टिपण्णीः चीन देश के सुधार और खुलेपन के साक्षी, भागीदारी के लिए विदेशी लोगों को नहीं भूलता

1978 में चीन में सुधार और खुलेपन की नीति लागू होने लगी। इसने न सिर्फ चीन को बदला है, बल्कि विश्व पर भी इसका असर पड़ा है। पिछले 40 सालों की विकास उपलब्धियों की स्मृति में चीन, चीन की मदद करने वाले विदेशी लोगों को कभी नहीं भूलता है।

टिप्पणी:चीन का सुधार और खुलापन बड़ा चमत्कार दिखाएगा

चीन का चमत्कार, मानव के विकास के इतिहास में एक उल्लेखनीय सफलता ...... ये सभी चीन के सुधार और खुलेपन के प्रति अंतर्राष्ट्रीय समुदाय का मूल्यांकन ही है। 

टिप्पणीः तीन दृष्टिकोणों से चीन को देखें

इस साल चीन में सुधार व खुलेपन की नीति लागू होने की 40वीं वर्षगांठ है।

टिप्पणी:वर्ष 2019 में चीनी अर्थव्यवस्था से संबंधित तीन अहम शब्द

चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की केंद्रीय कमेटी के पोलिट ब्यूरो ने 13 दिसंबर को पेइचिंग में बैठक बुलाकर वर्ष 2019 में चीन के आर्थिक कार्यों पर विचार विमर्श किया। बैठक में प्रस्तुत तीन अहम शब्दों पर लोगों का ध्यान आकर्षित है।

टिप्पणीः पूरी दुनिया कनाडा को देख रही है

स्थानीय समयानुसार 11 दिसम्बर को कनाडा के ब्रिटिश कोलम्बिया की उच्च स्तरीय अदालत ने चीनी ह्वावेई कंपनी की सीएफओ मंग वानचो की जमानत याचिका पर तीसरी सुनवाई की। 

टिप्पणी:चीन में मानवाधिकार के विकास में नवाचार के चलते वास्तविक कार्यवाही भी है

चीनी राज्य परिषद ने 12 दिसंबर को "रुपांतर और खुलेपन के 40 वर्षों में चीन में मानवाधिकारों के विकास और प्रगति" शीर्षक श्वेत पत्र जारी किया, जिसमें इतिहास और तथ्यों से बीते चालीस सालों में चीन में मानवाधिकार कार्यों के विकास का सिंहावलोकन किया गया है।

टिप्पणी:कनाडा "राजनीतिक अपहरण" का पाईनीयर बना है

चीन के उप विदेश मंत्री ल यू छंग ने 8 दिसंबर को चीन स्थित कनाडा के राजदूत जॉन मैककैलम को बुलाकर कनाडा द्वारा ह्वावेई कंपनी की जिम्मेदार अफसर को गिरफ्तार करने का दृढ़ता से विरोध प्रकट किया।  

टिप्पणी:कनाडा किसी का रक्षक बना रहता है?

अमेरिका की मांग पर कनाडा ने 1 दिसंबर को चीन की मशहूर निजी कंपनी ह्वावेई की सीएफओ मंग वान चौ को गिरफ्तार कर लिया। 6 दिसंबर को वैंकूवर कोर्ट में मंग वान चौ की जमानत पर सुनवाई हुई, लेकिन पाँच घंटों तक चली सुनवाई में कोई फैसला नहीं लिया गया।

टिप्पणीः चीनी बौद्धिक संपदा अधिकार सुरक्षा में और एक मील का पत्थर

3 दिसंबर को चीन के प्रमुख न्यायाधीश और सर्वोच्च जन न्यायालय के अध्यक्ष चो छांग ने एक महत्वपूर्ण बैठक बुलायी ,जिसमें सर्वोच्च जन न्यायालय के बौद्धिक संपदा अधिकार सुरक्षा अदालत से जुड़ी कुछ समस्याओं के प्रति कायदों पर विचार विमर्श कर उनको पारित किया गया।

टिप्पणीः बहुध्रुवीय विश्व के लिए पारस्परिक लाभ और समान जीत की खिड़की खोली गयी

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 6 दिसंबर को यूरोप और लैटिन अमेरिका के चार देशों की राजकीय यात्रा करने और जी-20 शिखर बैठक में भाग लेने के बाद पेइचिंग लौटे।

टिप्पणीः चीन पुर्तगाल संबंध का नया अध्याय जोड़ा जा रहा है

पुर्तगाल के राष्ट्रपति मार्सेलो रिबेलो सोसा के निमंत्रण पर चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग पुर्तगाल की राजकीय यात्रा कर रहे हैं। चीन पुर्तगाल राजनयिक संबंधों की स्थापना की 40वीं वर्षगांठ में चीन पुर्तगाल संबंध का नया अध्याय जोड़ा जा रहा है।

टिप्पणी:नहर -भावना के पीछे चीन पनामा संबंध

एक दूसरे से हजारों किलोमीटर दूर, लेकिन एक नहर से जुड़ा है। ये सौ वर्षो में चीन पनामा संबंधों का प्रतिबिंब है। वर्ष 2017 में चीन और पनामा के बीच औपचारिक राजनयिक संबंध स्थापित होने के बाद दोनों देशों के संबंधों में ऐतिहासिक बदलाव आया है।

HomePrev123456...NextEndTotal 8 pages