वर्ष 2017 में पेइचिंग के PM2.5 घनत्व में 20 प्रतिशत कमी

2018-01-09 14:06:37
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

वर्ष 2017 में पेइचिंग के PM2.5 घनत्व में 20 प्रतिशत कमी

वर्ष 2017 में पेइचिंग के PM2.5 घनत्व में 20 प्रतिशत कमी

3 जनवरी को पेइचिंग म्युनिसिपल ब्यूरो ने संवादाता सम्मेलन में वर्ष 2017 पेइचिंग की वायु गुणवत्ता की स्थिति से अवगत कराया ।इधर कुछ साल में पेइचिंग की वायु गुणवत्ता में बहुत सुधार हुआ है ।पिछले साल पेइचिंग की पीएम 2.5 की औसत सालाना घनत्व 58 माइक्रोग्राम प्रति घनमीटर थी ,जो वर्ष 2016 से 20 प्रतिशत कम हुई है ।  

पेइचिंग के पर्यावरण संरक्षण निगरानी केंद्र के उपनिदेशक ल्यू पाओ शिएं के अनुसार वर्ष 2017 में पेइचिंग में पीएम 2.5 समेत चार प्रमुख प्रदूषण पदार्थों के सूचकांक में सुधार आया है ।पीएम 2.5 का सालाना घनत्व 58 माइक्रोग्राम प्रति घनमीटर था ।पेइचिंग ने केंद्रीय सरकार की वायु प्रदूषण की रोकथाम कार्रवाई योजना में तय किये लक्ष्य को पूरा किया है ।

 उन्होंने बताया ,वर्ष 2017 में पेइचिंग के पीएम 2.5 का औसत सालाना घनत्व 58 माइक्रोग्राम प्रति घनमीटर है ,जो पिछले साल के मुकाबले 20.5 प्रतिशत कम हुआ है ।यह गिरावट उल्लेखनीय है ।पेइचिंग ने केंद्रीय सरकार की वायु प्रदूषण रोकथाम कार्रवाई योजना में पेश की गई 60 माइक्रोग्राम प्रति घनमीटर का लक्ष्य पूरा किया है ।बाकी तीन प्रमुख प्रदूषण पदार्थ सल्फर डाइआक्साइड ,पीएम 10 और नाइट्रोजन डाइआक्साइड अलग अलग तौर पर 8 माइक्रोग्राम प्रति घनमीटर ,84 माइक्रोग्राम प्रति घनमीटर और 46 माइक्रोग्राम प्रति घनमीटर है ,जो वर्ष 2016 से क्रमशः 20 प्रतिशत ,8.7 प्रतिशत और 4.2 प्रतिशत गिरा है ।

आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2013 से वर्ष 2017 तक पेइचिंग में नीले आकाश वाले दिनों की संख्या में बड़ी वृद्धि दर्ज हुई है और गंभीर प्रदूषण की संख्या काफी कम हो गयी है ।

 

वर्ष 2017 में पेइचिंग के PM2.5 घनत्व में 20 प्रतिशत कमी

वर्ष 2017 में पेइचिंग के PM2.5 घनत्व में 20 प्रतिशत कमी

ल्यू पाओशिएं ने बताया, वर्ष 2013 से 2017 तक पेइचिंग में मापदंड से मेल खाने वाले दिनों की संख्या काफी हद तक बढ़ी है ।वर्ष 2013 में मापदंड से मेल खाने वाले दिनों की संख्या 176 थी ,जो पूरे साल का 48.2 प्रतिशत था ।वर्ष 2017 में मापदंड से मेल खाने वाले दिनों की संख्या 226 थी ,जो पूरे साल का 62.1 प्रतिशत था ।एक उल्लेखनीय बात है कि पहले दर्जे वाले दिनों की संख्या बढ़ी है ,जो वर्ष 2013 के 41 दिन से बढ़कर वर्ष 2017 में 66 दिन बन गयी ।इस के साथ गंभीर प्रदूषण के दिनों की संख्या साल दर साल कम हो रही है ,जो वर्ष 2013 के 58 दिन से घटकर वर्ष 2017 में 23 दिन ही रह गई यानी इसमें 60 प्रतिशत की गिरावट आयी है ।

पेइचिंग पर्यावरण संरक्षण ब्यूरो के वायु पर्यावरण विभाग के प्रमुख ली श्यांग ने बताया कि इधर कुछ साल पेइचिंग ने वायु प्रदूषण की रोकथाम के लिए ऊर्जा के ढांचे ,व्यावसायिक ढांचे और यातायात के ढांचे के सुधार में कई कदम उठाये ।पिछले पाँच साल में बॉयलर में कोयले की जगह स्वच्छ ऊर्जा के इस्तेमाल ,गांवों में कोयले के सख्त प्रबंधन ,राजधानी की भूमिका ( राजनीति, सांस्कृतिक, वैज्ञानिक सृजन और अंतर्राष्ट्रीय आवाजाही) के प्रतिकूल व्यवसायों और प्रदूषण कारखाने के पुनर्स्थान और पुरानी गाड़ियों को रद्द करने में बड़ी उपलब्धि मिली है ।इस के अलावा पेइचिंग ने प्रशासन मज़बूत करने के साथ आर्थिक प्रोत्साहन नीति भी पेश की ।

ली श्यांग ने बताया, पाँच साल में ठोस पदार्थ के प्रदूषण के खिलाफ 16 हज़ार मामले दर्ज किये गये और 59 करोड़ युआन मुआवज़े की सज़ा दी गयी ।इस के अलावा पर्यावरण संरक्षण मापदंड की भूमिका निभायी गयी ।पेइचिंग ने लगातार बॉयलर ,प्रकाशन और फर्नीचर समेत 43 गैस उत्सर्जन के मापदंड जारी किये ।पेइचिंग ने देश में सब से संपूर्ण और सख्त मानक व्यवस्थाएं स्थापित कीं ,जिस से प्रदूषण पैदा करने वाले उद्यमों को प्रदूषण खत्म करने में तेज़ी लानी पड़ी ।

सूत्रों के अनुसार पेइचिंग म्युनिसिपल सरकार वर्ष 2018 में पीएम 2.5 पर फोकस जारी करेगी और कानूनी ,आर्थिक ,तकनीकी और प्रशासनिक उपायों से प्रदूषण पदार्थ घटाने की पूरी कोशिश करेगी ।पेइचिंग की 13वीं पंचवर्षीय पर्यावरण संरक्षण और पारिस्थितिकी निर्माण योजना के अनुसार वर्ष 2020 तक पेइचिंग की पीएम 2.5 का सालाना औसत घनत्व 56 माइक्रोग्राम प्रति घनमीटर घट जाएगा ।बेहतर वायु गुणवत्ता वाले दिनों का अनुपात 56 प्रतिशत से अधिक होगा ।   (वेइतुङ) 

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories