20180915

2018-09-17 16:17:12
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

15 सितंबर 2018 आपकी पसंद 

पंकज -  नमस्कार मित्रों आपके पसंदीदा कार्यक्रम आपकी पसंद में मैं पंकज श्रीवास्तव आप सभी का स्वागत करता हूं, हर बार की तरह आज के कार्यक्रम में भी हम आपको देने जा रहे हैं आश्चर्यजनक, ज्ञानवर्धक और हैतरअंगेज़ जानकारियां, साथ में आपको सुनवाएंगे आपकी पसंद के फिल्मी गाने तो शुरु करते हैं आपकी पसंद। 

अंजली श्रोताओं को अंजली का भी प्यार भरा नमस्कार, श्रोताओं हम आपसे हर सप्ताह मिलते हैं आपसे बातें करते हैं आपको ढेर सारी जानकारियां देते हैं साथ ही हम आपको सुनवाते हैं आपके मन पसंद फिल्मी गाने तो आज का कार्यक्रम शुरु करते हैं और सुनवाते हैं आपको ये गाना जिसके लिये हमें फरमाईशी पत्र लिख भेजा है, पोस्ट गोराडीह, ज़िला भागलपुर बिहार से डॉक्टर हेमंत कुमार, जीवेश नंदन और नीलेश नंदन ने आप सभी ने सुनना चाहा है आशिकी 2 (2013) का गाना जिसे गाया है अंकित तिवारी ने गीतकार हैं संदीप नाथ और संगीत दिया है अंकित तिवारी ने गीत के बोल हैं -----

सांग नंबर 1. सुन रहा है  .... 

पंकज - AI की मदद से वैज्ञानिकों ने पकड़ी दूसरी दुनिया से आती रेडियो तरंगें 

धरती से दूर ब्रह्मांड के रहस्यों को जानने में इंसानों की हमेशा से दिलचस्पी रही है। ऐसी ही खोज के लिए 10 करोड़ डॉलर की लागत से चलाए जा रहे खगोलीय कार्यक्रम 'ब्रेकथ्रू लिसन' को एक बड़ी सफलता मिली है। वैज्ञानिकों को बाहरी दुनिया से आती तरंगें मिली हैं। रिसर्चरों का कहना है कि तरंगें जिस सॉर्स से आ रही हैं, वहां जीवन की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है। सोमवार देर शाम की गई घोषणा के मुताबिक आर्टिफिशल इंटेलिजेंस(AI) की मदद से वैज्ञानिकों ने 72 नए फास्ट रेडियो विस्फोट (FRBs) का पता लगाया है, जो FRB-121102 से आ रहे हैं। आपको बता दें कि हमारी आकाशगंगा 'मिल्की वे' से यह गैलक्सी करीब 3 अरब प्रकाश वर्ष दूर है। 

अंजली – श्रोता मित्रों अभी हम कार्यक्रम में लेंगे एक छोटा सा संगीत विराम उसके बाद हम जानकारियों का सिलसिला आगे बढ़ाएंगे। मुझे लगता है कि इतनी भारी भरकम जानकारी के दौरान हमें अपने दिमाग को थोड़ा बहुत हल्का करने के लिये गीत-संगीत का सहारा लेना चाहिए, तोम मैं उठा रही हूं कार्यक्रम का अगला पत्र जो हमें लिख भेजा है असालतपुरा, मुरादाबाद से मोहम्मद फरीद अंसारी, मोहम्मद बिलाल अंसारी, मोहम्मद जुबैर अंसारी इनके साथ करूला मुरादाबाद से हमें लिखा है मेराज अंसारी और कासिम अंसारी ने आप सभी ने सुनना चाहा है फिल्म वो कौन थी (1964) का गाना जिसे गाया है लता मंगेशकर ने गीतकार हैं राजा मेहंदी अली खान और संगीत दिया है मदन मोहन ने और गीत के बोल हैं ----- 

सांग नंबर .2 लग जा गले से ....

पंकज -  खोज का भारत से कनेक्शन 
आपको बता दें कि FRB-121102 की पहचान को लेकर पहली घोषणा पिछले साल हुई थी और इस खोज का श्रेय यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफॉर्निया, बर्कले के पोस्टडॉक्टरल रिसर्चर डॉ. विशाल गज्जर को जाता है। डॉ. विशाल मूल रूप से गुजरात से ताल्लुक रखते हैं। फास्ट रेडियो बर्स्ट या FRBs दरअसल, बेहद संक्षिप्त अवधि की (महज मिलीसेकंड्स में) दूर आकाशगंगाओं से आती रेडियो तरंगे होती हैं। इसे पहली बार ऑस्ट्रेलिया में पार्क्स टेलिस्कोप से पकड़ा गया था। इसके बाद दुनियाभर में कई रेडियो टेलिस्कोप के जरिए FRBs को पहचाना गया।

अंजली – श्रोता मित्रों आजकल हमें आपके पत्र इंटरनेट के माध्यम से भी भारी तादाद में मिल रहे हैं। इससे पता चलता है कि आपकी पसंद आप लोगों में कितना पसंद किया जा रहा है। इसी के साथ मैं उठा रही हूं कार्यक्रम का अगला पत्र जो हमें लिख भेजा है  राम लीला मैदान, सचेंडी से बाबा शिवानंद त्रिपाठी, शशि त्रिपाठी, मनू, तनू, सोनू, आलोक, शिवांश और रामानंद त्रिपाठी आप सभी ने सुनना चाहा है फिल्म रिक्शावाला (1972) का गाना जिसे गाया है किशोर कुमार और आशा भोंसले ने गीतकार हैं आनंद बख्शी और संगीत दिया है राहुल देव बर्मन ने गीत के बोल हैं --------

सांग नंबर 3. फूलों की दुनिया से ...

पंकज - सोमवार को ब्रेकथ्रू लिसन की ओर से बताया गया, 'एक विस्फोट (तरंगों के रिलीज) के दौरान ज्यादातर FRBs की पहचान की गई। इसके विपरीत FRB-121102 ही अकेली ऐसी गैलक्सी है जहां से लगातार तरंगें निकल रही हैं। 2017 में ब्रेकथ्रू लिसन की निगरानी के दौरान वेस्ट वर्जिनिया में ग्रीन बैंक टेलिस्कोप (GBT) की मदद से कुल 21 बर्स्ट की पहचान की जा सकी थी।

अंजली – श्रोता मित्रों कार्यक्रम में अगला पत्र आया है राजीव रंजन जी और इनके ढेर सारे मित्रों का आप सभी ने हमें पत्र लिखा है सूर्य नगर, पोस्ट जीवधारा, पूर्वी चंपारन, बिहार से आप सभी ने सुनना चाहा है फिल्म हम किसी से कम नहीं (1977) का गाना जिसे गाया है किशोर कुमार ने गीतकार हैं मजरूह सुल्तानपुरी और संगीत दिया है राहुल देव बर्मन ने गीत के  बोल हैं -------
सांग नंबर 4. आ दिल क्या महफिल है तेरे .....

पंकज -  ब्रेकथ्रू इनिशटिव के कार्यकारी निदेशक पीट वॉर्डन ने कहा कि ताजा निगरानी से ही सभी खोज नहीं हुई है। नए केस को शामिल कर मौजूदा डेटाबेस अपडेट किया गया है। उन्होंने कहा, 'स्पेस की सबसे अबूझ पहेलियों में से एक के बारे में हमारे ज्ञान में बढ़ोतरी हुई है।' पिछले साल डॉ. विशाल के नेतृत्व में 5 घंटे लंबी निगरानी और विश्लेषण के बाद FRB-121102 का पता लगाया गया था। लिसन साइंस की टीम ने अब एक नया, पावरफुल मशीन लर्निंग एल्गोरिदम भी विकसित कर लिया है जिसने दोबारा 2017 के डेटाबेस का विश्लेषण किया है, जिससे 72 नए FRBs का पता चला।

अंजली – मित्रों हमारे अगले श्रोता हैं प्रियदर्शनी श्रोता संघ बहादुरपुर, रथ चौक, ज़िला जलगांव से संतोष कुमार सोनार, नरेन्द्र दंडगह्वाल, रविन्द्र सोनार, सन्नी, मुन्ना, बंडूदादा और इनके परिजन आप सभी ने सुनना चाहा है फिल्म हमशक्ल (1974) का गाना जिसे गाया है किशोर कुमार और आशा भोंसले ने गीतकार हैं आनंद बख्शी और संगीत दिया है राहुल देव बर्मन ने गीत के बोल हैं -----

सांग नंबर 5. हम तुम गुमसुम रात मिलन की .... 

पंकज -  वैज्ञानिकों का कहना है कि नए FRBs का पता चलने से यह समझने में मदद मिलेगी कि ये रहस्यमय स्रोत कितने पावरफुल हैं। एल्गोरिदम विकसित करनेवाले रिसर्च स्टूडेंट गेरी झांग ने कहा कि रेडियो ट्रांजिएंट का पता लगाने के लिए इन तरीकों का इस्तेमाल करने की यह तो शुरुआत है। उम्मीद जताई जा रही है कि आगे चलकर ऐसे सिग्नल भी पकड़े जा सकेंगे जो क्लासिकल एल्गोरिदम से छूट जाते थे। FRBs को समझने के साथ ही ब्रेकथ्रू लिसन हमारे चारों ओर फैले विशाल ब्रह्मांड को समझने का दायरा भी बढ़ा रहा है। 

अंजली – कार्यक्रम में हमारे अगले श्रोता हैं जुगसलाई टाटानगर से इंद्रपाल सिंह भाटिया, इंद्रजीत कौर भाटिया, साबो भाटिया, सिमरन भाटिया, सोनक भाटिया, मनजीत भाटिया, बंटी भाटिया, जानी भाटिया, लाडो भाटिया, मोनी भाटिया, रश्मि भाटिया और पाले भाटिया आप सभी ने सुनना चाहा है फिल्म हम सब उस्ताद हैं (1965) का गाना जिसे गाया है किशोर कुमार ने गीतकार हैं असद भोपाली और संगीत दिया है लक्ष्मीकांत प्यारेलाल ने गीत के बोल हैं --------

सांग नंबर 6. सुनो जाना सुनो जाना .... 

पंकज तो मित्रों इसी के साथ हमें आज का कार्यक्रम समाप्त करने की आज्ञा दीजिये अगले सप्ताह आज ही के दिन और समय पर हम एक बार फिर आपके सामने लेकर आएंगे कुछ नई और रोचक जानकारियां साथ में आपको सुनवाएँगे आपकी पसंद के फिल्मी गीत तबतक के लिये नमस्कार।

अंजली - नमस्कार। 

 

 

 

 

 

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories