20170909

2017-09-11 10:06:41
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

 

पंकज -  नमस्कार मित्रों आपके पसंदीदा कार्यक्रम आपकी पसंद में मैं पंकज श्रीवास्तव आप सभी का स्वागत करता हूं, आज के कार्यक्रम में भी हम आपको देने जा रहे हैं कुछ रोचक आश्चर्यजनक और ज्ञानवर्धक जानकारियां, तो आज के आपकी पसंद कार्यक्रम की शुरुआत करते हैं।

 

अंजली श्रोताओं को अंजली का भी प्यार भरा नमस्कार, श्रोताओं हम आपसे हर सप्ताह मिलते हैं आपसे बातें करते हैं आपको ढेर सारी जानकारियां देते हैं साथ ही हम आपको सुनवाते हैं आपके मन पसंद फिल्मी गाने तो आज का कार्यक्रम शुरु करते हैं और सुनवाते हैं आपको ये गाना जिसके लिये हमें फरमाईशी पत्र लिख भेजा है, युनिवर्स यूथ क्लब, बाजितपुर चंग्वारा, पोस्ट लहदो, दरभंगा, बिहार से शंकर प्रसाद शंभू, अजित कुमार आलोक, अर्चना आलोक, अल्पना आलोक, कल्पना आलोक, शिव शंकर मंडल, मनीष कुमार मुखिया, आप सभी ने सुनना चाहा है फिल्म अधूरा आदमी (1982) का गाना जिसे गाया है लता मंगेशकर ने गीतकार हैं योगेश और संगीत दिया है राहुल देव बर्मन ने, गीत के बोल हैं -----

 

सांग नंबर 1. तुमसे ही तो शुरु है .....  

 

पंकज -   ब्राउन अंडों और सफेद अंडों में फर्क जानिये

बात हेल्थी होने की हो तो, ब्राउन हमेशा ही सफेद से आगे होता है। फिर चाहे ब्राउन ब्रेड हो, ब्राउन राइस हो या ब्राउन एग्स...ये सब सफेद से ज्यादा हेल्थी होते हैं। बात केवल अंडों की करें तो, कई लोगों को ब्राउन अंडे पसंद होते हैं तो कई लोग सफेद अंडे ही लेना पसंद करते हैं। अलग-अलग लोगों के लिए इस पसंद की वजह अलग-अलग हो सकती है। किसी को इसके न्यूट्रिशनल वैल्यू की वजह से ये ज्यादा पसंद होता है तो किसी को स्वाद की वजह से। क्या आपको पता है कि ब्राउन अंडे किन किन वजह से सफेद अंडे से अलग होते हैं... ब्राउन अंडे का योक (पीला भाग) सफेद अंडों से ज्यादा गहरे रंग का होता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि ब्राउन हेन्स ज्यादा मक्का खाती हैं। ब्राउन अंडे देने वाली मुर्गियां साधारण मुर्गी से ज्यादा खाना खाती हैं। 

अंजली – मित्रों इस समय हम खाने पीने की बातों से थोड़ा सा अपना ध्यान हटाकर गाने पर लगाएंगे और आपकी पसंद का अगला गाना सुनवाएंगे जिसके लिये हमें फरमाईशी पत्र लिख भेजा है बुद्ध रेडियो संघ, अंबेडकर कॉलोनी, पोस्ट - उमरी, ज़िला भिंड, मध्यप्रदेश से अनामदर्शी मसीह, सिद्धार्थ, राजकुमारी, एंजेल और इनके परिजनों ने इनके साथ ही हमें पत्र लिखा है सैदापुर, अमेठी उत्तर प्रदेश से अनिल द्विवेदी, मधु, स्वीटी, ब्यूटी, उत्कर्ष और उत्सव ने आप सभी ने सुनना चाहा है एक मुट्ठी आसमान (1973) फिल्म का गाना जिसे गाया है वाणी जयराम और किशोर कुमार ने गीतकार हैं इंदेवर और संगीत दिया है मदनमोहन ने गीत के बोल हैं ----

सांग नंबर 2. प्यार कभी कम ना करना सनम .... 

पंकज -  इनके देखभाल में भी ज्यादा खर्च आता है। इसलिए ब्राउन अंडे भी सफेद अंडों से महंगे बेचे जाते हैं। साधारण मुर्गियों की ब्रीडिंग और पालन में खर्च कम आता है, इसलिए लोग इन्हें ज्यादा संख्या में पाला जाता है. यही कारण है कि बाजार में सफेद अंडे ब्राउन अंडों के मुकाबले काफी ज्यादा मिलते हैं. पोषक तत्वों के मामले में ब्राउन अंडे सफेद से बेहतर विकल्प हैं, क्योंकि इनमें सफेद अंडों से ज्यादा ओमेगा फैटी ऐसिड होता है. 

अंजली – श्रोता मित्रों पंकज आपको अब अगली खबर की तरफ़ ले चलें उससे पहले मैं आपको अपकी ही पसंद का अगला गीत सुनवा देती हूं जिसके लिये हमें पत्र लिखा है ग्राम महेशपुर खेम, ज़िला मुरादाबाद, उत्तर प्रदेश से तौफ़ीक अहमद सिद्दीकी, अतीक अहमद सिद्दीकी, मोहम्मद दानिश सिद्दीकी और इनके परिजनों ने आप सभी ने सुनना चाहा है फिल्म राखी और हथकड़ी (1972) का गाना जिसे गाया है आशा भोंसले और किशोर कुमार ने गीतकार हैं मजरूह सुल्तानपुरी और संगीत दिया है राहुलदेव बर्मन ने गीत के बोल हैं ----- 

सांग नंबर 3. अच्छी नहीं सनम दिल्लगी दिले बेकरार से .... 

पंकज -  अब हाथों से नहीं दिमाग से टाइप कर सकेंगे आप 

तकनीक की दुनिया में ऐसे-ऐसे अविष्कार हो रहे हैं कि जिनकी कुछ साल पहले तक आम इंसान ने कल्पना भी नहीं की थी। अब चीन की सिंघुआ यूनिवर्सिटी में में ऐसी तकनीक विकसित की गई है जिसकी मदद से आपको कीबोर्ड पर टाइप करने के लिए हाथों की जरूरत ही नहीं पड़ेगी।

चीन की न्यूज एजेंसी पीपल्स डेली ने फेसबुक पर एक विडियो के जरिये इसकी जानकारी दी है जिसे फेसबुक पर काफी अच्छा रिस्पॉन्स मिल रहा है। इस विडियो में बताया गया है कि सिर पर एक टोपीनुमा डिवाइस पहनकर आप बस सोचकर ही टाइप कर सकेंगे। 

अंजली – चलिये इसी बहाने हमें अपनी उंगलियों को आराम देने का मौका तो मिलेगा .... दिनों दिन तकनीक नए आयाम स्थापित कर रही है. हमारे अगले श्रोता हैं बाबू रेडियो श्रोता संघ, आबगिला, गया से मोहम्मद जावेद खान, ज़रीना खानम, मोहम्मद जामिल खान, रजडिया खानम, शाहिना परवीन, खाकशान जाबीन, बाबू टिंकू, जे के खान, बाबू, लड्डू, तौफ़ीक उमर खान आप सभी ने सुनना चाहा है फिल्म जैसे को तैसा (1973) का गाना जिसे गाया है किशोर कुमार और लता मंगेशकर ने संगीत दिया है राहुल देव बर्मन ने और गीत के बोल हैं ---- 

सांग नंबर 4.  अब के सावन में जी जले .... 

पंकज -  इस टोपीनुमा डिवाइस का नाम स्टेडी-स्टेट विजुअल इवोक्ड पोटेन्शल (SSEVP) सिस्टम है।इस डिवाइस के कनेक्ट करके जब व्यक्ति वर्चुअल कीबोर्ड पर फोकस करेगा तो यह सिस्टम मस्तिष्क से निकलने वाली तरंगों को शब्दों में ट्रांसलेट कर देगा। और इस तरह कीबोर्ड को हाथ लगाए बगैर आप वह सब लिख पाएंगे जो आप सोच रहे हैं। इस तकनीक का उपयोग मेडिकल रिहैब, गेमिंग और नेविगेशन आदि क्षेत्रों में किया जा सकता है। देखिए विडियो: 

NASA की मंगल पर ऑक्सिजन बनाने की योजना 

अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा (नैशनल एरनॉटिक्स स्पेस ऐडिमिनिस्ट्रेशन) मंगल ग्रह के वातावरण में ऑक्सिजन बनाने की योजना बना रहा है। इसके लिए साल 2020 में 'रोवर' नाम के मिशन के तहत वैज्ञानिक मंगल पर सूक्ष्मजीव भेजेंगे। उसका इरादा साल 2020 में मंगल पर अपना अगला रोबॉट उतारने का है। 

अंजली -  मित्रों हमारे अगले श्रोता हैं मनकारा मंदिर, बीडीए कॉलोनी, करगैना, बरेली उत्तर प्रदेश से पन्नीलाल सागर, बेनी सिंह मासूम, धर्मवीर मनमौजी, ममता चौधरी, आशीष कुमार सागर, कुमारी रूबी भारती, अमर सिंह, कुमारी एकता भारती, कुमारी दिव्या भारती, श्रीमती ओमवती भारती और बहिन रामकली देवी, आप सभी ने सुनना चाहा है फिल्म समाधी (1972) का गाना जिसे गाया है लता मंगेशकर ने, गीतकार हैं मजरूह सुल्तानपुरी, संगीत दिया है राहुलदेव बर्मन ने और गीत के बोल हैं ------ 

सांग नंबर 5. बंगले के पीछे ....

पंकज -  शोधकर्ताओं को उम्मीद है कि मंगल पर कुछ खाने के बाद सूक्ष्मजीव ऑक्सिजन निकालेंगे। अगर यह प्रयोग कामयाब होता है तो भविष्य में मंगल पर इंसानों के बसने की कल्पना को सच करने की कोशिशों की तरफ यह बड़ा कदम होगा। इस समय मंगल पर ऑक्सिजन की मात्रा केवल 0.13 प्रतिशत है, जबकि कार्बन डाइऑक्साइड 95 प्रतिशत है। इसके अलावा नाइट्रोजन और आरगॉन भी निम्न मात्रा में मौजदू हैं। इसकी तुलना में पृथ्वी के वातावरण में 78 प्रतिशत नाइट्रोजन और 21 प्रतिशत ऑक्सिजन मौजूद है। साथ ही अन्य मूलतत्व भी यहां मिलते हैं।नासा के मुख्य कार्यकारी प्रबंधक रॉबर्ट लाइटफूट ने बताया, 'मार्स 2020 मिशन के तहत एक प्रयोग जरिए हम मंगल पर ऑक्सिजन जनरेट करने की कोशिश करने जा रहे हैं।' नासा की योजना मार्स के आसपास एक चुंबकीय ढाल और एक न्यूक्लियर रिऐक्टर बनाने की भी है। 

अंजली – ये पत्र हमें लिखा है दरवेश बाग, बारामूला, कश्मीर से तौसीफ़ शोकी, छोटी, गुड्डी, सजा बानो और मोहम्मद अकबर ने आप सभी ने सुनना चाहा है कुदरत (1981) फिल्म का गानी जिसे गाया है किशोर कुमार और एनेटे पिंटो ने, गीतकार हैं मजरूह सुल्तानपुरी, और संगीत दिया है राहुलदेव बर्मन ने गीत के बोल हैं ---- 

सांग नंबर 6.  छोड़ो सनम काहे का गम .....   

पंकज तो मित्रों इसी के साथ हमें आज का कार्यक्रम समाप्त करने की आज्ञा दीजिये अगले सप्ताह आज ही के दिन और समय पर हम एक बार फिर आपके सामने लेकर आएंगे कुछ नई और रोचक जानकारियां साथ में आपको सुनवाएँगे आपकी पसंद के फिल्मी गीत तबतक के लिये नमस्कार।

अंजली - नमस्कार।  

 

 

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories