25 जुलाई 2019

2019-07-25 13:40:51
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

अनिलः प्रोग्राम शुरू होता है। जानकारी के साथ-साथ आप सुनेंगे एक साक्षात्कार।

पहले सुनते हैं यह जानकारी। भारत में एटीएम का प्रयोग काफी बढ़ गया है। लेकिन कई बार जब हम एटीएम से कैश निकालने जाते हैं तो एटीएम खाली मिलता है। अब इस दिशा में भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने एक फैसला लिया है, जिससे आपको और भी बेहतर सुविधा मिलेगी।

केंद्रीय बैंक ने कहा है कि अब अगर कोई भी एटीएम तीन घंटे या उससे ज्यादा समय के लिए खाली रहेगा तो बैंकों पर जुर्माना लगेगा। बैंक ने स्पष्ट किया है कि कोई भी एटीएम तीन घंटे से ज्यादा समय के लिए खाली नहीं होना चाहिए।

ये कदम इसलिए भी उठाया गया है क्योंकि बहुत बार एटीएम कई दिनों तक खाली रहते हैं। ऐसे समय में ग्राहकों को दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इस संदर्भ में फेडरेशन ऑफ एटीएम इंडस्ट्रीज का कहना है कि आरबीआई ने बैंकों से एटीएम अपग्रेड करने को कहा है। इससे बैंकों का खर्चा बढ़ा है। एटीएम ऑपरेट की लागत बढ़ने से भी बैंकों ने कई एटीएम बंद कर रखे हैं।


नीलमः अब अगली खबर। मिस्र के पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद मुर्सी पिछले दिनों अदालत में सुनवाई के दौरान गिर पड़े और उनका निधन हो गया. देश के सरकारी टीवी ने यह जानकारी दी है. सरकारी टीवी ने बताया कि 67 वर्षीय पूर्व राष्ट्रपति जासूसी के आरोप में अदालत की सुनवाई में हिस्सा ले रहे थे, तभी वह अचानक से बेहोश हो गए और उनका निधन हो गया. उनके शव को अस्पताल ले जाया गया. मुर्सी को 2012 में देश का राष्ट्रपति चुना गया था. यह चुनाव मिस्र के लंबे समय तक राष्ट्रपति रहे हुस्नी मुबारक को पद से हटाने के बाद हुए थे.

मुर्सी का ताल्लुक देश के सबसे बड़े इस्लामी समूह मुस्लिम ब्रदरहुड से था जिसे अब गैर कानूनी घोषित कर दिया गया है. फौज ने बड़े स्तर पर हुए विरोध-प्रदर्शनों के बाद 2013 में मुर्सी का तख्तापलट कर दिया था और ब्रदरहुड को कुचल दिया था. सेना ने मुर्सी समेत समूह के कई नेताओं को गिरफ्तार कर लिया था


अनिलः उधर टिम गुलिक्सेन 52 साल के चुके हैं। वह 17 बच्चों के बायोलॉजिकल पिता हैं, लेकिन इन बच्चों को उन्होंने कभी अपनी गोद में नहीं खिलाया। न ही इन बच्चों के साथ पिकनिक मनाने समुद्र किनारे गए। ये सभी बच्चे अब युवा हो चुके हैं और अपनी-अपनी जिंदगी के फैसले खुद लेने में सक्षम हैं। ये बच्चे कभी टिम के साथ उनके घर पर भी नहीं रहे क्योंकि ये उनके डोनर किड्स हैं जिनकी उम्र अब 18 से 25 साल के बीच है।

दरअसल, टिम गुलिक्सेन स्पर्म डोनर हैं। 1989 से स्पर्म बेचना शुरू किया। इस वक्त सैन फ्रांसिस्को में रहते हैं और रियल स्टेट एजेंट का काम करते हैं। टिम कहते हैं कि उन्होंने स्पर्म डोनेट करने का फैसला उस वक्त लिया जब एक गे-प्राइड मैग्जीन में पढ़ा कि लेस्बियन्स को डोनर की तलाश है।


नीलमः अब समय हो गया है हेल्थ संबंधी जानकारी का।

अगर आपका बच्चा घर के भीतर गंदे जूते पहनता है तो उसे डांटे नहीं, ऐसा करके वह अस्थमा से बच सकता है। एक नए शोध में बताया गया है कि घर के अंदर गंदे जूते पहनने से बच्चों को अस्थमा की बीमारी नहीं होती है। इसकी वजह है कि अस्थमा के बैक्टीरिया मिट्टी में लचीले हो जाते हैं। ऐसे में अगर बच्चे गंदे जूते पहनकर घर में चहल-कदमी करते हैं तो उनको अस्थमा की बीमारी की संभावना बेहद कम रहती है

इसकी वजह है कि मिट्टी में कई तरह की जीवधारी संरचनाएं पाई जाती हैं जो कि बच्चों को अस्थमा की बीमारी से बचाती हैं। ऐसे में अगर घर के भीतर बैक्टीरिया लचीले ढंग से रहेंगे तो बच्चों में फेफड़ों संबंधित किसी भी रोग के होने की संभावना कम रहेगी।

शोधकर्ताओं ने इस शोध को करने के लिए फिनलैंड और जर्मनी के 1400 परिवारों के घर से बैक्टीरिया का विश्लेषण किया।



अब सुनते हैं जाने-माने हास्य अभिनेता हेमंत पांडे के साथ हुई बातचीत के मुख्य अंश।

....बातचीत....


अनिलः पहला पत्र भेजा है, नैहाटी पश्चिम बंगाल से माधव चंद्र सागौर ने। लिखते हैं तीन महीने से दुनिया भर में बंद मैक्स 737 विमान बनाने वाली कंपनी नाम बदलने की तैयारी कर रही है। विमान हादसे के रहस्य की तकनीकी गड़बड़ी को सुधारने की बजाय नाम और ब्रांडिंग परिवर्तन करने से मार्केट में वापस नहीं आया जा सकता। वहीं नासा के वैज्ञानिकों की उपलब्धि पर गर्व होता है। वहीं गूगल के स्वामित्व वाले यूट्यूब घृणा फैलाने वाले 90 लाख से ज्यादा वीडियो डिलीट किए, अच्छी खबर है। वहीं माइक्रोसॉफ्ट इंडिया के बालेंदु शर्मा के साथ की गयी भेटवार्ता बहुत ही तथ्यपूर्ण लगी। तकनीक और हिंदी के बीच की दूरियां खत्म करने पर ध्यान आकर्षित किया गया। यह बातचीत बहुत अच्छी लगी।


अब बारी है अगले पत्र की। जिसे भेजा है, सऊदी अरब से सादिक आजमी ने। लिखते हैं, टी टाईम के नये अंक से पुनः लाभान्वित होने का अवसर मिला।

छिटपुट जानकारी के क्रम में कुछ अहम बिंदुओं पर चर्चा अच्छी थी जिसमें परिवहन के क्षेत्र में बोइंग द्वारा तकनीकी बदलाव के साथ मैक्स का नाम हटाने पर विचार किया जाना शामिल है। यात्रियों की सुविधा और सुरक्षा के मद्देनजर इस फैसले का हम स्वागत करते हैं। तकनीकी बदलाव से दुर्घटना पर सम्पूर्ण नियंत्रण हो यही कामना है।

नासा के वैज्ञानिकों द्वारा चांद पर जीवन की संभावनाओं को तलाशने का प्रयास मेरे विचार से तब तक बेमानी है जब तक धरती पर मौजूद सम्पूर्ण मानव जाति के जीवन को सुखमय न बनाया जाए। आज भी लोग भूख और दयनीय स्थिति में जीवन व्यापन कर रहे हैं न तो रहने को छत पहनने को कपड़े खाने को रोटी और न ही इलाज को दवाई हेतु पैसे।

जब तक विश्व का हर नागरिक इन सब चीजों में सक्षम नहीं हो जाता अंतरिक्ष में जाने की सभी गतिविधियों एवं संभावनाओं की सोच पर विराम लगा देना चाहिए।

हां इस बीच गूगल द्वारा यूट्यूब पर उन अपलोड वीडियो को प्रतिबंधित किए जाने की बात का हम स्वागत करते हैं जिससे समाज में दुष्प्रभाव पड़ रहा है।

स्वास्थ्य संबंधी जागरूकता लाने हेतु लाल मीट खाने से परहेज़ और हरी सब्जियों के सेवन की सलाह पर बल दिया जाना उम्दा लगा। आशा है भविष्य में भी इस क्रम को जारी रखा जाएगा।

इस बार माइक्रोसॉफ्ट इंडिया के बालेंदु शर्मा के साथ बातचीत में मुझे सबसे उत्तम कार्य यह लगा कि वार्ता को संक्षिप्त रूप दिया गया जो 25 मिनट के इस प्रोग्राम के लिए अत्यंत आवश्यक है।

इस बार के सभी जोक्स लाजवाब थे विशेष रूप से तीसरा। कुल मिलाकर कहा जाए तो इस बार की प्रस्तुति उम्दा रही। धन्यवाद स्वीकार करें।


नीलमः अब पेश करते हैं अगला पत्र। जिसे भेजा है, दिल्ली से वीरेंद्र मेहता ने। लिखते हैं चांद पर सूर्य के प्राचीन रहस्य के सुराग मौजूद हैं , यह जानकारी रोचक लगी पर उससे भी ज्यादा रोचक तब होगा जब यह साबित हो जाए । और गूगल की तरफ से यूट्यूब में नफरत और घृणा फैलाने वाले वीडियो को हटाया जाना भी सराहनीय कदम है । हेल्थ से जुड़ी जानकारी जिसमें बताया गया कि रेड मीट के सेवन सेवन से एवं मृत्यु का खतरा सबसे ज्यादा रहता है और माइक्रोसॉफ्ट इंडिया की बाल इंदु शर्मा से वार्तालाप अच्छी लगी । सुंदर प्रोग्राम की प्रस्तुति के लिए बहुत धन्यवाद। वीरेंद्र जी पत्र भेजने के लिए धन्यवाद।

अब समय हो गया है अगले पत्र का। जिसे भेजा है, बेहाला कोलकाता से प्रियंजीत कुमार घोषाल ने। लिखते हैं, पिछले प्रोग्राम में बोइंग कंपनी के बारे में बताया। इसके साथ ही नासा के वैज्ञानिकों द्वारा कुछ खुलासा किए जाने का समाचार बेहतरीन लगा। वहीं हेल्थ टिप्स के अलावा जोक्स भी शानदार लगे। धन्यवाद।


अनिलः अब पेश करते हैं, छंगवारा, दरभंगा बिहार से शंकर प्रसाद शंभू द्वारा भेजा गया पत्र। लिखते हैं, पिछले अंक में पता चला कि विमान हादसों के बाद बोइंग अपने मैक्स 737 सीरिज के विमानों का नाम बदलने की तैयारी में है। इसके साथ ही पता चला कि नासा के वैज्ञानिकों के अनुसार चांद पर सूर्य के प्राचीन रहस्यों के सुराग मौजदू हैं जो जीवन के विकास को समझने के लिए महत्वपूर्ण हैं। वहीं यूट्यूब ने नफरत और घृणा फैलाने वाले वीडियोज़ को डिलीट करने का फैसला लिया है। बहुत ही सराहनीय कदम कहा जाएगा।

वहीं हेल्थ संबंधी जानकारी में बताया गया कि ज्यादा मांसाहार यानि रेड मीट की जगह मछली, अंडे, साबूत अनाज और सब्जियां खाने वाले व्यक्ति अधिक लम्बे समय तक जीते हैं। यह समाचार हम सभी को अच्छा लगा।

कार्यक्रम में माइक्रोसॉफ्ट इंडिया के बालेन्दु शर्मा के साथ की गयी बातचीत बहुत पसंद आयी। धन्यवाद शानदार प्रस्तुति के लिए। धन्यवाद।


नीलमः अब पेश करते हैं अगला पत्र, जो हमें भेजा है, यूपी से तिलक राज अरोड़ा और चंदन अरोड़ा ने। लिखते हैं कार्यक्रम में जानकारियां बहुत पसंद आयी। विमान मैक्स 737 का नाम से मैक्स शब्द को हटाने वाली जानकारी, चाँद पर सूर्य के प्राचीन रहस्य के सुराग मौजूद है वाली जानकारी, यू ट्यूब अपने प्लेट फार्म से घृणा फैलाने वाले वीडियो को डिलीट कर रहा है वाली जानकारी सुनी और पसंद आयी। हेल्थ संबंधी जानकारी भी अच्छी लगी।

माइक्रोसाफ्ट इंडिया के बालेंदु शर्मा जी से बातचीत की जितनी तारीफ की जाए उतनी ही कम है। हिंदी तकनीक के बारे में विस्तार पूर्वक बातचीत पसंद आयी।

धन्यवाद बेहतरीन प्रस्तुति के लिए।


अनिलः अब पेश है आज के प्रोग्राम का अंतिम पत्र। जिसे भेजा है केसिंगा उड़ीसा से सुरेश अग्रवाल ने। लिखते हैं साप्ताहिक "खेल जगत" धीरे-धीरे अपना रंग जमाने लगा है। प्रारम्भ में खेल जगत की सुर्ख़ियां और फिर उन पर विस्तार से चर्चा-सचमुच, प्रयास सराहनीय है। आज के अंक में भारतीय फुटबॉल के लिए साल 2018 के शानदार रहने की चर्चा पसंद आयी। जिसकी सबसे बड़ी उपलब्धि निश्चित तौर पर अंडर-20 टीम की 10 खिलाड़ियों के साथ खेलते हुए अर्जेंटीना जैसी मजबूत टीम को हरा कर हासिल की गई जीत रही। जिसमें कोच फ्लायड पिंटो की भूमिका भी अहम कही जायेगी।

इसी प्रकार भारत की अंडर-16 टीम द्वारा भी अम्मान में आयोजित आमंत्रण टूर्नामेंट में एशिया की बड़ी टीम ईरान को हराया, जो कि टीम के लिये बड़ी सफलता कही जायेगी।यह जान कर अच्छा लगा कि कंधे की चोट से उबरने के बाद रूसी टेनिस स्टार मारिया शारापोवा एक बार फिर टेनिस कोर्ट पर उतरने को उतावली हैं। शानदार प्रस्तुति सुनने को मिली।

नीलमः आगे लिखते हैं कि "टी टाइम" का आगाज़ विमान बनाने वाली कंपनी बोइंग दारा अब मैक्स 737 विमान का नाम बदलने को सहमत होने सम्बन्धी समाचार से किया जाना अच्छा लगा। पहले तो मैक्स यह मानने को भी तैयार नहीं थी कि उसके विमानों में कुछ तकनीकी त्रुटि हो सकती है और अब वह विमान का नाम तक बदलने को तैयार है। मैक्स को चाहिये कि वह नाम बदलने की बात कहने के बजाय यह कहे कि उसने तकनीकी तौर पर विमान को दुरुस्त कर लिया है, तभी शायद ग्राहकों का खोया विश्वास पुनः लौटाया जा सकता है।

विज्ञान सम्बन्धी ख़बरों में नासा के वैज्ञानिकों का यह रहस्योद्घाटन कि चांद पर सूर्य के प्राचीन रहस्यों के सुराग मौजदू हैं, जो कि जीवन के विकास को समझने के लिए महत्वपूर्ण हैं, मन में नया कौतूहल पैदा कर गया। इस परिप्रेक्ष्य में तारा भौतिकविद् प्रबल सक्सेना द्वारा हैरानी जताया जाना कि पृथ्वी की मिट्टी के मुकाबले चंद्रमा की मिट्टी में कम सोडियम और पोटेशियम क्यों हैं जबकि चांद और पृथ्वी की संरचना एक समान तत्व से हुई है।

यह जान कर बहुत खुशी हुई कि गूगल के स्वामित्व वाली ऑनलाइन वीडियो स्ट्रीमिंग साइट यूट्यूब ने नफ़रत और घृणा फैलाने वाली सामग्री को लेकर बड़ा फैसला लेते हुये घृणा फैलाने वाले वीडियो को अपने प्लेटफॉर्म से डिलीट कर रहा है।

कार्यक्रम में आगे माइक्रोसॉफ्ट इंडिया के बालेंदु शर्मा दाधीच के साथ की गयी बातचीत बहुत ही उत्साहवर्धक लगी। उन्होंने हिंदी और तकनीक के बीच की दूरी समाप्त होने सम्बन्धी अहम जानकारी प्रदान की। निश्चित तौर पर आज हिंदी का इस्तेमाल टीवी, एटीएम, मोबाइल, कम्प्यूटर तमाम प्लेटफॉर्म पर आसानी से किया जा सकता है। यह बात अलग है कि जानकारी के अभाव में लोग निराश होकर आलोचना करने लगते हैं। सुरेश जी पत्र भेजने के लिए शुक्रिया।


अनिलः टिप्पणी के बाद वक्त हो गया है जोक्स का।

पहला जोक-

टीचरः सोनू, स्वर और व्यंजन में फर्क बताओ?

सोनूः सर, स्वर मुंह से बाहर निकलते हैं और व्यंजन मुंह के अंदर जाते हैं...


दूसरा जोक

शाम को पति के घर आते ही पत्नी ने किच-किच शुरू कर दी।

परेशान पति : अरे यार दिनभर का थका-हारा आया हूं,

पहले फ्रेश तो होने दो।

पत्नी : मैं भी तो दिनभर अकेली थी,

तो मैं भी फ्रेश ही हो रही हूं


तीसरा जोक

एक ऑटो वाले की शादी हो रही थी।

जब उसकी दुल्हन फेरों के वक्त उसके पास बैठी तो वह बोला,

थोड़ा पास होकर बैठो, अभी एक और बैठ सकती है।

फिर क्या था मंडप में ही…

दे चप्पल दे चप्पल

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories