12 सितंबर 2019

2019-09-12 14:26:30
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

अनिलः प्रोग्राम में जानकारी देने का सिलसिला शुरू करते हैं।

दुनिया मेंएकऐसादेशभीहै,जहांरेलवेकीजिम्मेदारीबच्चोंपरहै।बच्चेहीवहांकीट्रेनेंचलातेहैं।यूरोपकेदेशहंगरीकीराजधानीबुडापेस्टकेऊपरीहरीपहाड़ियोंकेजंगलोंमेंएकरेलवेस्टेशनहै।येरेलवेस्टेशनहरतरफसेवुडलैंडकेगहरेजंगलसेघिराहुआहै।लेकिनयेरेलवेपूरीदुनियामेंइनकारणोंसेबल्किदूसरेवजहोंसेजानाजाताहै।क्योंकिइसरेलवेस्टेशनकोचलानेकीजिम्मेदारीपूरीतरहसेबच्चोंपरहै।

रेलवेटिकटकार्यालय,डीजलइंजन,सिग्नलगार्डऔरएकसमयसारिणीहै।सभीकीजिम्मेदारियांबच्चोंपरहीहैं।आपकोबतादेंकिपिछलेसालहीरेलवेनेअपनी70वींवर्षगांठमनाया।इसखासकार्यक्रमकेदौरानयंगस्टरऑफगिएर्मेक्वासरेलवेस्टेशनपरबच्चेअपनेलाल,नीलेऔरसफेदरंगकीवर्दीमेंबिल्कुलहीअलगअंदाजमेंनजररहेथे।


नीलमःअब अगली जानकारी का समय हो गया है।आमतौरपरघोड़ेचारयापांचफीटकेहोतेहैं,येआपनेदेखाभीहोगा,लेकिनपोलैंडमेंएकऐसाघोड़ाहै,जोदुनियाकेसबसेछोटेघोड़ेकेतौरपरमशहूरहोगयाहै।बॉम्बेलनामकइसघोड़ेनेअपनीऊंचाईकेकारणगिनीजबुकऑफवर्ल्डरिकॉर्ड्समेंजगहबनालीहै।

आपकोजानकरहैरानीहोगीकिदुनियाकेइससबसेछोटेघोड़ेकीलंबाईमहज56.7सेंटीमीटरयानीएकफीट10इंचहै,जोएकसामान्यऊंचाईवालेगधेसेभीकमहै।यहघोड़ाकासकडाकेफॉर्महाउसमेंरहताहै,जहांउसकेसाथकईबड़ेघोड़ेभीरहतेहैं।

अनिलःवहीं अग्रणीएनआरआईउद्यमीरामीरेंजरकोब्रिटेनकेहाउसऑफलॉर्ड्सकेलिएनामितकियागयाहै।यहनिर्णयव्यापारबिरादरी,कंजर्वेटिवपार्टीऔरजनताकेलिएउनकीउत्कृष्टसेवाकेलिएलियागयाहै।ब्रिटेनकीपूर्वप्रधानमंत्रीटेरीजामेनेअपनेइस्तीफेमेंरेंजरकेनामकीइसकेलिएसिफारिशकीथी।

रामीरेंजरनेइसेलेकरखुशीजताईऔरइससम्मानकोभारत,पाकऔरब्रिटेनकेसंबंधोंकोसमर्पितकिया।रेंजरनेकहा, 'मैंइससम्मानकोभारत,पाकिस्तानऔरब्रिटेनकेबीचदोस्तीबनानेकेलिएसमर्पितकरताहूं।मैंब्रिटेनमेंरहरहेविभिन्नसमुदायोंकेबीचसंबंधबनानेकेलिएमेहनतकरूंगा।'
साल1947मेंगुजरानवाला(वर्तमानमेंपाकिस्तानमें)मेंजन्मेरामीरेंजरअपनीमां,सातभाईऔरएकबहनकेसाथभारतकेपंजाबमेंगएथे।विभाजनकेदौरानउनकेपिताकिगुजरानवालामेंहत्याकरदीगईथी।चंडीगढ़सरकारीकॉलेजसेस्नातककीडिग्रीलेनेकेबादवहकानूनकेपढ़ाईकरनेकेलिएब्रिटेनचलेगएथे।


नीलमःजापानकीराजधानीटोक्योउसकेआसपासआएशक्तिशालीतूफाननेपूरेक्षेत्रमेंतबाहीमचायी।तूफानकेकारणयातायातभीबुरीतरहप्रभावितहुआऔरटोक्योकेनरीताहवाईअड्डेपरलगभग17,000यात्रीरातभरफंसेरहे।एकअधिकारीनेमंगलवारकोबतायाकितूफानकीवजहसे100सेअधिकउड़ानोंकोरद्दकरनापड़ाक्योंकिहवाईअड्डेसेसड़कऔररेलसंपर्कभीबुरीतरहसेप्रभावितहुए।

हवाईअड्डेकेप्रवक्ताकेईमियाहारानेबतायाकिआधीरातकोहवाईअड्डेपरकुल16,900लोगफंसेहुएथे।मियाहारानेबतायाकियात्रीअबघरयाअपने-अपनेगंतव्योंपरजानेलगेहैंक्योंकिबसोंऔरट्रेनोंकीआवाजाहीशुरूहोगयीहै।

अनिलःसर्वेएजेंसीस्टैटिस्टानेसाल2018मेंअपनीरिपोर्टमेंकहाथाकिइंटरनेटकीदुनियामेंअंग्रेजीकादबदबाहै।अंग्रेजीभाषामें10मिलियनवेबसाइट्सहैंऔर53प्रतिशतलोगपूरीदुनियामेंइंटरनेटपरअंग्रेजीकाइस्तेमालकरतेहैं।इंटरनेटपरपूरीदुनियामेंचाइनीजकीउपस्थितिसिर्फ16फीसदीहैजबकिचाइनीजबोलनेवालोंकीसंख्या1.3बिलियनहैलेकिनस्टैटिस्टाकादावाअबगलतसाबितहोतेदिखरहाहै।

एकबाततोआपभीजानतेहैंकिदुनियाकीकोईभीभाषामातृभाषाकीजगहनहींलेसकतीहैऔरयहीहालतहिन्दीकेसाथभीहै।यदिआपभीहिन्दीभाषीहैंतोआपकोबतादेंकिआपकीहिन्दीइंटरनेटपरकाफीतेजीसेआगेबढ़रहीहै।इंटरनेटपरहिन्दीकीलोकप्रियताकाअंदाजाआपइसीबातसेलगासकतेहैंकिइंटरनेटपरहिन्दीपढ़नेवालोंकीसंख्याहरसाल94फीसदीबढ़रहीहै।

गूगल-केपीएमजीरिसर्च,सेंससइंडियाऔरआईआरएसकीसर्वेरिपोर्टकोमानेंतोसाल2021मेंहिन्दीमेंइंटरनेटउपयोगकरनेवालेअंग्रेजीमेंइंटरनेटइस्तेमालकरनेवालोंसेअधिकहोजाएंगे।एकअनुमानकेमुताबिक20.1करोड़लोगहिन्दीकाउपयोगकरनेलगेंगे।गूगलकेअनुसारहिन्दीमेंसामग्रीपढ़नेवालेहरवर्ष94%बढ़रहेहैं,जबकिअंग्रेजीमें17%है।


वहीं दिल्ली-एनसीआर में स्टार्टअप को बढ़ावा देने के लिए सरकार हैदराबाद मॉडल पर सुविधाएं विकसित करेगी। इसके लिए नोएडा और गुरुग्राम में टी-हब बनाया जाएगा, जहां स्टार्टअप उद्यमी आपस में चर्चा कर सकेंगे। दिल्ली-एनसीआर पिछले एक दशक में स्टार्टअप का सबसे बड़ा इकोसिस्टम बनकर उभरा है।

हैदराबाद में स्टार्टअप के लिए टी-हब बनाए गए हैं, जिससे नए उद्यमियों को अपनी बात रखने का मंच मिलता है। वैसा ही केंद्र एनसीआर के नोएडा और गुरुग्राम में भी बनाया जाएगा। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल से जल्द जमीन अधिग्रहण पर बातचीत शुरू की जाएगी। नीति आयोग की योजना राजधानी क्षेत्र में पांच टी-हब विकसित करने की है। उन्होंने कहा कि हैदराबाद और बंगलूरू में स्टार्टअप के लिए बेहतर माहौल और ढांचागत सुविधाएं हैं। इसी तरह की सुविधाएं एनसीआर में भी लाई जाएंगी। इसके लिए 10 हजार करोड़ रुपये का कोष पहले ही बनाया जा चुका है।


प्रोग्राम में जानकारी देने का सिलसिला यहीं संपन्न होता है।

नीलमः अब समय हो गया है श्रोताओं की टिप्पणी का।

पहला पत्र हमें भेजा है, खंडवा मध्य प्रदेश से दुर्गेश नागनपुरे ने। लिखते हैं,पिछला टी टाइम कार्यक्रम बहुत अच्छा लगा । कार्यक्रम में आपके द्वारा प्रस्तुत अजीबोगरीब एवं चटपटी बातें,हिन्दी गीत,मजेदार जोक्स और श्रोता बंधुओ की प्रतिक्रियाएं सुनकर हमारा मन एकदम प्रफुल्लित हो गया । हमारे परिवार के सभी सदस्य सीआरआई हिंदी सेवा की पूरी टीम और सभी श्रोता बंधुओ को इस गणेश उत्सव की हार्दिक शुभकामनायें एवं अनंत बधाईयां देना चाहते हैं। धन्यवाद

अनिलः इसके साथ दुर्गेश जी ने एक जोक भी भेजा है।

लड़का: तुम्हेंमेरे अंदर सबसे अच्छी बात क्या लगती है?
लड़की: लोग समय के साथ बदल जाते हैं लेकिन तुम नहीं बदले।
लड़का: वह कैसे?
लड़की: जब मैं तुमसे मिली थी तब भी बेरोजगार थे और आज भी बेरोजगार हो।

धन्यवाद जोक भेजने के लिए।

अब बारी है अगले पत्र की। जिसे भेजा है, हमारे पुराने और सक्रिय श्रोता सादिक आजमी ने। लिखते हैं,सर्वप्रथम क्षमा प्रार्थी हूं,कि विगत दिनों खाड़ी के देश सऊदी अरब से स्वदेश लौटने की प्रक्रिया में इस कदर व्यस्त था कि आप से सम्पर्क न कर सका।

मगर हर्ष इस बात का है कि मेरी गैरहाजिरी को आपने महसूस किया, यह मेरे लिए सौभाग्य की बात है।

इस सप्ताह टी टाइम अपने मित्रों के साथ आनलाइन सुनने के बाद आपकी सेवा में उपस्थित हूं,

आरंभ में अप्रैल फूल के जनक देश फ्रांस में जीवन यापन कर रहे लोगों के विषय में रोचक जानकारी उपलब्ध कराई गई,क्षेत्रफल के लिहाज से यूरोप के सबसे बड़े देश में महिलाओं की आयु दर से पर्दा उठाया गया जो उत्साह जनक है।

एयरहोस्टेस के उपर गर्म पानी फेंकने का मामले में कह सकता हूं कि आरोपी को दंडित किया जाना चाहिए। लेकिन अचंभा तो तब हुआ जब आपके माध्यम से मालूम हुआ कि चीन में 30 साल से एक व्यक्ति के सिर में कोई परजीवी जीवन व्यतीत कर रहा था। उस व्यक्ति को इस कष्ट से निजात मिलने पर खुशी हुई।

वहीं कैलिफोर्निया की डेथ वैली में भारी वज़न के पत्थरों का खिसकना सचमुच अद्भुत एवं रहस्यमय है। आजमी जी धन्यवाद।


नीलमः वहीं अब पेश करते हैं खुर्जा यूपी से तिलक राज अरोड़ा का पत्र। लिखते हैं किहमेंटी टाइम कार्यक्रम विशेष रूप से पसंद आता है क्योंकि इस कार्यक्रम से मनोरंजन तो होता ही है, साथ में जानकारियां भी बहुत प्राप्त होती हैं। गत्5सितंबर का टी टाइम सुना और पसंद आया। कार्यक्रम में फ्रांस जैसे विकसित देश में लोग खाने का बहुत सम्मान करते हैं और होटलों में बचे हुए खाने को फेंकना गैर कानूनी माना जाता है। यह जानकारी तो बहुत ही ज्यादा पसंद आयी। अन्न देवता की इतनी इज्जत करना हमको फ्रांस के लोगों से सीखना चाहिये।

अप्रैल फूल मनाने की शुरुआत फ्रांस से ही हुई यह हमने पहली बार जाना।

एक अन्य समाचार में एक प्रेमी प्रेमिका ने विमान में साथ साथ सीट न मिलने से जो गुंडा गर्दी की। ऐसे लोगों को तो पुलिस के हवाले कर देना चाहिये।

वहीं31वर्षीय सारा डॉक्टर के पूरे शरीर मे टैटू ही टैटू है, यह जानकारी आश्चर्यजनक लगी।

अरोड़ा जी पत्र भेजने के लिए शुक्रिया।


जैसलमेर, राजस्थान से दिनेश चौहान लिखते हैं कि टी-टाइम प्रोग्राम बहुत अच्छा लगा। इसमें प्रस्तुत सभी जानकारियां ज्ञानवर्धक थी। कार्यक्रम में पेश तीनों जोक्स उम्दा थे। इसके साथ ही अनिल पांडेय जी की प्रस्तुति का तो कहना ही क्या। मुझे उम्मीद है कि व्हट्सएप के जरिए भेजा गया मेरा पत्र जरूर शामिल होगा। धन्यवाद।

दिनेश जी हमने आपका पत्र शामिल कर लिया है। पत्र भेजने के लिए धन्यवाद।

अनिलः अब पेश करते हैं, पंतनगर, उत्तराखंड से वीरेंद्र मेहता का पत्र। लिखते हैं कि

पिछला प्रोग्राम जानकारियों से भरा हुआ था -फ्रांस से जुड़ी जानकारियां सुनी यहां परखाने का बहुत सम्मान किया जाता है और विज्ञान जगत में यह पहला देश है।जिसने अंतरराष्ट्रीय कार्य प्रणाली को सबसे पहले अपनाया और भीफ्रांस सेजुड़ी जानकारियां रोचक लगीचीनके 59वर्षीयझांग के बारे में सुना जो कि30सालों से लगातार चक्कर और सिरदर्द से परेशानथे पर यह सुनकर हैरानी हुई कि उनके दिमाग में से10सेंटीमीटर लंबा परजीवी मिला जो कि जिंदा था। अब हम सभी प्रार्थना करते हैं कि उन्हें अब आगेके भविष्य में ऐसी समस्याएं ना आएं

कुछ खबरें हैरानी भरी लगी जिसमें कैलिफ़ोर्निया की डेथ वैली में320किलोग्राम तक के पत्थर अपने आप खिसक कर एक जगह से दूसरी जगह चले जाते हैंवहीं23साल कीएलेक्साजो कि मेक्सिको की रहने वाली है और छठवीं मंजिल की रेलिंग से लटककर योग कर रही थी सुंदर प्रोग्राम की प्रस्तुति के लिएबहुत-बहुत धन्यवाद

मेहता जी धन्यवाद।

अनिलः अब समय हो गया हैकेसिंगा उड़ीसा से मॉनिटर सुरेश अग्रवाल का पत्र शामिल करने का। लिखते हैं अनिली जी द्वारा प्रस्तुत "खेल जगत" हर बार की तरह आज भी लाज़वाब रहा। यह जान कर हमारे उत्साह का ठिकाना न रहा कियशस्विनी देसवाल दुनिया की नंबर एक निशानेबाज ओलेना कोस्तेविच को पछाड़ कर नई पिस्टल क्वीन बन गईं हैं। इसके साथ ही22वर्षीय छात्रा यशस्विनी टोक्यो ओलंपिक का कोटा हासिल करने वाली नौवीं भारतीय निशानेबाज भी बन गईं।

वहीं वर्ष2016रियो ओलम्पिक में रजत पदक जीतने वाली पीवी सिंधु द्वारा अब बैडमिंटन विश्व चैंपियनशिप का ख़िताब अपने नाम कर भारतीय का भाल ऊँचा किया जाना भी2019की सबसे बड़ी घटना कही जायेगी। सिंधु नारी-शक्ति के लिये प्रेरणा-स्रोत हैं।

वहीं खेल में कब किसकी किस्मत पलटा खा जाये,कहना मुश्किल है। जापान की नाओमी ओसाका इसका सबसे बड़ा उदाहरण हैं। सोमवार को उनका महिला एकल प्री क्वार्टर फाइनल में स्विट्जरलैंड की बेलिंडा बेनसिच के खिलाफ हार करअमेरिकी ओपन टेनिस टूर्नामेंट से बाहर होना,बहुत बड़ी घटना है।

उधर भारतीय महिला हॉकी टीम द्वारा लगातार अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखने का समाचार भी हमारे लिये खुशी की डोज़ जैसा है।

धन्यवाद फिर एक सम्पूर्ण खेल प्रस्तुति के लिये।


नीलमः इसके साथ ही सुरेश जी ने आगे लिखा है किटी-टाइम कीप्रस्तुति हर बार की तरह आज भी जानकारियों एवं रोचकता से भरपूर थी। कार्यक्रम की शुरुआत में फ्रांस पर दी गयी जानकारी अत्यंत महत्वपूर्ण लगी। ज्ञात हुआ कि फ्रांस क्षेत्रफल की दृष्टि से यूरोप का सबसे बड़ा एवं विश्व का43वां बड़ा देश है। हैरानी हुई यह जान कर कि वहां पनीर से4700तरह के व्यंजन बनाये जाते हैं। फ्रांस में शादी के समय सफ़ेद सूट पहनने का चलन सन1499में ही शुरू हो गया था आदि-आदि जानकारी सच में बहुत दिलचस्प लगीं।

विमान में एयर होस्टेस के मुँह पर किसी महिला द्वारा गर्म पानी फेंके जाने का समाचार सीधे-सीधे हवाई-यात्रा के दौरान सुरक्षा से जुड़ा सवाल पैदा करता है। यह एक गम्भीर मामला है।

चीन में59वर्षीय चांग नामक शख़्स के सिर-दर्द और चक्कर आने के कारण का तीस साल बाद पता चलना भी हैरान करने वाली बात है। शुक्र है कि अब उनका इलाज़ हो गया है।

वहीं मैक्सिको में दसवीं मंज़िल से गिरने के बाद भी23वर्षीय अलेक्सा का बचना, 'जाको राखे साइयां'वाली उक्ति को चरितार्थ करता है।

जबकिऑस्ट्रेलिया के एडीलेड में31वर्षीय महिला डॉक्टर द्वारा विगत15वर्षों से अपने शरीर पर असंख्य टैटू गोदवाने के अज़ीबोग़रीब शौक़ के बारे में सुन कर,लगा कि इस पर कुछ न कहना ही उचित होगा।

कार्यक्रम के बीच सुनवाया गया'दीदी तेरा देवर दीवाना'गीत भी हमारा भरपूर मनोरंजन कर गया।

अनिलजी,आप द्वारा पत्रों की महफ़िल में ज़ुबैल,सउदी अरब से श्रोता भाई सादिक़ आज़मी के पत्र की कमी को महसूस किया जाना,हमें भी कायल कर गया। और हाँ,आज के कार्यक्रम में शामिल श्रोता-मित्रों की प्रतिक्रियाएं और तीनों ज़ोक्स भी काफी उम्दा लगे। धन्यवाद फिर एक श्रमसाध्य प्रस्तुति के लिये।

सुरेश जी पत्र भेजने के लिए शुक्रिया।

अनिलः अब पेश करते हैं, नैहाटी पश्चिम बंगाल से माधव चंद्र सागौर का पत्र। लिखते हैं,पिछले प्रोग्राम में आपने बताया कि फ्रांस यूरोप के एक विकसित देश के रूप में जाना जाता है। जबकि वहां होटल में बचे हुए खाने को फेंकना गैरकानूनी माना जाता है,वहां4700किस्म के पनीर पकवान बनाए जाते हैं। यह जानकारी बहुत अच्छी लगी।

जबकिएयर एशिया विमान की महिला यात्री को सीट अपने बॉयफ्रेंड के पास न होने के कारण नूरलिया फ्लाइट अटेंडेंट के ऊपर गर्म पानी फेंक देना पागलपन के अलावा और कुछ नहीं हो सकता है।

वहींमैक्सिको में23साल की युवती का छठे मंजिल की रेलिंग से गिरकर बच जाना वाकई चमत्कार कहा जाएगा। कैलिफोर्निया की डेथ वैली में पत्थरों का अपने आप खिसकना एक हैरान करने वाला समाचार है।

धन्यवाद शानदार प्रोग्राम पेश करने के लिए।

सागौर जी आपका भी धन्यवाद।

नीलमः अब पेश करते हैं दरभंगा बिहार से मॉनिटर शंकर प्रसाद शंभू का पत्र।

लिखते हैं कि हमने"टी टाईम" ध्यानपूर्वक सुना,जिसमें बताया गया कि फ्रांस के लोग खाने का बहुत सम्मान करते हैं,जिससे वहां के होटलों में बचे हुए खाने को फेंकना गैरकानूनी माना जाता है। इतना ही नहीं अप्रैल फूल मनाने की शुरुआत फ्रांस से ही हुई थी और हमें ये जानकर प्रशन्नता हुई कि वहां की महिलाएं अन्य देशों की तुलना में सबसे अधिक समय तक जीवित रहती हैं। वहीं चीन के एक पहाड़ी गांव में रहने वाले59वर्षीय व्यक्ति के सिर में परजीवी होने और उसका तीस साल तक जिंदा रहना वाकई आश्चर्य में डाल देता है।

वहीं कैलिफोर्निया की डेथ वैली की संरचना और तापमान भू-वैज्ञानिकों को हमेशा से चौंकाता रहा है। वहां मौजूद पत्थरों का अपने आप खिसकना भी रहस्य से भरा हुआ है।उधरऑस्ट्रेलिया मेंएडिलेड की एक महिला डॉक्टर का अपने पूरे शरीर को टैटुओं से भरने की जानकारी रोचक लगी।हालांकिश्रोताओं की टिप्पणी में आज मेरा पत्र नहीं पढ़ा गया जबकि मैंने व्हट्सएप के माध्यम से समय से पहले टिप्पणी भेजी थी।

धन्यवाद एक अच्छी प्रस्तुति के लिए। शंभू जी आपका भी धन्यवाद।


अनिलः अब आज के प्रोग्राम का आखिरी पत्र। जिसे भेजा है, बेहाला. कोलकाता से प्रियंजीत घोषाल ने। लिखते हैं, पिछले कार्यक्रम में फ्रांस के बारे में बताया गया। जिसमें होटल का खाना बाहर फेंकना कानूनन जुर्म है। वहीं अप्रैल फ़ूल बनाने की परंपरा भी फ्रांस से ही शुरू हुई। इतना ही नहीं फ्रांस में पनीर के 4700 प्रकार के पकवान बनाए जाते हैं। इससे लगता है कि फ्रांस के लोग खाने के कितने शौकीन होते हैं। इसके साथ ही प्रोग्राम में पेश अन्य जानकारियां भी बेहतरीन लगी। धन्यवाद।


अनिलः श्रोताओं की टिप्पणी यहीं संपन्न होती है, अब समय हो गया है जोक्स का।

पहला जोक

नए-नए दूल्हा-दुल्हन बने प्रेमी-प्रेमिका में जबरदस्त झगड़ा हुआ।

लड़ाई के बाद प्रेमिका भगवान से बोली, हे भगवान मेरी मदद करो।

मैं इनकी लड़ाई से तंग आ गयी हूं, अगर ये ग़लत हैं तो इन्हें उठा लो, अगर मैं ग़लत हूं तो मुझे विधवा बना दो।

दूसरा जोक

डॉक्टर साहब मेरे पति रात को नींद में बहुत बातें करते हैं, क्या करूं।

डॉक्टरः आप उनको दिन में बोलने का मौका दीजिए, सब ठीक हो जाएगा।


तीसरा जोक..

मेरे लिये दूर दूर से रिश्ते आ रहे है
क्योंकि
पास वाले तो मुझे अच्छे से जान चुके है

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories