवसाय बढ़ाने की भूमिका नहीं है ,तो मेरी रुचि नहीं होगी ।मैं चुनौती का सामना करना चाहता हूं ।

शांगचंग में कृषि और पर्यटन का मेल

शांगचंग में कृषि और पर्यटन का मेल

वांग श्योमेन ने बताया कि उन को पर्यटन उद्योग में कई साल लगे हुए हैं । वे इंटरनेट आफ थिंग्स (आईटीओ) मंच स्थापित करने की कोशिश क रहे हैं ताकि स्मार्ट पर्यटन का विकास किया जाए ।होमटाउन ने उन को अपना सपना पूरा करने का एक मौका दिया ।इस जनवरी में शांगचंग काउंटी ने ताप्य मिंगचू ग्रामीण पर्यटन विकास लिमिटेड कंपनी स्थापित की ।वांग श्योमेन ने इस कंपनी में पूंजी लगाई और बोर्ड अध्यक्ष का पद सँभाला ।उन्होंने बताया कि वे इंटरनेट ,पर्यटन ,गांव और किसान को जोड़ना चाहते हैं ताकि समान विकास हो सके ।उन्होंने बताया ,सबसे अहम बात आईटीओ ई बिजनेस है ।हमारा उद्देश्य यहां की उपज और वस्तुएं बेचना है ।आईटीओ के जरिये शापिंग का मंच तैयार करना है ।हर पर्यटक हमारे के लिए प्रचार कर सकता है ।

 

चेन चांग अ शांगचंगवासी है ।हनान विश्वविद्यालय के कानून विभाग में एम ए करने के बाद उन्होंने हनान की राजधानी चंगचो में कुछ समय तक काम किया ।अब वे ताप्य मिंगचू ग्रामीण पर्यटन लिमिटेड कंपनी में शामिल हुई हैं ।उन्होंने बताया कि शांगचंग के विकास की स्थिति अच्छी हो रही है ।कानूनी जागरूकता मजबूत हो रही है ।माहौल अच्छा है ।वापस लौटकर एक तरफ मैं अपनी कंपनी का प्रचार करती हूं ,दूसरी तरफ किसानों को अधिक कानूनी जानकारी दे सकती हूं ।उन्होंने कहा कि होमटाउन के प्रति सद्भावना अलग नहीं हो सकती ।कंपनी के भविष्य को लेकर वे उत्साहित हैं ।होमटाउन वापस आना सफलता पाने का मौका भी है ।

वांग श्यो मेन ने बताया कि शांग चंग काउंटी में फूशान कस्बे जैसे दसेक पर्यटन क्षेत्रों का विकास होगा और एक अधिक बड़ा मंच स्थापित होगा ,ताकि अधिकाधिक किसाम इस में शामिल हो ।

शांगचंग काउंटी की सीपीसी समिति के सचिव ली कॉलिंग ने हमारे संवाददाता को बताया कि इधर कुछ साल शांगचंग के पर्यटन उद्योग का तेज विकास हुआ ,जिस का उत्पादन मूल्य पूरी काउंटी आर्थिक मात्रा का एक तिहाई भाग है ।जिस गांव में पर्यटन का विकास है ,वहां के एक तिहाई किसानों ने अच्छा लाभ मिला है ।अगले चरण के विकास की चर्चा में ली कॉलिंग ने बताया,अधिक किसानों को इसमें शामिल करना ,गांव की सहकारी अर्थव्यवस्था इसमें शामिल करना और अधिक उद्यम इस में शामिल करना है ।मेल ,सहयोग ,सह निर्माण ,साझा करना ,समान जीत से स्थानीय किसानों को लाभ मिलेगा ।

शांगचंग में कृषि और पर्यटन का मेल

शांगचंग में कृषि और पर्यटन का मेल

ली कॉलिंग ने बताया कि चालू साल शांग चंग को पूरी तरह गरीबी से छुटकारा मिलेगा ।पर्यटन ग्रामीण क्षेत्र का पुनरुत्थान करने का सब से प्रभावी माध्यम है ।समग्र क्षेत्र पर्यटन के विकास से स्थानीय लोग अधिक सुखमय होंगे और शांगचंग  सच्चे मायने में एक बृहद दर्शनीय क्षेत्र बनेगा ।उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य है कि निरंतर कोशिशों से हमारे खेत उद्यान के रूप में निर्मित होगा ,हमारा गांव दर्शनीय स्थल बनेगा।

हरे पानी और नीले पहाड़ तो स्वर्ण पहाड़ और रजत पहाड़ है ।शांगचंग में सुंदर पहाड़ और स्वच्छ पानी है ।यहां पर्यटन और कृषि का मेल मिलाप कर हरित विकास के रास्ते पर चल रहा है। बड़ी तादाद में किसान नये विकास के तरीके से अधिक सुख महसूस कर रहे हैं।

(वेइतुंग)  

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories