20181101

2018-11-01 19:25:43
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

अनिलः दोस्तो, कार्यक्रम की शुरुआत करते हैं, आज के कार्यक्रम में रोचक जानकारी के साथ-साथ सुनवाई जाएगी एक भेंटवार्ता। जिस शख्स से हम वार्ता सुनवाएंगे वह भारत सरकार की संस्था एपीडा के निदेशक हैं। एपीडा मुख्य तौर पर चावल और अन्य तमाम उत्पादों के निर्यात को लेकर काम करती है। 

पहले सुनते हैं यह जानकारी....

विज्ञान ने भी माना है कि मानव मस्तिष्क को जानवरों के साथ खेलना और समय बिताना सुकुन देता है। इसकी बानगी हमें कई जगहों पर देखने को भी मिल जाती है। अक्सर लोग दोस्तों और परिवार वालों से ज्यादा समय कुत्तों के साथ बिताना पसंद करते हैं। भारत में कुत्तों के अलावा गाय और भैस पालने का चलन है। गाय तो देश में विमर्श का मुद्दा तक बन चुकी है और उसकी पहुंच राजनीति तक भी है लेकिन इन दिनों अमेरिका में गाय के प्रति प्रेम उड़ेला जा रहा है। 

इन दिनों अमेरिका में एक विशेष प्रकार का अभियान छेड़ा गया है। जिसे Cow Cuddling यानी की गाय से गले लगाना भी कह रहे हैं। इस अभियान में यूएस की जनता बढ़ चढ़कर भाग ले रही है। यहां तक की जमकर पैसे भी खर्च कर रही है। 

दोस्तो, अब समय हो गया है चर्चा का..ए.के.गुप्ता जो कि एपीडा के निदेशक हैं। 

....चर्चा....

अभी आपने सुनी चर्चा, यह बातचीत आपको कैसी लगी, हमें जरूर बताइएगा।

चर्चा के बाद समय हो गया जानकारी के क्रम को आगे बढ़ाने का। 

अमेरिका के कैलिफोर्निया स्थित योसेमाइट नेशनल पार्क के मशहूर ओवरलुक से गिरने वाले दो शख्स भारतीय दंपति थे। अधिकारियों ने कहा वह अमेरिका में रहकर काम करते थे। पार्क रेंजर्स को 29 साल के विष्णु विश्वनाथ और 30 साल की मीनाक्षी मूर्ति के शव 800 फीट नीचे टाफ्ट प्वाइंट में मिले हैं। यहां पर्यटक ग्रेनाइट लेज को देखा करते थे लेकिन इसपर रेलिंग नहीं है।

नीलमः अब अगली जानकारी का वक्त हो गया है। तुर्की (Turkey) के इस्तांबुल (Istanbul) में दुनिया का सबसे बड़ा हवाई बनाया गया है. एयरपोर्ट का उद्धघाटन 29 अक्टूबर (तुर्की के गणतंत्र दिवस) पर राष्ट्रपति रेचप तैयप आर्दोआन ने किया. इस एयरपोर्ट की 9 करोड़ यात्रियों की क्षमता है. ये एयरपोर्ट 19 हजार एकड़ में फैला हुआ है और 250 एयरलाइंस 350 से ज्यादा जगह पर उड़ान भरेंगी. इस एयरपोर्ट को काफी हाइटेक तरीके से बनाया गया. इस एयरपोर्ट में ऑर्टिफीशियल इंटेलिजेंस की मदद से सुविधाएं दी जाएंगी. इस एयरपोर्ट को बनने में 10 साल का समय लगा है. 

अनिलः हरियाणा के कई ऐसे बॉक्सर्स हैं जिन्होंने देश का नाम रौशन किया.  ऐसा ही एक खिलाड़ी है जिन्होंने भारत को 17 गोल्ड जिताए लेकिन वो पहचान हासिल नहीं हो पाई जो विजेंदर सिंह और सुशील कुमार जैसे बॉक्सर्स को मिली. इंटरनेशनल बॉक्सर दिनेश कुमार आज कल भिवानी में दो वक्त की रोटी और लोन चुकाने के लिए सड़कों पर आइसक्रीम का ठेला लगाते हैं. 

दिनेश कुमार ने भारत के लिए 17 गोल्ड, 1 सिल्वर और 5 ब्रॉन्ज मेडल जीते हैं. परिस्थितियां खराब होने के बाद वो अब सरकार से मदद मांग रहे हैं. उनके पिता ने इंटरनेशनल टूर्नामेंट के लिए लोन लिया था. जिसको चुकाने के लिए वो पिता के साथ आइसक्रीम बेचते हैं

नीलमः सरदार वल्लभ भाई पटेल( Vallabhbhai Patel) की 182 मीटर ऊंची प्रतिमा 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' (Statue of Unity) का 31 अक्टूबर को उनकी जयंती पर उद्घाटन किया गया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उद्घाटन किया। अपनी ऊंचाई के कारण यह प्रतिमा अब  दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति बन गई है. दुनिया में अब दूसरे स्थान पर चीन में स्प्रिंग टेंपल में बुद्ध की मूर्ति है, जिसकी ऊंचाई 153 मीटर है. गुजरात सरकार को उम्मीद है कि इस विशालकाय मूर्ति को देखने के लिए देश ही नहीं विदेशों के पर्यटक भी आएंगे. इस नाते सरकार की ओर से पर्यटकों के ठहरने के लिए भी विशेष व्यवस्था की गई है. सरकार आमदनी के लिए टिकट भी लगाएगी. यह प्रतिमा नर्मदा नदी पर सरदार सरोवर बांध से 3.5 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है. मूर्ति बनाने वाली कंपनी एलएंडटी के मुख्य कार्यपालक अधिकारी एवं प्रबंध निदेशक एस एन सुब्रमण्यन ने कहा, "स्टैच्यू आफ यूनिटी जहां राष्ट्रीय गौरव और एकता की प्रतीक है वहीं यह भारत के इंजीनियरिंग कौशल तथा परियोजना प्रबंधन क्षमताओं का सम्मान भी है."

अनिलः दोस्तो, कार्यक्रम में जानकारी देने का सिलसिला यहीं संपन्न होता है। 

अब वक्त हो गया है श्रोताओं की टिप्पणी का।

प्रोग्राम में सबसे पहला पत्र भेजा है मॉनिटर सुरेश अग्रवाल ने। लिखते हैं कार्यक्रम "टी टाइम" की शुरुआत भारत के पहले स्वदेशी क्रूज 'अंगरिया', जो कि पिछले दिनों मुंबई से गोवा के लिए रवाना हुआ, की चर्चा के साथ किया जाना उत्साहवर्धक लगा। लेकिन यह जान कर दुःख हुआ कि क्रूज के शुभारंभ के बाद महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस ने तमाम नियमों को बला-ए-ताक रख कर क्रूज के एकदम किनारे बैठ खतरनाक ढ़ंग से सेल्फी ली। उनकी यह करतूत हमने यहां टीवी पर भी देखी। परन्तु कहते हैं ना कि 'सइयां भयो कोतवाल तो फिर डर काहे का'।

जानकारियों के क्रम में -भारत में पिछले चार साल में विभिन्न श्रेणियों के करदाताओं की संख्या में हुई  उल्लेखनीय वृद्धि सम्बन्धी आंकड़ों के बारे में जानकर अच्छा लगा।

वहीं बॉलीवुड की ख़बरों में बड़े पर्दे पर अपना जलवा दिखा रहे आयुष्मान खुराना की रिलीज़ हुई फ़िल्म 'बधाई' की रिकॉर्ड कमाई की चर्चा तबीयत खुश कर गयी। 

यह जानकारी हैरान करने वाली लगी कि कैसे बिहार में बक्सर के सदर अस्पताल में ऑपरेशन के दौरान मरीज़ के काटे गये पैर को आवारा कुत्ता ले उड़ा। यह तो लापवाही की पराकाष्ठा है।

नीलमः जबकि किसी नवजात के मां-बाप को सुकून से सोने में मददगार बन सकने वाली विशिष्ट चारपाई की चर्चा भी किसी वरदान से कम नहीं। क्यों कि इस दौर से हम भी गुजर चुके हैं। बहरहाल, यह तो नई वैज्ञानिक खोज़ एवं तकनीक का क़माल है। वैसे हर तकनीक के सकारात्मक और नकारात्मक दोनों पहलू होते हैं।

वहीं चोट लगने पर हड्डी टूटने सम्बन्धी आम धारणा को दूर करते हुये आपने हड्डी टूटने के जिन तीन बड़े संकेतों का ज़िक्र किया, वह काफी महत्वपूर्ण प्रतीत हुये। 

खेल की ख़बरों में -एशियाई खेलों के बाद यूथ ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीतने वाले शूटर सौरभ चौधरी द्वारा विदेशी कोच से प्रशिक्षण लेने का प्रस्ताव अस्वीकृत कर दिया जाना, देश का मान बढ़ाने के समान है। आशा है कि अन्य खिलाड़ी भी उनसे प्रेरणा लेंगे।

इन तमाम जानकारियों के साथ कार्यक्रम में पेश श्रोताओं की प्रतिक्रिया एवं चुटीले ज़ोक्स भी प्रस्तुति में रस भर गये। धन्यवाद फिर एक शानदार प्रस्तुति के लिये।

अनिलः अब समय हो गया अगले पत्र का। जिसे भेजा है, जुबैल सऊदी अरब से सादिक आजमी ने। लिखते हैं, अपने पसंदीदा कार्यक्रम टी टाईम के नए अंक का आनंद लेने के उपरांत आपकी सेवा में उपस्थित हूं।

आरम्भ में सदा की भांति जानकारी देने के क्रम को आगे बढ़ाते हुए कई महत्वपूर्ण एवं रुचिकर बातें बताई गई। जो निसंदेह हमारे ज्ञान में वृद्धि का कारण बनीं। सबसे उत्तम हड्डियों के टूटने को लेकर हमारे मन में उत्पन्न शंकाओं पर समीक्षा रही। इस प्रकार की रिपोर्ट से जागरूक एवं सतर्क रहने का अवसर मिलता है।ऐसी लाभकारी बातें भविष्य में कार्यक्रम में स्थान पाएंगी ऐसी आशा रखता हूं।

श्रोताओं के पत्र को उचित स्थान दिया जाना सम्मान देने सरीखा प्रतीक हुआ जिसकी जितनी प्रशंसा की जाए कम है। जबकि गुदगुदी कराते तीनों जोक्स भी उम्दा थे 

कुल मिलाकर अच्छी प्रस्तुति रही जिसके लिए आप बधाई के पात्र हैं 

धन्यवाद।

सादिक जी हमें पत्र भेजने के लिए आपका भी शुक्रिया।

नीलमः अगला पत्र भेजा है दरभंगा बिहार से शंकर प्रसाद शंभू ने। लिखते हैं प्रोग्राम में भारत के पहले स्वदेशी क्रूज अंगरिया कुछ दिन पहले मुंबई से गोवा के लिए प्रस्थान करने की खबर पेश की गयी। इस क्रूज के उद्घाटन समारोह में महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की पत्‍नी ने क्रूज के एकदम किनारे पर बैठकर सेल्फी ली, जो सुरक्षा की दृष्टि से खतरनाक जगह होता है।

दूसरी जानकारी में बताया गया कि आयकर विभाग के नीति बनाने वाले निकाय सी.बी.डी.टी. के अनुसार एक करोड़ रुपये से अधिक की वार्षिक आय वाले व्यक्तिगत करदाताओं की संख्या पिछले चार साल में 68 प्रतिशत बढ़ी है । यह तो अच्छी बात है । इससे देश की आर्थिक स्थिति में सुधार ही होगा । वहीं बॉलीवुड ख़बरों में आयुष्मान खुराना के सफलता की सीढी के अगले पायदान पर अब फिल्म 'बधाई हो' रिलीज हुई है। दशहरे के मौके पर आई इस फिल्म से दूसरे दिन ही बजट से ज्यादा की कमाई हो चुकी है। अगली जानकारी में सुना कि तकनीकी उन्नति से एक ऐसी चारपाई बनाई गई है, जो खुद से हिल सकती है और बच्चे को सुला सकती है। यह  कामकाजी महिलाओं के लिए बहुत ही उपयोगी साबित हो सकती है।  

हिन्दी गीत- हीरे मोती मैं ना चाहूँ मैं तो चाहूँ संगम तेरा..... काफी रोमांटिक और कर्णप्रिय लगा।

शानदार प्रोग्राम पेश करने के लिए शुक्रिया। धन्यवाद शंभू जी। 

अनिलः अब लीजिए शामिल करते हैं बेहाला, कोलकाता से प्रियंजीत कुमार घोषाल का पत्र। लिखते हैं मुंबई से गोवा के बीच क्रूज चलने का समाचार तो अच्छा लगा। लेकिन मुख्यमंत्री की पत्नी द्वारा खतरनाक तरीके से सेल्फी खीचे जाने की खबर से आश्चर्य हुआ। वहीं देश में करोड़पतियों की संख्या में इजाफा होना तो अच्छा है, लेकिन गरीबों की संख्या में कोई कमी नहीं आ रही है। इसके साथ ही आपके द्वारा पेश खेल और हेल्थ संबंधी जानकारियों से भी हमारे ज्ञान कोष में इजाफा हुआ। धन्यवाद। 

इसी के साथ आज के प्रोग्राम में श्रोताओं की टिप्पणी संपन्न होती है। 

अब पेश करते हैं जोक्स यानी हंसगुल्ले।

पहला जोक

टीचर - अगर अपना कैरेक्टर  सुधारना चाहते हो तो अपनी टीचर को अपनी माँ समान समझो... संता - क्या बात करती हो मेडम फिर इससे तो हमारे पापा का कैरेक्टर  खराब हो जायेगा.

दूसरा जोक

औरत की सहेली - अरे देख ना वहाँ, वो लड़की कब से तेरे पति को देख रही है । औरत - मुझे पता है, पर मैं तो यह देखना चाहती हुँ कि, मेरा पति कितनी देर तक अपनी तोंद

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories