विश्व स्वास्थ्य महासभा ने फिर ठुकराया थाईवान से जुड़ा प्रस्ताव

2020-11-10 15:01:22
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

9 नवंबर की रात को 73वीं विश्व स्वास्थ्य महासभा वीडियो के माध्यम से आयोजित हुई। उसी दिन सामान्य मामलों की समिति और पूर्णाधिवेशन ने क्रमशः फैसला कर थाईवान से जुड़े प्रस्ताव को मानने से इनकार किया। गौरतलब है कि इस वर्ष के मई में विश्व स्वास्थ्य महासभा ने थाईवान से जुड़े प्रस्ताव की चर्चा को स्थगित किया था। इस फैसले से यह जाहिर हुआ है कि एक चीन की नीति विश्व में एक समान सहमति बन चुकी है।

विश्व में कोविड-19 महामारी के फैलने की पृष्ठभूमि में सदस्य देशों ने इस बार की महासभा में महामारी के मुकाबले में अंतर्राष्ट्रीय सहयोग पर बड़ी प्रतीक्षा जतायी। थाईवान की डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी सरकार और कुछ गिने-चुने देशों ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के नंबर 2758 प्रस्ताव और विश्व स्वास्थ्य महासभा के नंबर 25.1 प्रस्ताव का उल्लंघन किया, और अपनी इच्छा से थाईवान से जुड़ा प्रस्ताव पेश किया। जिससे उनके महासभा की प्रक्रिया को बर्बाद करने और अंतर्राष्ट्रीय सहयोग को नुकसान पहुंचाने का राजनीतिक उद्देश्य जाहिर हुआ है। अधिकांश देश दृढ़ता से एक चीन की नीति का समर्थन करते हैं। कई देशों ने विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक को पत्र भेजकर अपना निष्पक्ष रुख जताया है। विश्व स्वास्थ्य महासभा लगातार कई साल से थाईवान से जुड़े प्रस्ताव को मानने से इनकार करती रही है।

चंद्रिमा

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories