20180510

2018-05-10 16:53:15
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

अनिलः लीजिए दोस्तो, कार्यक्रम शुरू करते हैं, आज के प्रोग्राम में सबसे पहले आप सुनेंगे कुछ जानकारी और उसके बाद सुनवायी जाएगी एक वार्ता। आज हम जिनके साथ हुई बातचीत सुनवाने वाले हैं, वह लगभग 12 साल से चीन में रह रही हैं। चलिए पहले कुछ जानकारी। 

पाकिस्तान की तहरीक ए इंसाफ पार्टी के चेयरमैन और पूर्व क्रिकेटर इमरान खान की तीसरी पत्नी उनसे नाराज होकर मायके चली गई हैं। पत्नी बुशरा मानेक का घर के पालतू कुत्तों की वजह से झगड़ा हो गया, जिसकी वजह से वह घर छोड़कर मायके चली गईं। 

टाइम्स ऑफ इस्लामाबाद के मुताबिक इमरान के पालतू कुत्ते जिन्हें बुशरा के कहने पर पटियाल हाउस से निकाल दिया गया था, वो दोबारा वापस आ गये और घर के चारों ओर घूमने लगे। आपको बता दें कि इमरान खान ने अपने कुत्ते 'शेरू' को मारने के बारे में उड़ रही अफवाहों को खारिज कर दिया था।

बुशरा किसी धार्मिक अनुष्ठान की वजह से कुत्तों को घर से दूर रखना चाहती थीं। आपको बता दें कि इमरान खान ने पिछले महीने गुपचुप तरीके से अपनी आध्यात्मिक सलाहकार बुशरा मानेक से शादी की थी। यह उनकी तीसरी शादी थी। 

अगली रोचक ख़बर। अगर आप किसी इंसान से पूछेंगे कि उन्हें दुनिया में सबसे ज्यादा किससे डर लगता है. तो वो शेर, शार्क, ऊंचाई या फिर पानी बोलेंगे. लेकिन एक जानवर ऐसा है जो इससे भी खतरनाक है. वह एक दिन में इतने इंसानों को मार देता है जितने शार्क 100 साल में न मार पाए फिर भी लोग उनको हल्के में ले लेते हैं. बिल गेट्स ने सोशल मीडिया पर एक स्टोरी शेयर की है जिसमें उन्होंने शार्क से भी खतरनाक मच्छर को बताया है.

अब वक्त हो गया है, शंघाई में रहने वाली अनीता शर्मा जी के साथ चर्चा सुनने का। पेश हैं बातचीत के मुख्य अंश..

..बातचीत जारी है..

अभी आपने सुनी शंघाई में रहने वाली लेखिका अनीता शर्मा के साथ बातचीत। दोस्तो, यह चर्चा आपको कैसी लगी, हमें जरूर बताइएगा। 

लीजिए इंटरव्यू के बाद सुनते हैं एक और जानकारी  

चीन की स्मार्टफोन कंपनी कोमियो इस साल के आखिर तक भारतीय बाजार में 500 करोड़ रुपये निवेश करेगी. कोमियो इंडिया के सीईओ व निदेशक संजय कुमार कालीरोना ने संवाददाताओं को यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि कंपनी इसके तहत भारतीय बाजार में 250 करोड़ रुपये विपणन, 150 करोड़ रुपये अनुसंधान व विकास तथा विनिर्माण तथा 100 करोड़ बिक्री व वितरण में लगाएगी.

जानकारी के बाद चलिए सुनते हैं श्रोताओं की टिप्पणी। 

पहला पत्र शामिल करते हैं केसिंगा उड़ीसा से मॉनिटर सुरेश अग्रवाल का । लिखते हैं कि कार्यक्रम "टी टाइम" के अन्तर्गत स्वच्छ भारत अभियान में जुटीं पुदुचेरी की उपराज्यपाल किरण बेदी द्वारा ज़ारी किया गया फ़रमान निहायत बेतुका लगा। उन्होंने ऐसा पहली बार नहीं किया, बल्कि उनकी ज़ुबान इससे पहले भी कई बार फिसल चुकी है। गत विधानसभा चुनावों में दिल्ली के किसी हल्के से चुनाव लड़ते हुये उन्होंने स्वयं को दिल्ली का भावी मुख्यमंत्री ही मान लिया था। हालांकि वह चुनाव हार गयीं थीं। नवीनतम जानकारी के अनुसार बेदी ने अपना विवादित बयान बिना शर्त वापस ले लिया है।

जानकारियों के क्रम में आगे घर के बड़े-बुजुर्गों द्वारा अक़सर रात के खाने में खट्टी चीजें खाने से मना करने के पीछे छुपे कारण की चर्चा काफी महत्वपूर्ण लगी। वास्तव में, इस तरह के भोजन में मौज़ूद अम्लीय तत्व खाने से किसी को भी गैस की समस्या हो सकती है। आयुर्वेद में वर्णित वात, पित्त और कफ आदि तीन दोषों में अच्छा संतुलन होना जरूरी होता है। इस परिप्रेक्ष्य में आयुर्वेदाचार्य डॉ. धन्वन्तरि त्यागी की सलाह भी दुरुस्त लगी।

कार्यक्रम में शांगहाई में रहने वाले और एक जर्मन अंतराष्ट्रीय ऑटोमोटिव कम्पनी में उपाध्यक्ष पद पर कार्य करने वाले भारतीय आशीष गोरे से की गयी बातचीत बहुत ही सार्थक लगी। उन्होंने चीन के द्रुत विकास एवं चीन-भारत के बीच रिश्तों पर ईमानदारी से बात की। मुझे उनके द्वारा डॉक्टर कोटनिस की सेवाओं के साथ चीन-भारत के बीच सह-अस्तित्वपूर्ण सम्बन्धों का ज़िक्र किया जाना बहुत अच्छा लगा। चीनी लोगों में विदेशियों के प्रति स्वीकार्यता की भावना की चर्चा के अलावा मुझे उनका प्रांजल हिन्दी ज्ञान भी अभिभूत कर गया। सच कहूँ, तो ऐसे सधे हुये लोग कम ही मिलते हैं। मैं उनके उज्जवल भविष्य की कामना करता हूँ।

कार्यक्रम में पेश श्रोताओं की प्रतिक्रिया और तीनों ज़ोक्स भी काफी उम्दा लगे। धन्यवाद फिर एक शानदार प्रस्तुति के लिये।


वहीं मुर्शिदाबाद पश्चिम बंगाल से शिवेन्दु पाल लिखते हैं कि चाइना रेडियो इंटरनेशनल के सोवि कोलाकुशोली और श्रोताबंधू को सी आर आई लिस्नर्स क्लब ऑफ इन्डिया -मिताली लिस्नर्स क्लब की तरफ़ से प्यार भरा नमस्कार। मैं हिंदी सेवा चाइना रेडियो इंटरनेशनल की एक नियमित श्रोता हूँ। ३ मई टी टाइम कार्यक्रम बहुत अच्छा था। बहुत सारी अच्छी और रोमांचक जानकारी मिली।

भारत में स्वच्छता अभियान कार्यक्रम चल रहा है। ये बहुत ही सुंदर कार्यक्रम है। घर को स्वच्छ रखना जैसा मेरा कर्तव्य है, देश को स्वच्छ बनाना भी मेरा काम है. लेकिन ये काम हर भारतीय को अपने अंदर से कर पाएंगे , देश प्रेम है तो कर सकते हैं , उपनी इच्छा से होगा। प्यार से होगा. कोई फरमान और आदेश से ये काम होना बोहुत मुश्किल है।

मेरा एक प्रश्न है – चीन को स्वच्छ बनाने के लिए ऐसा कोई अभीयान और प्रोग्राम चीन सरकार ने शुरु किय है ?  

स्वास्थ्य संबंधित जानकारी, श्रोता का पत्र तिप्पोनी , जोक्स,  अच्छे अच्छे गानों के साथ टी टाइम कार्यक्रम बहुत अच्छा था।

अगला पत्र आया है, मुक्तसर पंजाब से गुरमीत सिंह का। लिखते हैं कि सबसे पहले सी आर आई हिन्दी की सारी टीम को प्यार भरा नमस्कार। सत्य श्री अकाल। 3 मई का टी टाइम प्रोग्राम पसंद आया। इसमें अशीष गोरे के साथ की गई बातचीत बहुत पसंद आई। यह सच है कि सभी देशों के लोग़ एक दूसरे से मिलना चाहते हैं और एक दूसरे को समझना चाहते हैं। लेकिन बीच में सरहदें (सीमाएं) आ जाती हैं।इसके अलावा अशीष जी की बातों से हमें महसूस हुआ कि चीन के लोग़ भारत में बहुत दिलचसपी रख़ते हैं।

इसके आगे यह सुनकर बहुत बढ़िया लगा कि प्रधान मंत्री जी के द्वारा चलाई गई सफाई मुहिम को किरन बेदी जी आगे बढ़ा रहीं हैं।

किरन बेदी के साथ साथ और जो भी लोग़ इस मुहिम को आग़े बढ़ा रहे हैं वह सभी ईनाम के हकदार हैं।आगे रात को खट्टा भोजन करने से शरीर को होने वाले नुकसानों के बारे में दी गई जानकारी बढ़िया लगी। सर। मैंने तो उस दिन से ही रात को खट्टा भोजन करना छोड़ दिया है। इस जानकारी के लिए आपका धन्यवाद।

बाकी प्रोग्राम में सुनाए गए जोक्स ख़ासकर सेल्स मैन वाला जोक सुनकर बहुत हंसी आई। बढ़िया प्रोग्राम पेश करने के लिए आपका एक बार फ़िर धन्यवाद। मेहरबानी।


अब बारी है अगले पत्र की। जिसे भेजा है, सऊदी अरब से सादिक आज़मी ने। लिखते हैं कि नमस्कार कार्यक्रम " टी टाइम " का नया 3 मई का अंक सुनने का अवसर मिला जिसमें जर्मन कम्पनी के उपाध्यक्ष आशीष गोरे जी के विचारों अनुभवों को जानने और सुनने का अवसर मिला , उन्होंने अपना दृष्टिकोण खुले मन से रखा जिससे स्पष्ट होता है कि भारत और चीन के परस्पर संबंधों के सुधार के कई विकल्प आज भी मौजूद हैं। चीन के विकास पर उनकी प्रतिक्रया भी सटीक लगी,  एक शब्द मुझे विशेष तौर पर प्रभावित करता है जो उन्होंने बताया यानी चीनी जनता की कर्मठता और कार्य के प्रति समर्पण, सच है विकास की मंज़िल संयुक्त रूप से कठिन परिश्रम से ही मिलती है जाति और भेदभाव से ऊपर उठ कर,  

सफाई अभियान में किरण बेदी के नए फ़रमान की कामयाबी की हम भी कामना करते हैं। रात में खट्टे भोजन के हानिकारक तथ्यों को उजागर किया जाना अच्छा और लाभदायक प्रतीक हुआ,  श्रोताओं की प्रक्रियाओं को स्थान दिया जाना उम्दा लगा और आजके जोक्स मध्यम दर्जे के थे कुल मिलाकर अच्छी प्रस्तुति रही, धन्यवाद स्वीकार करें, 


अब लीजिए पेश है प्रोग्राम का आखिरी खत। जिसे भेजा है, बेहाला कोलकाता से प्रियंजीत कुमार घोषाल ने। लिखते हैं, पिछले टी टाइम कार्यक्रम में शांगहाई में रहने वाले जर्मनी की बहुराष्ट्रीय कंपनी में कार्यरत आशीष गोरे के साथ बातचीत, पॉन्डीचेरी की उपराज्यपाल किरन बेदी जी के नये फरमान के बारे में चर्चा सुनी।

हेल्थ टिप्स में रात के खाने में खट्टी चीज़ खाने से गड़बड़ी, चुटकुले में सेल्समैन अदी के बारे में चर्चा और श्रोता की टिप्पणी में मेरा पत्र शामिल करने के लिये धन्यवाद।

इसी के साथ आज के प्रोग्राम में श्रोताओं की टिप्पणी यहीं संपन्न होती है। अब समय हो गया है जोक्स का

पहला जोक 

साइकिल वाले ने एक आदमी को टक्कर मार दी और बोला भाईसाहब आप बहुत किस्मत वाले हो   

आदमी : एक तो तूने मुझे टक्कर मारी और ऊपर से मुझे किस्मत वाला कह रहे हो  ?

साइकिल वाला : आज छुट्टी है तो साइकिल चला रहा हूँ नहीं तो मैं ट्रक चलाता हूँ

दूसरा जोक

दुकानदार : बताइए जनाब क्या चाहिए ?

राहुल: अपने होने वाली बीवी के कुत्ते के लिए केक चाहिए

दुकानदार : यहीं खाओगे या पैक कर दूँ

तीसरा जोक..

संजू ने कल अपनी छोटी सी मासूम भतीजी से पूछा, बताओ बिल्ली पूँछ क्यों हिलाती है ?

भतीजी : क्योंकि पूँछ उसकी है वो जो मर्जी करे

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories