खुशखबरीः अब चीनी पर्यटकों को मिलेगा 5 साल का इंडियन वीज़ा

2019-10-12 16:32:25
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
3/4

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग की भारत यात्रा के बीच भारत सरकार ने चीनी नागरिकों को एक तोहफा देने का ऐलान किया है। इस बाबत भारत जाने के इच्छुक चीनी पर्यटकों के लिए वीजा नियमों में ढील देने की घोषणा की गयी है। भारत की यात्रा करने वाले चीनी लोगों के लिए इससे बड़ी खुशी की खबर और क्या हो सकती है कि अब उन्हें बिना किसी बाधा के 5 साल का मल्टीपल एंट्री (बहु-प्रवेश) पर्यटक वीज़ा मिल जाएगा।

पेइचिंग स्थित भारतीय दूतावास की ओर से जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि भारत सरकार ने चीनी लोगों के लिए अपनी ई-वीज़ा नीति को और उदार बनाने का फैसला किया है। इसके तहत वीज़ा की अवधि व वीज़ा फ़ीस आदि में रियायत दी गयी है। नई वीज़ा पॉलिसी इस महीने (अक्तूबर 2019) से लागू हो गयी है। अब चीनी नागरिक पाँच साल के मल्टीपल एंट्री ई-पर्यटक वीजा (ई-टूरिस्ट वीज़ा) के लिए आवेदन कर सकेंगे। जिसकी फीस 80 डॉलर (567 युआन/5684 रुपए) निर्धारित की गयी है।

इसके साथ ही, चीनी पर्यटक 30 दिन का सिंगल एंट्री (एक बार प्रवेश) ई-टूरिस्ट वीज़ा भी हासिल कर पाएंगे। इस तरह के वीज़ा में दो श्रेणियां बनायी गयी हैं, पहली सामान्य अवधि की वीज़ा फ़ीस 25 डॉलर (177 युआन) होगी। जबकि पहली अप्रैल से जून के महीने तक, गर्मियों के वक्त वीजा फ़ीस सिर्फ 10 डॉलर (70 युआन) रहेगी।

इसके अलावा एक साल का मल्टीपल एंट्री वीज़ा भी चीनी नागरिकों को मिलता रहेगा, लेकिन उसकी फीस में भी कटौती की गयी है। जो अब 40 डॉलर (283 युआन) होगी। वहीं पहले से उपलब्ध, ई-मेडिकल वीज़ा, ई-क्रांफ्रेंस वीज़ा और एक साल के मल्टीपल एंट्री ई-बिजनेस वीज़ा के लिए पूर्व की तरह आवेदन किया जा सकता है।

भारतीय दूतावास के एक अधिकारी ने सीआरआई को बताया कि वीज़ा नीति को उदार बनाए जाने से चीन और भारत के बीच पीपुल-टु-पीपुल एक्सचेंज बढ़ेगा और तमाम चीनी पर्यटक घूमने के लिए इंडिया जा सकेंगे। उन्होंने कहा कि ई-वीज़ा सिर्फ 72 घंटे में हासिल किया जा सकता है।


अनिल आज़ाद पांडेय

शेयर