20180528

2018-05-28 15:01:55
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

चीन ने बैंकिंग और बीमा उद्योग को खोलने के लिए कई कदम उठाया

 

चीनी बैंक बीमा नियामक आयोग ने हाल ही में यह सूचना दी कि बैंकिंग उद्योग और बीमा उद्योग को खोलने में तेज़ी लाने के लिए कदम उठाया जाएगा। विशेषज्ञों का विचार है कि वित्तीय उद्योग खोलना चीन और अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक सहयोग को आगे बढ़ाने की संकेत और महत्वपूर्ण कदम है, जिससे बाज़ार की जीवन शक्ति बढ़ाने के साथ उद्यमों को स्वस्थ प्रतिस्पर्धा लाई जाएगी।

सुधार और खुलेपन का नया चरण शुरू होने के साथ चीन ने सक्रिय रूप से पूरी तरह खुलेपन की नई स्थिति बनाने का प्रस्ताव पेश किया है। हाल ही में चीनी बैंक बीमा नियामक आयोग ने जल्द ही जल्द खुलेपन के विभिन्न कदम उठाने की घोषणा की। लोग विदेशी निवेश की सुविधा को बढ़ावा देने पर ज्यादा ध्यान देते हैं, जिनमें चीनी बैंकों और वित्तीय परिसंपत्ति प्रबंधन कंपनियों के विदेशी स्वामित्व पर प्रतिबंधों को रद्द करना, देश के अंदर और बाहर दोनों इक्विटी निवेश के आनुपातिक नियमों को लागू करना जैसी चीज़ें शामिल हैं।

संबंधित नियम जल्द ही जल्द लागू करने के लिए चीनी बैंक बीमा नियामक आयोग ने विदेशी बैंकों के बाजार पहुंचने की शर्त का आगे विस्तार करने के संबंधित मामलों की सूचना, विदेशी निवेशित बीमा आर्थिक कंपनियों के व्यापार के दायरे का विस्तार करने की सूचना जारी की।

चीन द्वारा बैंकिंग उद्योग और बीमा उद्योग को खोलने के लिए कई कदम उठाने पर छिंग ह्वा विश्वविद्यालय के राष्ट्रीय वित्तीय अनुसंधान केंद्र के उपाध्यक्ष च्यू निंग ने कहा कि यह चीन में लगाई गई आगे सुधार और खुलेपन की नीति है। अंतर्राष्ट्रीय बाज़ार के लिए हम अपने बाज़ार खोलेंगे और इसके साथ चीन ने अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक सहयोग को आगे बढ़ाने के संकेत दिये और कदम उठाया। दूसरी तरफ, वित्त वैश्वीकरण का व्यापार है। चीन के बाजार को आगे खोलने से विदेशी संस्थाओं के चीन में विकास चीन के वित्तीय उद्योग को आगे बढ़ाने के लिए भूमिका निभाएगा। तीसरा, इस वर्ष चीन के आर्थिक कार्य का महत्व है व्यवस्थित वित्तीय ख़तरों को रोकना। अगर विश्व वित्तीय बाज़ार से आगे जोड़ा जाए, तो चीन के आर्थिक विकास की संरचना बदलने का समर्थन किया जाएगा, आर्थिक विकास की प्रक्रिया में मौजूद खतरों का हल किया जाएगा।

चीनी बैंक बीमा नियामक आयोग की सूचना के अनुसार चीन विदेशी निवेश वाले संस्थानों के कारोबार के दायरे का विस्तार करेगा, पूरी तरह विदेशी बैंक  द्वारा आरएमबी व्यवसाय के लिए आवेदन दिये जाने के दौरान व्यवसाय शुरू होने के एक साल के इंतजार के समय की मांग रद्द करेगा। वित्तीय उद्योग के खुलेपन का विस्तार करने से चीन में वित्तीय उद्योग पर क्या प्रभाव पड़ेगा?इस मामले की चिंता करने की आवश्यक्ता नहीं है। च्यू निंग ने कहा कि पूरे वित्तीय बाजार के विकास, जैसा कि ग्राहक की विश्वसनीयता और संस्थागत नवाचार, यह एक प्रगतिशील प्रक्रिया है। इस क्षेत्र में चीनी वित्तीय संस्थाओं की बड़ी श्रेष्ठता है। दूसरा, अंतर्राष्ट्रीय उन्नत अनुभव चीन के इस उद्योग के विकास, कंपनी के शासन, कंपनी के आंतरिक प्रबंधन में सुधार के लिए मदद दी जाएगी। तीसरा, आर्थिक वैश्वीकरण की वजह से विदेशी निवेश और वित्तपोषण के लिए चीनी उद्यमों और परिवारों की अधिकाधिक मांग हैं। इसलिए और अधिक विदेशी संस्थाएं चीन की असली अर्थव्यवस्था को सेवा देंगी, जिससे चीन के आर्थिक परिवर्तन और उन्नयन, चीनी उद्यमों और  परिवारों के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाई जाएगी।

  कानूनों और विनियमों के निर्माण में लगातार सुधार आने के साथ चीनी बैंक बीमा नियामक आयोग विभिन्न खुलेपन कदमों के लिए आवेदन की स्वीकृति करेगा। सूत्रों के अनुसार हाल ही में ब्रिटेन, जापान, सिंगापुर के वाणिज्यिक बैंकों और फ्रांस, जर्मनी की बीमा संस्थाओं ने चीन में नई संस्थानों की स्थापना करने या शेयर होल्डिंग बढ़ाने का इरादा व्यक्त किया। चीनी बैंक बीमा नियामक आयोग सुनिश्चित खुपेलन प्रस्ताव के अनुसार नीति का मार्गदर्शन करेगा, ताकि एक खेप के परियोजनाओं को आगे बढ़ाया जा सके।

चीनी राज्य परिषद के विकास अनुसंधान केंद्र के वित्तीय अनुसंधान संस्थान के उपाध्यक्ष छेन ताओ फू की नज़र में यह एक दूसरे से प्रतिस्पर्धी करने और एक दूसरे से सीखने की प्रक्रिया है। उन्होंने कहा कि वास्तव में उन के अपने अपने ग्राहक आधार और श्रेष्ठताएं हैं। कुछ क्षेत्रों में उन के बीच  निश्चित प्रतियोगिता है। लेकिन इस के साथ एक दूसरे से सीखने का मौका भी मिलेगा। अधिक संभावनाएं हैं कि चीन को और अच्छी वित्तीय सेवाएं मिलने के लिए चुनाव प्रदान किया जाएगा।

(वनिता)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories