सूचना:चाइना मीडिया ग्रुप में भर्ती

19 मार्च 2020

2020-03-18 19:13:55
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

किसी भी चीज का आविष्कार करना आसान काम नहीं होता। इसमें वैज्ञानिकों को सालों लग जाते हैं। तब जाकर कहीं वो सफल हो पाते हैं। आज हम आपको कुछ ऐसे ही आविष्कारक और उनके आविष्कारों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनके आविष्कार तो बहुत उपयोगी साबित हुए, लेकिन अफसोस कि उनके अपने ही आविष्कार उनकी मौत की वजह बन गए।

मैरी क्यूरी

रेडियम और पोलोनियम नामक दो तत्वों की खोज करने वाली मशहूर भौतिकविद और रसायनशास्त्री मैरी क्यूरी की मौत उनकी इसी खोज के कारण साल 1934 में हो गई थी। दरअसल, मैरी क्यूरी रेडियोएक्टिविटी पर काम कर रही थीं, लेकिन उन्हें इस बात का बिल्कुल भी अंदाजा नहीं था कि रेडियोएक्टिविटी कितनी खतरनाक होती है। उनके शरीर पर इसका बुरा प्रभाव पड़ा था, जिसकी वजह से उनकी मौत हो गई थी।

हॉरेस लॉसन हन्ली

अमेरिका के समर काउंटी में 29 दिसंबर 1823 को जन्मे हॉरेस लॉसन हन्ली ने हाथ से चलने वाली पनडुब्बी का आविष्कार किया था। हालांकि परीक्षण के दौरान उनकी पनडुब्बी समुद्र में डूब गई थी, जिसमें वो भी अपने क्रू-मेंबर्स के साथ मौजूद थे। इस हादसे में उनकी मौत हो गई थी।

फ्रांज रीचेल्ट

ऑस्ट्रिया में जन्मे फ्रांज रीचेल्ट को आधुनिक विंगसूट का आविष्कारक माना जाता है। हालांकि इसकी टेस्टिंग के लिए पेरिस के एफिल टावर से कूदने के दौरान उनकी मौत हो गई थी। उस समय उनकी उम्र महज 33 साल थी।

विलियम बुलोक

अमेरिका के ग्रीनविले में जन्मे विलियम बुलोक को रिचर्ड मार्च होई के बनाए 'रोटरी प्रिंटिंग प्रेस' में सुधार के लिए जाना जाता है। उनकी वजह से ही प्रिंटिंग इंडस्ट्री में क्रांतिकारी परिवर्तन आया था। हालांकि अपनी ही प्रिंटिंग मशीन को ठीक करने के दौरान उसमें फंसकर उनकी मौत हो गई थी।

हेनरी स्मोलिंस्की

हेनरी स्मोलिंस्की को उड़ने वाली कार बनाने के लिए जाना जाता है। 1973 में उन्होंने यह आविष्कार किया था, जिसका नाम उन्होंने 'एवीई मिजार' रखा था। हालांकि टेस्ट करने के लिए जब वो अपनी फ्लाइंग कार में बैठे और उसे उड़ाया तो कार दुर्घटनाग्रस्त हो गई, जिससे उनकी मौत हो गई।


वहीं... दुनियाभर में एक से एक खतरनाक युद्ध हुए हैं, जिसमें हजारों-लाखों लोग मारे गए हैं। इनमें से अधिकतर युद्धों के पीछे बस एक ही मकसद होता था उस राज्य पर कब्जा करना यानी अपनी सत्ता का विस्तार करना। लेकिन आज से करीब 695 साल पहले एक ऐसा युद्ध लड़ा गया था, जो सिर्फ एक बाल्टी के लिए था। आपको जानकर हैरानी होगी कि इस भीषण युद्ध में 2000 से ज्यादा लोग मारे गए थे।

यह एतिहासिक घटना साल 1325 की है। दरअसल, उस समय इटली में धार्मिक तनाव काफी ज्यादा बढ़ गया था। यहां के दो राज्यों बोलोग्ना और मोडेना के बीच अक्सर लड़ाईयां होती रहती थीं, क्योंकि बोलोग्ना को ईसाई धर्मगुरु पोप का समर्थन मिला हुआ था जबकि मोडेना को रोमन सम्राट का समर्थन प्राप्त था। असल में बोलोग्ना के लोगों का मानना था कि पोप ही ईसाई धर्म के सच्चे गुरु हैं, जबकि मोडेना के लोग मानते थे कि रोमन सम्राट ही असली गुरु हैं।

साल 1296 में बोलोग्ना और मोडेना के बीच एक लड़ाई पहले ही हो चुकी थी। इसके बाद से दोनों राज्यों के बीच हमेशा तनाव बना रहता था। कहते हैं कि रिनाल्डो बोनाकोल्सी के शासनकाल में मोडेना काफी ज्यादा आक्रामक हो गया था और अक्सर बोलोग्ना पर हमले करते रहता था। दोनों राज्यों के बीच का यह तनाव उस वक्त एक बड़ी लड़ाई में तब्दील हो गया, जब 1325 में मोडेना के कुछ सैनिक चुपचाप बोलोग्ना के एक किले में घुस गए और वहां से लकड़ी की एक बाल्टी चुरा ली।

कहते हैं कि वह बाल्टी हीरे-जवाहरातों से भरी हुई थी। जब कीमती रत्नों से भरी बाल्टी की चोरी की बात बोलोग्ना की सेना को पता चली तो उन्होंने मोडेना से उसे वापस देने को कहा, लेकिन मोडेना ने इससे साफ इनकार कर दिया। इसके बाद बोलोग्ना ने मोडेना के खिलाफ युद्ध की घोषणा कर दी।


उधर...

कुछ रोचक बातें.

दिमागी कसरत कराने वाले खेलों में से एक शतरंज, जिसे अंग्रेजी में चेस भी कहते हैं, का आविष्कार भारत में हुआ था। मनोवैज्ञानिकों की मानें तो शतरंज खेलने से दिमाग की बैद्धिक क्षमता में सुधार आता है और जटिल प्रश्नों को सुलझाने की शक्ति बढ़ती है।

दुनिया का सबसे बड़ा पक्षी शुतुरमुर्ग है, लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि उनकी आंखें उनके दिमाग से ज्यादा बड़ी होती हैं। शुतुरमुर्ग की आंखें दो इंच तक लंबी और मोटी होती हैं। इतनी बड़ी आंखें धरती पर मौजूद किसी भी अन्य जीव की नहीं होतीं।

डॉल्फिन को भारत की राष्ट्रीय मछली के तौर पर हम जानते हैं, लेकिन क्या आप ये जानते हैं कि डॉल्फिन पांच से आठ मिनट तक अपनी सांस रोक कर रख सकती है। जी हां, यह बिल्कुल सच है। इतना ही नहीं, डॉल्फिन एक आंख खुली रख कर भी सो सकती है।

कछुए को धरती पर सबसे ज्यादा दिन तक जीने वाले जीवों में से एक माना जाता है। ये 200-250 साल तक जिंदा रहते हैं। इस वक्त धरती पर कछुओं की 300 से भी ज्यादा प्रजातियां मौजूद हैं। शायद ही आप ये बात जानते होंगे कि कछुओं के दांत नहीं होते हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि हर साल 23 मई को विश्व कछुआ दिवस मनाया जाता है।

एक स्वस्थ इंसान एक साल में लगभग चार महीने सोता है, क्योंकि ऐसा कहा जाता है कि हर दिन इंसान को कम से कम आठ घंटे की नींद लेनी जरूरी है। इसके अलावा वैज्ञानिकों की मानें तो इंसान अपनी आंखें खुली रख कर कभी छींक नहीं सकता।


जहां एक सामान्य व्यक्ति का दिल एक मिनट में 72 बार धड़कता है, वहीं एक छिपकली का दिल एक मिनट में 1000 बार धड़कता है। यह बेहद ही हैरान करने वाली बात है।


वहीं. TYPEWRITER अंग्रेजी का एक ऐसा शब्द है, जो कंप्यूटर के कीबोर्ड पर एक ही लाइन में टाइप होता है। इसके अलावा Uncopyrightable इकलौता 15 अक्षरों वाला शब्द है, जिसमें कोई भी अक्षर दोबारा नहीं आता।


कैसी लगी ये रोचक बातें....


.....

अक्सर लोग मजाक में कहते हैं कि रिश्तेदार जो होते हैं, वो तरक्की कर रहे या खुश रह रहे रिश्तेदारों से जलते हैं। लेकिन बीवियां भी अपने पतियों की तरक्की और खुशी देख कर जलती हैं, ऐसा बहुत कम ही सुनने को मिलता है। ताजा मामला फ्रांस का है, जहां एक महिला से उसके पूर्व पति की खुशी नहीं देखी गई तो उसने कुछ ऐसा कर दिया कि अब उसे 10 साल की जेल और उसपर करीब 1.25 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया जा सकता है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 58 वर्षीय महिला फ्रांस की एक अदालत में जज के पद पर रह चुकी है। दरअसल, उसने कागजों पर अपने पूर्व पति से दोबारा शादी कर ली, जबकि इस बारे में पूर्व पति को कुछ पता ही नहीं था। चूंकि महिला जज थी तो जाहिर है उसे कानूनी जानकारी तो थी ही, इसी का फायदा उठाते हुए उसने धोखाधड़ी की।

बताया जा रहा है कि महिला ने पूर्व पति से इसलिए दोबारा शादी की, ताकि वो अपनी प्रेमिका से शादी न कर पाए और अपनी नई जिंदगी की शुरुआत न कर सके। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पूर्व पति ने प्रेमिका के लिए ही उससे तलाक लेकर छोड़ दिया था। इसी का बदला लेने के लिए महिला ने ऐसी हैरान करना वाली साजिश रची।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस मामले का खुलासा तब हुआ जब पीड़ित व्यक्ति अपनी प्रेमिका से शादी करने के लिए अदालत में रजिस्ट्रेशन कराने पहुंचा। वहां उसे पता चला कि उसकी पूर्व पत्नी ने तो मार्च 2019 में ही उससे कागजी तौर पर दोबारा शादी कर ली थी। इसके बाद पीड़ित ने अपनी पूर्व पत्नी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई।

अदालत ने जज रह चुकी महिला द्वारा दोबारा की गई शादी को अवैध बताया है और कहा है कि पीड़ित जिससे मन करे शादी कर सकता है। उसे अपनी जिंदगी अपने तरीके से जीने का हक है। फिलहाल महिला को और उसका साथ देने वाले को धोखाधड़ी के जुर्म में पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है।


जानकारी यही तक। अब श्रोताओं के पत्र.

पहला पत्र हमें आया है, खंडवा मध्य प्रदेश से दुर्गेश नागनपुरे का। लिखते हैं हमें पिछला टाइम कार्यक्रम बहुत अच्छा लगा । कार्यक्रम के प्रारंभ में आपके द्वारा कनाडा की स्पाटेड लेक नामक झील के बारे में दी गई जानकारी, साथ ही आसमान मे उङने वाले स्तनधारी प्राणी चमगादङ के बारे मे दी गई विस्तृत जानकारी हमें बहुत ही रोचक और अच्छी लगी । कार्यक्रम में मेरे द्वारा प्रेषित होली शायरी , श्रोता मित्रो की प्रतिक्रियाएं , मजेदार जोक्स सब कुछ बहुत पसंद आया । धन्यवाद फिर एक ज्ञानवर्धक और मनोरंजक प्रस्तुति के लिए ।

आज भी जोक्स भेज रहा हूं। हम आपके जोक्स आज के जोक्स सेक्शन में शामिल कर रहे हैं। धन्यवाद।

अगला पत्र हमें भेजा है, पंतनगर उत्तराखंड से वीरेंद्र मेहता ने। लिखते हैं, नमस्कार (नी हाउ)

आज के की टाइम प्रोग्राम के नए अंक में आपने अलग-अलग झीलों के बारे में और उनकी खासियत से रूबरू करवाया जानकारी बहुत अच्छी लगी । वही इंडोनेशिया के 103 वर्षीय पुआंग कट्टे ने 27 वर्षीय महिला के साथ शादी की खबर भी रोचक और आश्चर्यजनक लगी । और जब भी चमगादड़ों को देखते हैं लगभग हर किसी के दिमाग में एक प्रश्न जरूर उठता होगा कि - चमगादड़ उल्टे क्यों सोते हैं ? आज के इस प्रोग्राम में आप ने चमगादड़ों के बारे में संक्षिप्त में जानकारी दी व उनके उल्टे सोने के पीछे साइंटिफिक रहस्य को भी बताया जानकर अच्छा लगा धन्यवाद ।


अब पेश है केसिंगा, उड़ीसा से सुरेश अग्रवाल का पत्र। लिखते हैं कार्यक्रम "खेल जगत" के तहत अनिल पाण्डेय द्वारा पांच मिनट में पूरे आकाश को समेटते हुये अच्छे प्रदर्शन के बावज़ूद भारतीय महिला क्रिकेट टीम के ऑस्ट्रेलिया से हारने, कोरोना वायरस के खेलों पर असर के चलते फीफा 2022 के मैचों को स्थगित किये जाने, करणी सिंह शूटिंग रेंज में भी शूटिंग के रद्द होने, पहली बार बैडमिन्टन स्पर्धा खाली स्टेडियम में आयोजित किये जाने, सानिया मिर्ज़ा तथा अंकिता की जोड़ी द्वारा इतिहास रचे जाने तथा इक्वाडोर के खिलाड़ियों द्वारा जापान को पराजित किये जाने जैसे तमाम महत्वपूर्ण खेल समाचारों को समाहित किया गया। श्रमसाध्य प्रस्तुति के लिये हृदयतल से शुक्रिया।

वहीं आगे लिखते हैं कि कार्यक्रम "टी टाइम" का आगाज़ दुनिया की रहस्य-रोमांच से भरी झीलों से किया जाना रुचिकर लगा। इस क्रम में कनाडा की खारे पानी वाली स्पॉटेड लेक पर दी गयी जानकारी, झील के अलावा इस लिहाज़ से भी अच्छी लगी -क्योंकि उसमें पहले विश्व युद्ध के दौरान इस झील के लवणों का इस्तेमाल विस्फोटक बनाने में किया गया था, सम्बन्धी अहम जानकारी भी निहित थी।

कोलंबिया की रंग बदलती पानी की झील कानो क्रिस्टेल्स पर दी गयी जानकारी तो और भी चकित करने वाली लगी। यह जान कर आश्चर्य हुआ कि यह एक नदी है और माकारिना क्लेवेगरा प्रजाति के एक पौधे की वज़ह से सितम्बर से लेकर नवम्बर के बीच जिसका पानी लाल, हरा, नीला और नारंगी यानी कि इंद्रधनुषी छटा बिखेरता है।

कैरेबियन देश डोमेनिका के मोरन ट्रोइस पिट्नस नेशनल पार्क स्थित उबलते पानी की झील और उसके नीचे सुलगता हुआ लावा, यह सुन कर ही एक खौफ़नाक मंज़र उपस्थित हो जाता है। ऐसे में इस झील के पानी में तैरना तो सचमुच, मौत को दावत देने जैसा ही होगा।

जानकारियों के क्रम में चमगादड़ों पर दी गयी जानकारी सबसे महत्वपूर्ण लगी। यह तो हम जानते थे कि चमगादड़ आसमान में उड़ने वाला एक ऐसा स्तनधारी प्राणी है, जो रात के अंधेरे में भी उड़ सकता है, पर यह उल्टा ही क्यों लटके रहता है, सीधे क्यों नहीं बैठता, यह आज का कार्यक्रम सुन कर जाना। फिर दुनियाभर में चमगादड़ों की 1000 से भी ज़्यादा प्रजातियां होने तथा इनमें से कुछ प्रजातियों का ऐसा होना, जो महज़ खून पीती हैं और जिन्हें 'पिशाच चमगादड़' की संज्ञा दी जाती है, जानकारी भी हमारे लिये बिलकुल नई थी। इस जानकारी के साथ तो आपने हमारे सामने चमगादड़ का पूरा विकिपीडिया ही खोल कर रख दिया।

इन तमाम जानकारियों के अलावा कार्यक्रम में पेश श्रोता-मित्रों की प्रतिक्रियाएं तथा जोक्स का समाहित किया जाना भी उसे चार-चाँद लगा गया। धन्यवाद फिर एक मनभावन प्रस्तुति के लिये।

अब पेश है पश्चिम बंगाल से न्यू हराइजन रेडियो लिस्नर्स क्लब के संस्थापक रविशंकर बसु का पत्र। लिखते हैं कि 2020 चाइना रेडियो इंटरनेशनल (सीआरआई) हिन्दी सेवा की शुरुआत की 61वीं वर्षगांठ है। इस अवसर पर हिन्दी सेवा की पूरी टीम और सभी श्रोता बंधुओं को हमारी ओर से शुभकामनाएं।

बसु जी धन्यवाद।


अब बारी है जोक्स की। जो कि दुर्गेश नागनपुरे ने भेजे हैं।

जोक्स

पहला जोक

बच्चा ( टीचर से ) : क्या आप बता सकती हैं कि कौन सा फल सबसे कड़वा होता है ?

टीचर ( सोचते हुए ): पता नहीं.

बच्चा : आपको यह भी नहीं पता! परीक्षाफल.


दूसरा जोक

संता: मंदी क्या होती है?

बंता : जब शराब और गर्लफ्रैंड का स्थान पानी और पत्नी ले लेते हैं जिंदगी के उस दौर को मंदी कहते हैं.


तीसरा जोक

गणित सीखने का नया तरीका – SMS JOKES

एक लड़का एक लड़की को गणित सिखा रहा था.

पहले उसने लड़की के गाल पर किस किया और फिर दुबारा उसी गाल पर किस करके बोला इसे कहते हैं जमा.

फिर लड़की ने लड़के को किस किया लड़का बोला इसे कहते हैं घटा.

फिर लड़के और लड़की ने एक दूसरे को किस किया और बोला इसे कहते हैं गुणा करना.

इतने में लड़की के पिताजी आ गए और लड़के की पिटाई करके बोले बेटा इसे कहते हैं “विभाजन”.

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories