20180809

2018-08-09 14:38:08
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

अनिलः आज के प्रोग्राम में आप सुनेंगे कुछ जानकारी और आईआईटी के दो भारतीय छात्रों के साथ साक्षात्कार।

लेकिन सबसे पहले यह दुखद खबर। जैसा कि आपको पता होगा, तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री व डीएमके प्रमुख एम करुणानिधि का 94 साल की उम्र में चेन्नई के कावेरी अस्पताल में निधन हो गया. तबियत बिगड़ने की वजह से वह 28 जुलाई से अस्पताल में भर्ती थे. उन्हें मरीना बीच में दफना दिया गया है।   

 दोस्तो, पहले सुनते हैं दो छात्रों के साथ हुई बातचीत के मुख्य अंश।

 ....बातचीत...

दोस्तो, बातचीत जारी है, पहले सुनते हैं करुणानिधि की लाइफ के बारे में जानकारी। करुणानिधि का जन्म 3 जून 1924 को नागपट्टिनम के तिरुक्कुभलइ में दक्षिणमूर्ति के रूप में हुआ था. वे इसाई वेल्लालर समुदाय से संबंध रखते हैं. करुणानिधि ने तमिल फिल्म उद्योग में एक स्क्रिप्ट राइटर के तौर पर अपना करियर का शुरू किया था. उन्हें समाजवादी और बुद्धिवादी आदर्शों को बढ़ावा देने वाली समाज सुधार कहानियां लिखने के लिए जाना जाता था. 

हमारी ओर से करुणानिधि को श्रृद्धांजलि

 लीजिए अब सुनते हैं बातचीत का शेष भाग...

 अनिलः अब समय हो गया है अगली जानकारी का। दोस्तो, लोग जैसे-जैसे उम्रदराज होते जाते हैं, उनमें अपनी गलतियों को महसूस करने और इन्हें स्वीकार करने की क्षमता कम होती जाती है. एक नए अध्ययन में यह बात सामने आई है। अमेरिका की यूनिवर्सिटी ऑफ इओवा के सहायक अध्यापक जैन वेसल ने कहा, "अपनी गलतियों को कम समझने के परिणाम गंभीर हो सकते हैं क्योंकि आप ऐसी गलती को ठीक नहीं कर सकते जिसे आप महसूस ही नहीं करते."

इस शोध के लिए अध्ययनकर्ताओं ने 22 साल की उम्र के 38 लोगों और 68 साल की उम्र के 39 लोगों का आंकलन किया था जिसके लिए सभी लोगों की एक परीक्षा ली गई. इस परीक्षा में कंप्यूटर स्क्रीन पर एक बॉक्स में एक गोले को देखना था.  

 उधर...

वैज्ञानिकों ने 2017 की धरती के तीसरे सबसे गर्म साल के तौर पर पुष्टि कर दी है. रिकॉर्ड के मुताबिक, 2016 सबसे गर्म साल रहा, जबकि 2015 को दूसरे सबसे गर्म साल के तौर पर दर्ज किया गया. 28वीं स्टेट ऑफ द क्लाइमेट रिपोर्ट के मुताबिक ग्रह (धरती) पर ग्रीनहाउस गैस के रिकॉर्ड संकेंद्रण के साथ ही समुद्र तल भी परिवर्तित हुआ है. यह रिपोर्ट 65 देशों के 500 वैज्ञानिकों द्वारा उपलब्ध कराए गए आंकड़ों पर आधारित है  
वहीं हरियाणा के पलवल में कुछ ऐसा हुआ जिसको देखकर आपको भी काफी अच्छा लगेगा. चार भाई अपने बूढ़े माता-पिता को कंधे पर बिठाकर कांवड़ यात्रा करा रहे हैं. चार भाई पिता चंद्रपाल और मां रूपवती को कंधे पर लेकर यात्रा करने निकले हैं. उन्होंने ये सफर हरिद्वार से शुरू किया. पूरा परिवार ट्रेन से हरिद्वार पहुंचे थे. सभी भाइयों की सालों से एक ही मन्नत थी कि मां-बाप को कंधे पर बैठाकर कांवड़ यात्रा कराएं. उनकी ये मन्नत पूरी हो गई. 

वहीं अब बात करते हैं तकनीक संबंधी खबर की।

कई बार ई-मेल आता है कि लिंक पर क्लिक करके फटाफट पासवर्ड चेक करें, नहीं तो बड़ा नुकसान होगा, जबकि गूगल ऐसा कोई मेल नहीं करता है। ऐसे लिंक पर क्लिक करने से बचें

कई बार एक लिंक के साथ ई-मेल आता है कि आपका जीमेल अकाउंट खतरे में है। इस लिंक पर क्लिक करके पासवर्ड बदलें। लेकिन आपको ऐसे लिंक्स से सावधान रहना है।

कई बार हैकर्स एक ई-मेल करते हैं जो कि आपके ऑफिस के नाम से होता है। इसमें कुछ निर्देश और लिंक भी दिए जाते हैं, लेकिन आपको ऐसे ई-मेल से बचना है। दिक्कत है तो ऑफिस में फोन करके पुष्टि कर सकते हैं।

उधर  ई-कॉमर्स कंपनियों की मनमानी पर नकेल कसने के लिए केंद्रीय उपभोक्ता मामलों का मंत्रालय इस पर इसी हफ्ते दिशा-निर्देशों का मसौदा जारी कर सकता है। इसमें ऑनलाइन कंपनियों को उत्पाद पहुंचाने, वापसी, पैसा वापसी और बदलाव को पारदर्शी बनाने की नीति होगी। निर्देशों पर सभी पक्षों की राय जानकर केंद्रीय वाणिज्य मंत्रालय इसे सितंबर में अधिसूचित करेगा।  

दोस्तो, पोग्राम में जानकारी देने का सिलसिला यहीं संपन्न होता है।

 नीलमः अब समय हो गया है श्रोताओं की टिप्पणी का.

पहला पत्र हमें भेजा है, केसिंगा उड़ीसा से मॉनिटर सुरेश अग्रवाल ने।

लिखते हैं  "टी टाइम" के तहत चीन-अमेरिका के बीच गहराते व्यापारिक विवाद पर न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी और यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन में ग्लोबल फैलो प्रसून शर्मा के साथ की गयी बातचीत बहुत ही सार्थक लगी। मुझे उनका यह कहना बिलकुल सही प्रतीत हुआ कि चीन-अमरीका व्यापार युद्ध से चीन-भारत को बहुत लाभ हो सकता है, बशर्ते कि दोनों देश साथ चलते हुये अपना एक लक्ष्य तय करें। हम उनकी इस बात का भी तहेदिल से समर्थन करते हैं कि जनवरी 2019 में आयोजित 'वाइब्रेंट गुजरात' में चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग मुख्य अतिथि हों। हमें उनके सुझाये वह व्यापारिक क्षेत्र भी बिलकुल सही जान पड़े, जिनके ज़रिये दोनों देश अपने व्यापार-विस्तार को नयी ऊंचाई दे सकते हैं। शी चिनफिंग एवं मोदी को वैश्विक कूटनीति का 'ब्राण्ड एम्बेसडर' करार दिया जाना भी आज के परिप्रेक्ष्य में पूरी तरह खरा उतरता है।

वहीं जानकारियों के क्रम में व्हट्सएप पर फैलती फ़र्ज़ी खबरों के मद्देनज़र कंपनी द्वारा एक नया एप बनाने की दिशा में उठाये गये कदम की चर्चा हम सभी व्हट्सएप उपभोक्ताओं के लिये काफी राहत प्रदान करने वाली लगी। यह बात काफी महत्वपूर्ण है कि अब कलर कोड के ज़रिये मैसेज की सत्यता प्रमाणित हो सकेगी। 

यह जानकारी भी देश-विदेश की हवाई-यात्रा करने वालों के लिये काफी अहम है कि अमेरिका में चुनिंदा हवाईअड्डों पर चल रहे परीक्षण के बाद जांच तकनीक को यदि व्यापक रूप से अपना लिया जाता है तो यात्री हवाईअड्डों के सुरक्षा जांच केंद्रों पर अपने कैरी बैग में तरल पदार्थ व लैपटॉप ले जा सकेंगे।

वहीं अगली खबर में चीन द्वारा 'पृथ्वी अवलोकन हाई-रिजोल्यूशन उपग्रह परियोजना' के तहत मंगलवार को ऑप्टिकल रिमोट सेंसिंग उपग्रह गाओफेन-11 लॉन्च किये जाने सम्बन्धी जानकारी भी चीन द्वारा अन्तरिक्ष के क्षेत्र में बढ़ाया गया एक और बड़ा कदम है। इस   उपग्रह के सफल प्रक्षेपण पर चीनी वैज्ञानिकों को हार्दिक बधाई ! 

किचन के सिंक से आने वाली बदबू से निज़ात दिलाने में नींबू और नमक कितना मददगार साबित हो सकते हैं, यह जानकारी तो सबसे अच्छी लगी। इसके लिये तो घर की गृहणियां आपको निश्चित तौर पर दुआ देंगी। इन तमाम बातों के अलावा कार्यक्रम में श्रोताओं की प्रतिक्रियाओं एवं रसीले ज़ोक्स समाहित किये जाने का भी शुक्रिया।

सुरेश जी हमें पत्र भेजने के लिए आपका धन्यवाद।

अब पेश है अगला पत्र, जिसे भेजा है बिहार से मोहम्मद मेराज आलम ने। लिखते हैं "टी टाईम" कार्यक्रम में ग्लोबल फेलो प्रसून शर्मा और सीआरआई उद्घोषक के साथ हुई बातचीत पसंद आयी। किचन की साफ सफाई की जानकारी में सिंक के दुर्गन्ध से छुटकारा का उपाय ज्ञानवर्द्धक लगा।

मेराज आलम जी, हमें पत्र भेजने के लिए शुक्रिया।

अनिलः वहीं मॉनिटर शंकर प्रसाद शंभू लिखते हैं कि साप्ताहिक कार्यक्रम "टी टाईम" में सुना कि व्हाट्सएप्प पर फैलती फर्जी खबरों के लिए कंपनी ने एक नया एप बनाने की दिशा में कदम बढ़ाया है। जिससे व्हाट्सएप्प कंपनी मेसेजिंग एप्प व्हाट्सएप्प पर आई खबरों की सच्चाई का पता लगा सके। यह खबर सुनकर हमलोगों को प्रसन्नता हुई कि इस नये एप्प को लांच होने से फर्जी खबर पर लगाम लग जाएगी।

न्यूयार्क यूनिवर्सिटी और यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन में ग्लोबल फैलो प्रसून शर्मा से की गयी बातचीत में चीन अमेरिका व्यापारिक विवाद पर विस्तृत चर्चा सुनी, जिसमें शर्मा जी ने बताया कि अमेरिका से चीन या यूरोपीय देश कहीं आगे न निकल जाय इसलिये व्यापारिक प्रतिबन्ध लगाये हैं किन्तु इससे अमेरिका को ही घाटा है। चीन भारत और यूरेशियाई देशों से व्यापारिक सम्बन्ध सुधारकर आगे निकल सकता है। चीन और भारत ट्रेड एफिसेड, एग्रीकल्चर ग्रूप्स और फार्मास्युटिकल्स के क्षेत्रों में व्यापार बढ़ा सकते हैं। 2000 किलोमीटर हाईवे और चीनी राष्ट्रपति के जनवरी 2019 में गुजरात यात्रा की भी चर्चा की गई। यह भेंटवार्ता अच्छी लगी।

शंभू जी हमें पत्र भेजने के लिए शुक्रिया।

इसी के साथ श्रोताओं की टिप्पणी यहीं संपन्न होती है।

अब समय हो गया है जोक्स का.

पहला जोक

सुबह सुबह पत्नी ने पति से कहा - जल्दी से न्यूज पेपर  दो ।

पति - तुम भी कितनी पुराने ख्यालात की हो,

दुनिया कहाँ से कहाँ पहुँच गयी और तुम

न्यूज पेपर मांग रही हो ये लो मेरा टेबलेट

पत्नी ने टेब  लिया और जट्ट से कॉकरोच

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories